" " Live Hindi News from Haryana, Property Investment is Better: October 2013

Oct 30, 2013

एमबीए पास करता था 'बीए पास' से धोखाधड़ी 

बेरोजगार युवकों को नौकरी लगाने का झांसा देकर दूसरों के बैंक खातों से रुपए उड़ाने वाले गिरोह का सरगना खुद बिजनेस मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री धारी निकला। पहले भी जा चुका है जेल अपनी डिग्री का इस्तेमाल उसने ठगों का गिरोह खड़ा करने में लगाया। इससे पहले वह बैंक में भी नौकरी कर चुका है। हरिद्वार और देहरादून के बैंकों में चेक से रुपए निकालने में नाकाम रहे इस गिरोह के सदस्य बरेली में पकड़े गए हैं। गिरोह के सदस्यों को पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है। एक अगस्त को हरिद्वार में बैंक से धोखाधड़ी से रुपए निकालने की कोशिश की गई थी। असफल रहने पर गिरोह के लोग बरेली पहुंचे और वहां 27 अगस्त को ओबीसी, बैंक बरेली से 12 लाख रुपये निकाल लिए। पहली वारदात को अंजाम देने के बाद गिरोह ने 26 अगस्त को पीएनबी से 26 लाख निकाले। मौके से भागने में कामयाब रहा लगातार दो वारदात होने पर इंटेलीजेंस, साइबर क्राइम सेल और पुलिस की संयुक्त टीम ने सेटेलाइट बस अड्डे के पास से इस गिरोह के दो सदस्यों को धर दबोचा, लेकिन गिरोह का सरगना भागने में कामयाब रहा। पुलिस की गिरफ्त में आए नरेंद्र गंगवार निवासी वरा, थाना किच्छा ऊधमसिंह नगर और धीरज सिंह निवासी रम्पुरा, कस्बा व थाना ऊधमसिंह नगर पकड़े गए। पूछताछ में पता चला कि गिरोह का सरगना वीरेंद्र साहू निवासी ओमेक्स कालोनी पंतनगर रोड, रुद्रपुर, ऊधमसिंह नगर है, जोकि मौके से भागने में कामयाब रहा। वीरेंद्र का रिकार्ड पुलिस ने खंगाला तो पता चला कि वह वर्ष 2007 में रुद्रपुर और हरिद्वार से, वर्ष 2011 में थाना खटीमा ऊधमसिंह नगर से बैंक धोखाधड़ी में जेल जा चुका है। बैंक में कर चुका नौकरी जेल में ही उसकी अन्य बदमाशों से मुलाकात हुई और उन्हें साथ लेकर उसने अपना गिरोह खड़ा कर लिया। पुलिस छानबीन में खुलासा हुआ कि गिरोह के सरगना वीरेंद्र साहू ने लखनऊ के एक प्रसिद्ध कालेज से एमबीए की है। वह आईसीआईसीआई बैंक में नौकरी भी कर चुका है। नगर कोतवाली के एसआई एमएस रावत ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों को वारंट बी में तलब कर रिमांड पर लिया जाएगा। वहीं सरगने की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापे मार रही है।   बैंक से ऐसे करते थे ठगी एसआई एमएस रावत ने बताया कि पकड़े गए गिरोह के सदस्य शहर के बड़े कारोबारी को निशाना बनाते थे। इसके बाद उससे फर्म के नाम से डीलिंग करते थे, जिसमें कंपनी से कोटेशन कराने के नाम पर एक हजार रुपये का चेक लेते थे। उस चेक के माध्यम से एकाउंट के बारे में जानकारी प्राप्त करते थे। सीधे मैनेजर से एकाउंट नंबर बताकर उसमें जमा धनराशि के बारे में पूछते थे।फिर एकाउंट के नाम से चेक बुक जारी करने की डिमांड लगाते थे और शिकार युवक को भेजकर मैनेजर को फोन कर उसे चैक बुक देने को कहते थे। चैक बुक प्राप्त होते ही वे फर्जी साइन से बेरोजगार युवकों को चेक भुनाने बैंक में भेजते थे। उन्हें रोजगार दिलाने के नाम पर अपने जाल में फंसाया जाता था। यदि ये बेरोजगार युवक चेक भुनाने में कामयाब रहते थे तो वे बैंक के बाहर से ही धनराशि लेकर शहर छोड़ देते थे। हरिद्वार का मामला एक अगस्त को भीमगोड़ा में रोजगार देने के लिए कार्यालय खोलकर कुछ लोगों ने भर्ती शुरू की थी, जिसमें ऋषिकेश के एक बेरोजगार युवक राहुल शर्मा को उन्होंने अपने जाल में फांसकर 12.5 लाख रुपये का चेक देकर भुगतान कराने सप्तऋषि आश्रम स्थित पीएनबी की शाखा में भेजा था। इस पर बैंक अधिकारियों को शक हुआ और उन्होंने फोन करके खाताधारक से रकम निकालने की पुष्टि की तो धोखाधड़ी का पता चला। तब पता चला कि गिरोह ने धोखाधड़ी से बैंक से चेकबुक हासिल की है।

सिर में धंसे चाकू के साथ अस्पताल पहुंच गया व्यक्ति

अस्पताल के एक्स-रे रूम में हो लंग बड़े ही इत्मिनान से बैठे हुए हैं, जैसे कुछ हुआ ही ना हो लेकिन उनके सिर में 10 इंच लंबा चाकू धंसा हुआ था। अपने दोस्तों के मजाक में हुए एक हादसे में उनके सिर में फल काटने वाला चाकू धंस गया। डॉक्टरों के मुताबिक हो लंग नाम के इस शख्स ने मौत को मात ही दे दी। इस घटना के बाद पूर्वोत्तर चीन के जीलिन प्रांत में लंग पहुंचे और अस्पताल के एक स्टॉफ से कहा, क्या मैं डॉक्टर से मिल सकता हूं। स्टॉफ ने बताया कि वह इतना शांत था कि मुझे लगा कि वह कोई स्टंट कर रहा है लेकिन पास से देखने के बाद पता चला कि वह तो मौत के करीब है। एक्स रे से पता चला कि चाकू उसके बाएं सिर की ओर अंदर तक धंसा हुआ है लेकिन उससे उसके मुख्य खून की नसों को कुछ नहीं हुआ है। डॉक्टरों ने तीन घंटे ऑपरेशन करने के बाद उसके सिर से चाकू निकाला। इस ऑपरेशन के बाद लंग ने डॉक्टरों से कहा कि क्या अब मैं घर जा सकता हूं। इस घटना के बारे में जब डॉक्टरों ने उससे पूछा तो उसने पूरी जानकारी देने से मना कर दिया लेकिन इतना ही कहा कि मैं अपने दोस्त के साथ खेल रहा था और गलती से चाकू मेरे सिर में जा धंसा।

अंतिम इच्छा के लिए मां का शव घर में दफनाया 

महाराष्ट्र के नागपुर शहर में एक बेटे ने अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए मां की मृत्यु के बाद उसका शव घर के आंगन में दफना द‌िया। पुलिस के अनुसार टाकली स्थित पुलिस लाइन में रहने वाली 80 वर्षीय महिला कमल ढोले की बीते 27 अक्टूबर को बीमारी के चलते मृत्यु हो गई थी। मह‌िला ने मरने से पहले अपने बेटे सतीश ढोले के सामने अपनी अंतिम इच्छा बताई कि उसकी मृत्यु के बाद उसके शव को घर के आंगन में दफन कर अंतिम संस्कार कर देना। मां की मृत्यु के बाद बेटे सतीश ने अंतिम इच्छा पूरा करने के लिए मां के शव को घर के आंगन मे दफना दिया। इस बात की जानकारी आसपास के लोगों ने गिट्टाखदान थाना पुलिस को दी। श‌िकायत पर पुलिस ने आसपास के रहने वाले लोगों से चर्चा की। इसके बाद में पुलिस ने मृतका का शव कल जमीन से बाहर निकाला और जांच के लिए शासकीय अस्पताल भेजा। पुलिस के मुताबिक अपनी जमीन पर अंतिम संस्कार करने के लिए संबंधित विभाग से अनुमति लेना अनिवार्य है। वहीं सतीश ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा कि उसे इन नियम की जानकारी नहीं होने के कारण उसने मां का शव घर के आंगन में दफना दिया।

नौकरानी को बंद कर ऑस्ट्रेलिया भागी एयर होस्टेस 

दक्षिण दिल्ली के सरोजनी नगर में 13 वर्षीय घर में काम करने वाली लड़की को छोटी-छोटी गलतियों पर बेरहमी से पीटा जाता था। पीड़ित लड़की ने शिकायत में कहा है कि आरोपी मालकिन एयर होस्टेस (23 वर्ष) छोटी-छोटी गलती पर उसे बेल्ट से मारती थी। एयर होस्टेस का नाम थांबी है और फिलहाल वह ऑस्ट्रेलिया गई है और पुलिस उसके लौटने का इंतजार कर रही है। सरोजनी नगर थाना पुलिस ने मंगलवार को नौकरानी को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी (सीडब्ल्यूसी) में पेश किया, जहां से उसे प्रयास संस्था में भेज दिया गया। सरोजनी नगर पुलिस ने एयर होस्टेस के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। अब पुलिस आरोपी के भारत लौटने का इंतजार कर रही है। मणिपुर की रहने वाली है पीड़िता दक्षिणी जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, नाबालिग ने आरोप लगाया है कि एयर होस्टेस थांबी उसे बेल्ट से मारती थी और पूरी रात सोने नहीं देती थी। वह रात में देर से घर पहुंचती थी और फिर पूरी रात काम करवाती थी। उसने यह भी कहा कि थांबी उसे घर से बाहर घूमने के लिए नहीं जाने देती थी। वह उसे मणिपुर में परिजनों से बात भी नहीं करने देती थी। वह दो वर्ष से यहां काम कर रही है लेकिन उसे कभी पैसे भी नहीं दिए। पीड़ित लड़की ने बताया कि एयर होस्टेस करीब तीन दिन पहले घर में उसे बंद कर नौकरी पर चली गई थी। सोमवार शाम को वह किसी तरह दरवाजे पर लगा ताला तोड़कर बाहर निकली और पीसीओ बूथ से फोन कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस के अनुसार पीड़ित लड़की के हाथ और चेहरे पर चोटों के निशान हैं। हालांकि, ये काफी पुरानी हैं। एयर होस्टेस भी मणिपुर की रहने वाली है। पीड़ित लड़की की मां मणिपुर में आरोपी के घर में काम करती है। सरोजनी नगर के नेताजी नगर में एयर होस्टेस रह रही है, जो उसके किसी रिश्तेदार का मकान है। पड़ोसियों को नहीं है जानकारी पुलिस के अनुसार एयर होस्टेस द्वारा पीड़ित लड़की पर अत्याचार करने की पड़ोसियों को जानकारी नहीं है। पीड़ित लड़की को यह नहीं पता है कि थांबी क्या नौकरी करती है। पड़ोसियों से पूछने पर पता चला कि वह एयर होस्टेस है। पड़ोसी इतना जरूर बताते हैं कि वहां से चिल्लाने की आवाज सुनाई देती थी।

एमबीए पास करता था 'बीए पास' से धोखाधड़ी 

बेरोजगार युवकों को नौकरी लगाने का झांसा देकर दूसरों के बैंक खातों से रुपए उड़ाने वाले गिरोह का सरगना खुद बिजनेस मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री धारी निकला। पहले भी जा चुका है जेल अपनी डिग्री का इस्तेमाल उसने ठगों का गिरोह खड़ा करने में लगाया। इससे पहले वह बैंक में भी नौकरी कर चुका है। हरिद्वार और देहरादून के बैंकों में चेक से रुपए निकालने में नाकाम रहे इस गिरोह के सदस्य बरेली में पकड़े गए हैं। गिरोह के सदस्यों को पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है। एक अगस्त को हरिद्वार में बैंक से धोखाधड़ी से रुपए निकालने की कोशिश की गई थी। असफल रहने पर गिरोह के लोग बरेली पहुंचे और वहां 27 अगस्त को ओबीसी, बैंक बरेली से 12 लाख रुपये निकाल लिए। पहली वारदात को अंजाम देने के बाद गिरोह ने 26 अगस्त को पीएनबी से 26 लाख निकाले। मौके से भागने में कामयाब रहा लगातार दो वारदात होने पर इंटेलीजेंस, साइबर क्राइम सेल और पुलिस की संयुक्त टीम ने सेटेलाइट बस अड्डे के पास से इस गिरोह के दो सदस्यों को धर दबोचा, लेकिन गिरोह का सरगना भागने में कामयाब रहा। पुलिस की गिरफ्त में आए नरेंद्र गंगवार निवासी वरा, थाना किच्छा ऊधमसिंह नगर और धीरज सिंह निवासी रम्पुरा, कस्बा व थाना ऊधमसिंह नगर पकड़े गए। पूछताछ में पता चला कि गिरोह का सरगना वीरेंद्र साहू निवासी ओमेक्स कालोनी पंतनगर रोड, रुद्रपुर, ऊधमसिंह नगर है, जोकि मौके से भागने में कामयाब रहा। वीरेंद्र का रिकार्ड पुलिस ने खंगाला तो पता चला कि वह वर्ष 2007 में रुद्रपुर और हरिद्वार से, वर्ष 2011 में थाना खटीमा ऊधमसिंह नगर से बैंक धोखाधड़ी में जेल जा चुका है। बैंक में कर चुका नौकरी जेल में ही उसकी अन्य बदमाशों से मुलाकात हुई और उन्हें साथ लेकर उसने अपना गिरोह खड़ा कर लिया। पुलिस छानबीन में खुलासा हुआ कि गिरोह के सरगना वीरेंद्र साहू ने लखनऊ के एक प्रसिद्ध कालेज से एमबीए की है। वह आईसीआईसीआई बैंक में नौकरी भी कर चुका है। नगर कोतवाली के एसआई एमएस रावत ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों को वारंट बी में तलब कर रिमांड पर लिया जाएगा। वहीं सरगने की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापे मार रही है।   बैंक से ऐसे करते थे ठगी एसआई एमएस रावत ने बताया कि पकड़े गए गिरोह के सदस्य शहर के बड़े कारोबारी को निशाना बनाते थे। इसके बाद उससे फर्म के नाम से डीलिंग करते थे, जिसमें कंपनी से कोटेशन कराने के नाम पर एक हजार रुपये का चेक लेते थे। उस चेक के माध्यम से एकाउंट के बारे में जानकारी प्राप्त करते थे। सीधे मैनेजर से एकाउंट नंबर बताकर उसमें जमा धनराशि के बारे में पूछते थे।फिर एकाउंट के नाम से चेक बुक जारी करने की डिमांड लगाते थे और शिकार युवक को भेजकर मैनेजर को फोन कर उसे चैक बुक देने को कहते थे। चैक बुक प्राप्त होते ही वे फर्जी साइन से बेरोजगार युवकों को चेक भुनाने बैंक में भेजते थे। उन्हें रोजगार दिलाने के नाम पर अपने जाल में फंसाया जाता था। यदि ये बेरोजगार युवक चेक भुनाने में कामयाब रहते थे तो वे बैंक के बाहर से ही धनराशि लेकर शहर छोड़ देते थे। हरिद्वार का मामला एक अगस्त को भीमगोड़ा में रोजगार देने के लिए कार्यालय खोलकर कुछ लोगों ने भर्ती शुरू की थी, जिसमें ऋषिकेश के एक बेरोजगार युवक राहुल शर्मा को उन्होंने अपने जाल में फांसकर 12.5 लाख रुपये का चेक देकर भुगतान कराने सप्तऋषि आश्रम स्थित पीएनबी की शाखा में भेजा था। इस पर बैंक अधिकारियों को शक हुआ और उन्होंने फोन करके खाताधारक से रकम निकालने की पुष्टि की तो धोखाधड़ी का पता चला। तब पता चला कि गिरोह ने धोखाधड़ी से बैंक से चेकबुक हासिल की है।

OLX पर विज्ञापनः 22 साल की युवती की कीमत 2000 रुपए

सामान बेचने के लिए मंच उपलब्ध कराने वाली जानीमानी वेबसाइट ओएलएक्स का स्लोगन है 'सब कुछ बिकता है', इसे सच करने के लिए किसी ने वेबसाइट पर सेल के लिए एक लड़की का ही विज्ञापन दे दिया। टीओआई के मुताबिक वेबसाइट पर 26 अक्तूबर को किसी ने एक विज्ञापन डाला, जिसमें एक 22 साल की युवती की तस्वीर डाल उसकी कीमत 2000 रुपए रखी गई थी। साथ ही संपर्क के लिए एक फोन नंबर भी दिया गया था। विज्ञापन में लिखा था, '22 साल की लड़की-कोलकाता, मैं सोमन बरूई हूं और लड़की का एजेंट हूं। अगर आप इस लड़की में रुचि रखते हैं तो इस नंबर पर संपर्क करें। कृप्या फर्जी फोन न करें।' जब बरूई को फोन किया गया तो और भी चौंकाने वाली बात सामने आई। पहले तो बरूई बहुत गुस्सा हुए और नंबर को गलत बताया। पर जब उन्हें बताया गया कि फोन करने वाला डील में रुचि नहीं रखता तो वह शांत हुए। बरूई से किया मजाक बरूई ने बताया कि इस विज्ञापन के चलते उनके पास कई फोन आ चुके हैं जबकि उन्होंने ये विज्ञापन डाला ही नहीं। लोग उन्हें फोन कर रहे हैं और किसी लड़की के बारे में पूछ रहे हैं। पहले तो उन्हें कुछ समझ नहीं आया लेकिन जब इंटरनेट पर देखा तो पता चला की किसी ने उनके साथ मजाक किया है। बरूई ने कहा कि वह नहीं जानते कि कौन उन्हें इस मुसीबत में डालना चाहता था। उन्होंने बिजापुर पुलिस थाने में मामले की शिकायत दर्ज करा दी है। ओएलएक्स से संपर्क करने पर पता चला की उन्हें ऐसे किसी विज्ञापन की जानकारी ही नहीं है। कंपनी के कंटरी मैनेजर अमरजीत बत्रा से जब इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने पहले वेबसाइट देखी और फिर यह विज्ञापन हटवाया गया। बत्रा का कहना है कि ओएलएक्स सोशल नेटवर्किंग साइट्स की तरह ही एक फ्री पोर्टल है जिस पर बिना किसी जांच के विज्ञापन अपलोड होता है। विज्ञापन अपलोड होने के बाद ही उन पर नजर रखी जाती है। ऐसे में कई बार गलत उद्देश्यों के लिए भी इसका इस्तेमाल हो जाता है।

ये क्या! हाथ से नहीं हेलिकॉप्टर से खोल रहे बोतल का ढक्कन 

बीयर की बोतल का ढक्कन खोलने के लिए आमतौर पर ओपनर का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन चीन में हेलिकॉप्टर से बीयर की बोतल का ढक्कन खोला गया। चीन में पायलटों की एक प्रतियोगिता में यह कारनामा हुआ। इस प्रतियोगिता में हेलिकॉप्टर पर नियंत्रण और संतुलन बनाते हुए खंभे पर लगी बीयर की बोतल का ढक्कन खोलना था। चुनौती यह थी कि पायलट्स को हेलीकॉप्टर के स्किड पर लगे ओपनर से बीयर की बोतल को नुकसान पहुंचाए बिना उसका ढक्कन खोलना है। यह प्रतियोगिता तीन दिन तक चली और कई प्रतिभागियों ने अपना हुनर दिखाया। कई बार बीयर की बोतल का ढक्कन तो खुला लेकिन बोतल भी टूट गई। हेलिकॉप्‍टर टूर्नामेंट के अंतिम दिन पायलट्स को आठ मिनट के अंदर कतार में लगीं पांच बीयर की बोतलों के ढक्कन खोलने की चुनौती दी गई थी। इस प्रतियोगिता को जीतने वाले झांग झिकियांग पांच में से तीन बोतलों के ढक्कन खोलने में सफलता हासिल कर ली थी। देखें हेलिकॉप्टर टूर्नामेंट का वीडियो

Oct 29, 2013

फेसबुक वीडियो की खातिर बिल्ली की पूंछ में लगाई आग 

अमेरिका में एक औरत ने अपनी पालतू बिल्ली के पूंछ में आग लगाकर, इसकी वीडियो बनाई और इसे फेसबुक में पोस्ट कर दिया। कैलिफोर्निया की रेडलैंड्स निवासी मोनिका फेरेरी ने जब यह वीडियो फेसबुक पर Lighting Monica's cat on fire स्टेटस नाम से डाला तो उसे जल्दी ही तीन 'लाइक' मिल गए। मोनिका की एक दोस्त ने लिखा, यू ऑर ऑसम। वहीं मोनिका की दूसरी दोस्त ने इसकी आलोचना की और लिखा, फेरेरी शॉट बैक। जिसके बाद मोनिका का जवाब था, मैंने बिल्ली को आग नहीं लगाई है, केवल उसके कुछ बालों में आग लगाई है। इस घटना के बाद संबंधित अधिकारियों ने फेरेरी को गिरफ्तार कर लिया। मोनिका के पड़ोसी इस वीभत्स घटना को सुनकर सकते में हैं।‌ एनिमल कंट्रोल अधिकारी अब बिल्ली की पूरी देखभाल कर रहे हैं और उनके अनुसार वह जल्दी ही पूरी तरीके से ठीक हो जाएगी।

संत शोभन का पहला इंटरव्यू, हैरान करने वाले खुलासे

उन्नाव के किले में हजार टन सोना दबा होने का ख्वाब देखने वाले संत शोभन सरकार अब तक दुनिया की निगाह से छिपे ‌थे। लेकिन अब ऐसा नहीं है। वह कैमरे के सामने हैं और उन्होंने अपने पहले इंटरव्यू में हैरान करने वाली बातें कही हैं। इंडिया टीवी चैनल ने छिपे हुए कैमरे के सहारे उनसे बातचीत रिकॉर्ड की है। चैनल के मुताबिक शोभन सरकार न बंगले में रहते हैं, न महंगी गाड़ियों में घूमते हैं और न एयरकंडिशंड कमरे में रहते हैं। उन्हें देखकर यह अंदाजा लगाना मुश्किल है कि हजार टन सोना छिपे होने का ख्वाब उन्होंने देखा है। न सिर पर बाल, न पैरों में चप्पल औसत कद-काठी के 51 वर्षीय सरकार ‌सिर पर बाल और दाढ़ी नहीं रखते, न कभी चप्पल पहनते हैं। खजाने का ख्वाब देखने के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, "हमारे गुरु अब धर्म की स्‍थापना चाहते हैं। यह डौंडिया खेड़ा का सोना नहीं है और न ही आदमपुर का है। आप समझ रहे हैं? यह सब तप का तमाशा है। और कुछ नहीं।" बाबा साफ कह रहे हैं कि यह तमाशा है, लेकिन अपने अंदाजे पर भी अडिग हैं। उन्होंने कहा, "खजाने कभी खत्म नहीं होते... और न ही कोई उन तक पहुंच पाता है।" 'सब छिपा है धरती के नीचे' एक वक्त पर भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था, लेकिन अंग्रेज सब लूट ले गए, इस पर शोभन सरकार ने कहा, "वह कुछ नहीं ले गए। सब कुछ धरती मां की कोख में दबा है। फर्ज कीजिए कि कोई मरने से पहले जमीन में दो मटके गाड़ जाता है। उसकी आत्मा हमेशा उन्हीं मटकों के साथ रहेगी। खजाना आत्मा के साथ रहता है। उसे कोई नहीं ले सकता।" यह पूछने पर कि उन्होंने अब तक यह बात क्यों छिपाई, उन्होंने कहा, "बेटा, मैं शोहरत का भूखा नहीं कि दुनिया भर में यह सब गाता फिरूं।" 'सीएम बनेंगे चरणदास महंत' यह खुदाई चरणदास महंत के दखल देने के बाद शुरू हुई थी। शोभन ने महंत से कहा है कि अगर सोना मिलता है, तो वह छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री बनेंगे। महंत के खिलाफ मुकदमा दाखिल होने पर उन्होंने कहा, "तो क्या, वे कुछ नहीं कर सकते? मैंने उन्हें बता दिया है कि वह चुनावों के बाद सीएम बनेंगे।" जब यह सवाल किया गया कि उन्हें तो घेरा गया है, संत सरकार ने कहा, "कोई भी कुछ कर ले, एक बार सोना निकलने दीजिए, चरणदास, चरणदास बने रहेंगे और चिल्लाकर कह सकेंगे कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया। यह सब उनकी अपनी पार्टी के लोग हैं। वे बंटे हुए हैं।" बाबा यह कहना जारी रखे हैं कि 3 लाख करोड़ का सोना मिलकर रहेगा।

आज एक मंच पर होंगे नरेंद्र मोदी और मनमोहन सिंह 

ऐसा कम ही होता है जब प्रधानमंत्री और प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंचने का ख्वाब देख रहा दावेदार एक मंच पर हों। लेकिन आज ऐसा ही होगा। चुनावी माहौल लगातार गर्माने के बीच प्रधानमंत्री मनमोहन ‌सिंह और भाजपा के 'पीएम इन वेटिंग' नरेंद्र मोदी मंगलवार को एक मंच साझा करेंगे। अहमदाबाद में आज सरदार वल्लभभाई पटेल के जीवन को समर्पित म्यूजियम का उद्घाटन होगा और दोनों नेता उसमें मौजूद रहेंगे। यह म्यूजियम सरदार वल्लभभाई पटेल मेमोरियल सोसाइटी ने बनाया है। मोदी गुरुवार को सरदार सरोवर बांध के समीप देश के पहले गृह मंत्री सरदार पटेल की विशाल प्रतिमा की आधारशिला रखेंगे। सोसाइटी के चेयरमैन और केंद्रीय मंत्री दिनशा पटेल ने मोदी से मुलाकात कर समारोह में बुलाया है। निमंत्रण पत्र में कहा गया है क‌ि समारोह में चीफ गेस्ट मनमोहन सिंह होंगे और गुजरात के मुख्यमंत्री स्पेशल गेस्ट होंगे। भाजपा, खास तौर से मोदी कांग्रेस पर पटेल की विरासत को नजरअंदाज करने का अरोप लगाते रहे हैं। यह घटनाक्रम इसलिए भी अहम है, क्योंकि मोदी इन दिनों प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर इन दिनों तीखा हमला बोल रहे हैं। विधानसभा चुनावों से पहले वह भ्रष्टाचार और आर्थिक सुस्ती का मुद्दा उठाते हुए वह मनमोहन सरकार और कांग्रेस पर निशाना साध रहे हैं।

कांग्रेस की डिमांड, ढंके जाएं कमल फूल वाले तालाब 

कांग्रेस को इन दिनों मध्यप्रदेश के महाकौशल, मालवा और बुंदेलखंड क्षेत्र में वे तालाब दुश्मन जैसे दिख रहे हैं, जिनमें कमल के फूलों पर बहार आई है। पार्टी ने सोमवार को चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कमल के फूलों के ढंकने की मांग उठाई है। उसका कहना है कि यह भाजपा का चुनाव चिन्ह है और इससे मतदाता का झुकाव भगवा दल की ओर हो सकता है। मध्यप्रदेश कांग्रेस ने आयोग से आग्रह किया कि देश भर में बेचे जाने के लिए जिन तालाबों में कमल खिलाए गए हैं, उन्हें कवर करने के निर्देश दिए जाएं। भाजपा के प्रवक्ता विश्वास सारंग ने इस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि यह कांग्रेस का मानसिक दिवालियापन और खोखलापन दिखाता है। उन्होंने कहा, "इसका मतलब यह भी हुआ कि लोगों को अपने हाथ छिपाकर चलने चाहिए, क्योंकि यह कांग्रेस का चुनाव चिन्ह है।" कांग्रेस के पार्षद अमर चंद बवारिया ने कहा कि अगर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के वक्‍त बहुजन समाज पार्टी का चुनाव चिन्ह हाथी की प्रतिमाएं छिपाई जा सकती हैं, तो ऐसा कमल के फूलों को लेकर भी हो सकता है। चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश चुनावों के वक्‍त लखनऊ और दूसरे इलाकों में मायावती के पत्‍थर के हाथियों को ढंकने का फैसला किया था। यह फैसला इसलिए किया गया, क्योंकि हाथी बसपा का चुनाव चिन्ह है।

युवती से छेड़छाड़ करते धरे गए सपा नेता!

उत्तर प्रदेश के बागपत में पुलिस ने राष्ट्रवंदना चौक से सोमवार दोपहर सपा नेता को युवती से छेड़छाड़ करते हुए पकड़ लिया। आरोप है कि उसने सिपाहियों से हाथापाई की। काफी देर हंगामे के बाद उसे थाने ले जाया गया। पुलिस ने उसे शांति भंग की आशंका में गिरफ्तार किया। हालांकि उसका कहना है कि वह छेड़छाड़ नहीं कर रहा था। बागपत के मोहल्ला मुगलपुरा निवासी इरफान सोमवार को करीब दो बजे शहर के राष्ट्रवंदना चौक पर युवती से छेड़छाड़ कर रहा था। इसी दौरान वहां पर वहां पर मौजूद छेड़छाड़ रोकथाम दस्ते ने उसे दबोच लिया। इस दौरान उसकी पुलिसकर्मियों से हाथापाई हुई। उसने एक पुलिसकर्मी की वर्दी तक फाड़ने की कोशिश की। पुलिसकर्मी ने उसे पकड़कर कोतवाली ले आए। पकड़े गए इरफान ने खुद को सपा पार्टी का अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ का जिला सचिव बताया है। इरफान का कहना है कि वह किसी काम से राष्ट्रवंदना चौक पर आया था। उसकी तीन दिन पहले एक पुलिसकर्मी के साथ कहासुनी हो गई थी। इसी कारण पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ा है। उसपर लगाया गया आरोप पूरी तरह से गलत है। कोतवाली के कार्यवाहक प्रभारी ओमप्रकाश वर्मा का कहना है कि आरोपी इरफान का शांतिभंग की धारा में चालान किया गया है। सपा के जिला अध्यक्ष प्रदीप ठाकुर का कहना है कि उनकी पार्टी में अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ का जिला सचिव इरफान नहीं है। उसका पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है।

छुट्टी खत्म, आज जेल जाएंगे मुन्नाभाई 

संजय दत्त आज शाम फिर से पुणे की जेल में पहुंच जाएंगे। उनकी दिवाली जेल में ही बीतने वाली है। करीब एक महीना पहले अभिनेता संजय दत्त को सिक लीव के आधार पर 15 दिन की छुट्टी मिली थी। संजय दत्त ने यह छुट्टी मुंबई में अपने घर में बिताई थी। इसके बाद संजय दत्त की अपील पर उनकी छुट्टी एक बार फिर 15 दिन के लिए बढ़ाई गई थी। इस तरह उन्होंने पूरे एक महीने की छुट्टी बिताई। 29 अक्टूबर को यह अवधि समाप्त हो रही है। उन्हें आज शाम तक पुणे की येरवादा जेल में आत्म समर्पण करना होगा। इस बीच केंद्र सरकार ने संजय दत्त की सजा कम करने की बात कही थी। इसके लिए केंद्र सरकार से एक पत्र महाराष्ट्र सरकार को भेजा जाना था। महाराष्ट्र सरकार इस पत्र पर विचार करने के बाद कोर्ट से संजय दत्त की सजा कम करने की वजह बताते हुए अपील करती। लेकिन पिछले दिनों ही महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें इस तरह की कोई भी चिट्ठी नहीं मिली है।

राहुल द्रविड़ ने सचिन के बारे में ये क्या कह दिया

सचिन तेंदुलकर के बारे में टीम इंडिया में उनके साथ खेलने वाले राहुल द्रविड़ ने एक अजीब सी बात कही है। अपने अंतिम टेस्ट सीरीज से पहले संभवतः अपना आखिरी रणजी मैच खेल रहे सचिन तेंदुलकर हरियाणा के खिलाफ पहली पारी में फ्लॉप रहे थे और महज पांच रन ही बना पाए थे। सचिन जिस अंदाज में बल्‍लेबाजी कर रहे उससे यही लगता है कि वो अपनी पुरानी लय में नहीं दिख रहे हैं और संभवतः वह अपने अंतिम मैचों में बड़ी पारी भी नहीं खेल पाए। सचिन तेंदुलकर अपना अंतिम टेस्ट सीरीज अगले महीने वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेलने उतरेंगे।   'शानदार विदाई के हकदार'  ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि यदि सचिन तेंदुलकर अपने करियर के आखिरी टेस्ट मैचों में बड़ी पारी नहीं खेल पाते हैं तो भी वह शानदार विदाई के हकदार हैं।  द्रविड़ ने कहा, "मैं उम्मीद करता हूं कि सचिन अपने आखिरी दो टेस्ट मैचों का पूरा लुत्फ उठाएंगे। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह इन टेस्ट में बड़ी पारी खेल पाते हैं या नहीं।"  राहुल द्रविड़ और तेंदुलकर टीम इंडिया में लगभग डेढ़ दशक तक एक साथ खेले हैं। द्रविड़ ने कहा, "उन्होंने पिछले 24 सालों में भारतीय क्रिकेट के लिए जो किया है मैं उसके लिए उनका शुक्रिया अदा करना चाहूंगा। वह उन खिलाड़ियों में से हैं जिन्होंने कभी अपने स्तर को नीचे नहीं आने दिया। मैं चाहूंगा कि वह दोनों टेस्ट मैचों में अच्छा प्रदर्शन करके क्रिकेट  को अलविदा कहें।"  'मिस्टर भरोसेमंद' के नाम से मशहूर द्रविड़ ने कहा, "इन मैचों में सचिन तेंदुलकर का परिवार भी आने वाला है इसलिए इन मैचों की अहमियत बढ़ जाती है। उन्होंने कई साल काफी मेहनत की है इसलिए वह शानदार विदाई के हकदार हैं।" तेंदुलकर का अंतिम टेस्ट मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा।

रिलीज से पहले विवादों में आई 'कृष 3'

कृष3' रिलीज होने से पहले ही विवादों में घिर गई है। फिल्म पर स्क्रिप्ट चोरी का आरोप लगाते हुए इसकी रिलीज पर रोक लगाने की मांग की गई है। मध्य प्रदेश के सागर जिले में रहने वाले उदय सिंह राजपूत ने मुंबई हाईकोर्ट में याचिका दायर की है जिसमें उन्होंने दावा किया है कि 'कृष' के सीक्वल की स्क्रिप्ट उन्होंने ही 'कृष 2' के नाम से लिखी थी। जिसका क्रे‌डिट उनको देने से इंकार कर दिया गया। उदय चाहते हैं कि या तो राकेश रोशन उनको कंपन्सेशन के तौर पर 2 करोड़ रुपए दें अन्यथा कोर्ट फिल्म की रिलीज पर स्टे लगा दे। उदय इस बात से भी खफा हैं कि राकेश मीडिया में खुद को फिल्म का स्टोरी राइटर बता रहे हैं। उदय ने कॉपीराइट उल्लंघन के तहत याचिका दायर की है। राकेश रोशन निर्देशित यह फिल्म एक नवंबर को रिलीज हो रही है। फिल्म में ऋतिक रोशन मुख्य भूमिका निभा रहे हैं।

111 किमी प्रति लीटर का माइलेज देती ये कार

आमतौर पर कारें 18-32 किमी प्रति लीटर का माइलेज देती है। लेकिन अब बाजार में एक ऐसी कार आने वाली जो 111 किमी प्रति लीटर का माइलेज देने में सक्षम है। जर्मनी की लग्जरी कार कंपनी फॉक्सवॉगेन एक नई कार लेकर आ रही है जो 111 किलोमीटर प्रतिलीटर का माइलेज देती है। कंपनी इस को "फॉक्सवैगेन एक्सएल 1" के नाम जल्द ही बाजार में उतार दी जाएगी। कंपनी ने 2009 में ही इसका कंसेप्ट मॉडल फ्रेंकफर्ट मोटर शो में शोकेस किया था, जिसके बाद 2011 में फिर से इसका अगला मॉडल कतर मोटर शो में डिस्प्‍ले किया गया। टाटा नैनो के बाद टाटा की एक और सीएनजी कार अब कंपनी इसका प्रोडक्शन मॉडल इस साल के अंत तक लांच करने की तैयारी में है। फॉक्सवॉगेन एक्सएल 1 एक हाइब्रिड कार जिसमें बैटरी और डीजल इंजन से चलती है। इसमें 2.5 केडब्ल्यूएच की बैटरी लगी है जो 27 बीएचपी का पॉवर देती है और एक बार चार्ज करने पर 31 मील तक चलती है। फुल स्पीड फेस्टिवलः देखें सुपरबाइक के सुपर नजारे इसके अलावा 800 सीसी का दो सिलेंडर वाला डीजल इंजन भी दिया गया है जो 47 बीएचपी का पॉवर देता है। इसमें 10 लीटर का इंधन टैंक दिया गया है। बैटरी और डीजल के साथ यह फ्यूल एफिशिंयट कार 127 मील प्रतिघंटा का माइलेज देती है। कार की कीमत के बारे में कंपनी ने अभी कोई जानकारी नहीं दे है।

रियलिटी शो में कबूला पति की हत्या का सच 

सच का सामना करने के लिए एक 38 वर्षीय महिला ने तमिल टेलिविजन पर प्रसारित होने वाले रियलिटी शो को चुना। महिला ने इस चैनल पर कबूल किया कि उसी ने पांच महीने पहले अपने पति की हत्या की है। इसके बाद उसने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। यह महिला पिछले पांच महीनों से इसे आत्महत्या का मामला बता रही थी। पुलिस ने बताया कि डी सुमति नाम की महिला को गिरफ्तार कर तिरुवरुर जिले की अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। महिला के आत्मसमर्पण के दो दिन बाद उसके कथित प्रेमी टी राजन (49) ने भी आत्मसमर्पण कर दिया। मृतक एस धनशेखर (46) एक सरकारी स्कूल में हेडमास्टर थे और उनकी पत्नी भी एक अन्य स्कूल में टीचर थी। सुमति ने राजन के साथ मिलकर 14 मई को अपने घर में अपने पति के खाने में जहर मिला दिया था। धनशेखर के भाई एस कन्नादासन ने घटना के तुरंत बाद ही दावा किया था कि उसके भाई की हत्या की गई है। सुमति ने भी परिवार के सदस्यों के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया था। कुछ हफ्तों बाद उसने टीवी शो में हत्या की बात कबूल कर ली। पुलिस ने सुमति और राजन के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है।

खजाने का सपना टूटाः नहीं मिला सोना, बंद होगी खुदाई 

इस खबर से लाखों दिल टूट जाएंगे, क्योंकि देश भर की निगाह जिस 'खजाने' पर टिकी थीं, वह गायब हो गया। डौंडिया खेड़ा गांव को देश के नक्‍शे पर खास जगह दिलाने वाले संत शोभन सरकार का ख्वाब, ख्वाब रह गया और कोई खजाना नहीं मिला। मंगलवार दोपहर खबर आई कि खजाने जैसी कोई चीज न मिलने से निराश भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) अब खुदाई रोकने वाला है। पुरातत्व विभाग ने इस बात की पुष्टि कर दी है। विभाग का कहना है कि जहां खुदाई की जा रही थी, वहां कोई सोना या खजाना नहीं है, इसलिए खुदाई जल्द ही बंद कर दी जाएगी।

Oct 28, 2013

ड्रेसिंग रूम में दाऊद इब्राहिम, कपिल देव ने भगाया

पूर्व कप्तान और टेस्ट क्रिकेटर दिलीप वेंगसरकर ने एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि कपिल देव ने एक बार डॉन दाऊद इब्राहिम को डांटकर भगा दिया था। हालांकि, 1983 में अपनी अगुवाई में पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम को विश्व चैंपियन बनाने वाले पूर्व कप्तान कपिल देव का कहना है कि उन्होंने एक शख्स को भगाया जरूर था, लेकिन उन्हें बाद में बताया गया कि वह दाऊद है। कपिल देव के बारे में उनकी टीम के साथी रहे दिलीप वेंगसरकर ने कहा था कि माफिया डॉन दाऊद इब्राहीम 1987 में भारत और पाकिस्‍तान के बीच मुकाबले के दौरान ड्रेसिंग रूम में आया और उसने महंगे गिफ्ट और कार तोहफे में देने की बात भी कही थी। हालांकि टीम ने उसके ऑफर को ठुकरा दिया था। मीडिया में आई खबरों के अनुसार, दिलीप वेंगसरकर ने एक कार्यक्रम में दाऊद इब्राहीम और कपिल देव के बीच मुलाकात के बारे में खुलासा किया था। कपिल ने वेंगसरकर के बयान के बाद कहा कि उन्होंने 1987 में शारजाह में भारतीय ड्रेसिंग रूम में टहल रहे दाऊद इब्राहीम को डांटकर भगा दिया था। उन्होंने कहा, "हां, मुझे याद है कि एक शख्स शारजाह में मैच के दौरान ड्रेस‌िंग रूम में टहल रहा था और वह खिलाड़ियों से बात करना चाहता था। लेकिन मैंने उसे तुरंत ड्रेसिंग रूम से चले जाने को कहा।" कपिल देव ने कहा, "मेरी बात सुनकर वह किसी कोई बात कहे बगैर वहां से चला गया।" भारतीय टीम में कपिल देव के साथी रहे मनोज प्रभाकर ने उन पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया था तो वह कैमरे के सामने ही रो पड़े थे।

बस 5 फीट की खुदाई के बाद खुल जाएगा राज खजाने का

डौंडिया खेड़ा में जीएसआई रिपोर्ट व संत शोभन सरकार के दावे की असलियत सामने आने में अब पांच फीट से भी कम दूरी बची है। किले में 11 फीट 67 मिमी की खोदाई हो चुकी है। खोदाई के नौंवे दिन लोहे की कील मिली है। जीएसआई ने भी केंद्र सरकार को भेजी रिपोर्ट में 10 से 20 मीटर क्षेत्र में पांच से 20 मीटर तक की गहराई में नॉन मैग्नेटिक धातु होने की संभावना जताई है। बीघापुर के एसडीएम विजय शंकर दुबे ने बताया कि नौ दिन की खोदाई पूरी हो चुकी है। किले में एएसआई की टीम 3.35 मीटर नीचे तक पहुंच चुकी है। नौवें दिन लोहे की एक कील मिली है। पढ़ें- सपने की खुदाई में यूपी खोज रहा कुछ और इस दौरान मिट्टी के टूटे बर्तन भी मिल रहे हैं। सूत्रों के अनुसार खोदाई के दौरान मिली दो दीवारों में से एक में दीपक रखने की जगह मिली है। नौंवें दिन की खोदाई में शाम को जमीन में मिट्टी का घड़ा दिखा है। एएसआई की टीम सोमवार को घड़ा निकालेगी। जीएसआई की सात पेज की रिपोर्ट में किले में 5 से 20 मीटर की गहराई में धातु होने की बात है। 5 मीटर यानी तकरीबन 16 फीट। बुद्ध के नाखून-केश मिलने का दावा बौद्ध भिक्षुओं और अंबेडकर महासभा के सदस्यों ने डौंडिया खेड़ा का दौरा करके दावा किया है कि यह स्थल बौद्ध संस्कृति की विरासत है। उसने पुरातत्व विभाग द्वारा की जा रही खोदाई से पहले के समय में मिली प्रतिमाओं और शिलाखंडों को बौद्धकालीन बताया है और इन्हें अपने दावे के साक्ष्य के तौर पर पेश किया है। पढ़ें- डौडिया खेड़ा में बलि चढ़ सकता था इतिहास साथ ही सोने से कहीं महत्वपूर्ण चीजें जिनमें भगवान बुद्ध के केश और नाखून शामिल हैं, मिलने की संभावना जताई है। महासभा ने राजधानी में रविवार को एक प्रेसवार्ता में कहा कि डौंडिया खेड़ा के लिए आयोजित यात्रा ‘तर्क और सत्य’ के दौरान वहां की एक कोठरी से बौद्ध धम्म चक्र के अवशेष, खंडित बौद्ध व हाथी प्रतिमाएं और कई अन्य बौद्ध शिलाखंड मिले हैं। महासभा अध्यक्ष डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल ने बताया कि इन अवशेषों की सुरक्षा के लिए उप जिलाधिकारी विजय शंकर को ज्ञापन दिया गया है। करीब 105 वर्ष के बौद्ध भिक्षु धम्म महाथेरा तेजंकरदीप ने कहा कि जाने- माने पुरातत्व वेत्ता एलेक्जेंडर कनिंघम ने डौंडिया खेड़ा में 200 फीट के बौद्ध स्तूप की बात चीनी यात्री ह्वेनसांग के वर्णनों के आधार पर कही है।

बुंदेलखंड में मिला 4000 करोड़ का खजाना 

पुरातत्व विभाग भले इन दिनों उन्नाव के डौंडिया खेड़ा गांव में खुदाई में लगा हो, लेकिन इस बीच खनिज एवं खदान विभाग को बुंदेलखंड में बड़ा खजाना मिल गया है। अनुमान है कि यह 4000 करोड़ रुपए का हो सकता है। दरअसल, विभाग को बुंदेलखंड में खनिज और धातुओं का भंडार मिल गया है। विभाग की एक रिपोर्ट के मुताबिक झांसी, जालौन, महोबा, हमीरपुर, बांदा, चित्रकूट और ललितपुर जैसे सात जिलों में फैले पठार राज्य के लिए संभावित 'कमाई का खजाना' साबित हो सकते हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में भी सोने का खजाने का पता लगा है। ज्यादातर साइट पर अन्वेषण का काम पूरा कर लिया गया है। जियोलॉजी एंड माइंस डायरेक्ट्रेट के निदेशक भास्कर उपाध्याय ने बताया, "हमें बुंदेलखंड और सोनभद्र में सोने के भंडार मिले हैं।" रिपोर्ट के मुताबिक बुंदेलखंड में केवल सोने और प्लेटिनम के भंडार नहीं, बल्कि 1,000 करोड़ रुपए के पोटाश, एस्बेस्टस और सिलिका जैसे औद्योगिक खनिज भी पाए गए हैं। पढ़ें, बस 5 फीट की खुदाई के बाद खुल जाएगा राज खजाने का इस एक्सप्लोरेशन ने उत्तर प्रदेश को देश के खनिज मानचित्र पर जगह दिला दी है। अब तक राज्य में केवल डायसापोर, डोलोमाइट, चूना पत्‍थर, मैग्नीज और फॉसफोराइट जैसे कुछ खनिज निकाले जाते हैं। जिन तमाम जगह ये भंडार मिलने की ‌बात कही गई है, उनमें सबसे आगे झांसी है। विभाग को यहां 4.5 करोड़ टन सिलिका होने की जानकारी मिली है, जिसकी बाजार में कीमत 890 करोड़ रुपए है।

क्या आपका फोन भी बार-बार हैंग हो जाता है? U

कई बार ढेर सारी मोबाइल एप्लिकेशंस खोलने पर हैंडसेट हैंग हो जाते हैं। इंटरनेट सर्फिंग करते वक्त बीच में कोई कॉल आने पर भी अक्सर मोबाइल हैंग हो जाते हैं। मोबाइल हैंग होने का सबसे बड़ा कारण फोन की इंटरनल मैमोरी और रैम का कम होना हो सकता है। इसके अलावा फोन का हार्डवेयर अच्‍छा नहीं होने पर भी कुछ समय बाद मोबाइल हैंग होने लगता है। ऐसे में कुछ टिप्स इसमें आपकी मदद कर सकती हैं। - सबसे पहले बैकग्राउंड में चलने वाली एप्लिकेशंस को बंद कर दें। ऐसा करने से फोन की रैम को थोड़ा स्पेस मिल जाता है - ऐसा करने से भी अगर बात नहीं बनती है तो अपने फोन को स्‍विच ऑफ करने की कोशिश करें। अगर वो स्‍विच ऑफ हो जाता है तो इससे आपके फोन में सेव डाटा सुरक्षित रहेगा। - स्‍विच ऑफ होने के बाद फोन के बैक पैनल को खोलें और उसमें से बैटरी बाहर निकाल लें। सिम और मैमोरी कार्ड निकालने की कोई जरूरत नहीं है। कैसे रखें अपने स्मार्टफोन को वायरस से सुरक्षित - बैटरी निकालने के बाद एक बार फिर फोन में दी गई पॉवर बटन को 5 से 10 सेकेंड के लिए स्‍विच ऑफ करें इससे फोन में सेव बैटरी पॉवर खत्‍म हो जाएगी। - अब दोबारा फोन में बैटरी लगाएं और बैक कवर लगाकर उसे ऑन करें। - ऐसा करने से फोन फिर से चालू स्थिति में आ जाता है। फोन ऑन करने के बाद वो दोबारा हैंग नहीं होगा। आपने आजमाई हैं लैपटॉप के लिए ये ट्रिक? दोबारा वही समस्या होने पर अगर ये समस्या फिर भी बनी रहती है आपको अपने फोन की इंटरनल मैमोरी को थोड़ा खाली कर देना चाहिए, साथ ही कैश फाइल्स की भी‌ डिलिट करते रहना चाहिए। क्‍योंकि कभी-कभी फोन की इंटरनल मेमोरी फुल होने पर भी हैंडसेट हैंग होने लगता है।

पाक में सुपरहिट हुई भारत विरोधी यह फिल्म

भारत विरोधी फिल्म वार पाकिस्तान में सुपरहिट हुई है। इस फिल्म ने कमाई के पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। यह फिल्म बकरीद पर रिलीज हुई थी। पाकिस्तान में इन दिनो देश मे आतंकवाद के लिए भारत को जिम्मेदार बताने वाली फिल्म 'वार' खूब पैसे बटोर रही है। इससे यह बात भी साबित हो गई पाकिस्तान के लोग भारत का विरोध देखना पसंद करते हैं। इस फिल्म ने अपने पहले ही सप्ताह मे ही फिल्म ने नौ लाख डालर की कमायी कर ली है ।फिल्म मे दिखाया गया है कि आतंकवादी पाकिस्तानी पुलिस अकादमी पर हमला कर सौ अधिकारियो को मार देते है। इसके बाद पाकिस्तान इसका बदला अपने तरह से लेता है। एक्शन से भरपूर इस फिल्म का निर्देशक बिलाल लाशारी ने किया है। फिल्म की शूटिंग के दौरान पाक की सेना ने भी लाशारी का पूरा समर्थन किया। सेना ने उन्हें शूटिंग की अनुमति के साथ पूरी फिल्म यूनिट को अपने साथ ठहरने की अनुमति भी दी। इस फिल्म मे दिखाया गया है कि भारत, पाकिस्तान मे ही चल रहे आतंकवादी शिविरो को समर्थन देता है। फिल्म क्लाइमेक्स में भारत के इसी कथित कारनामें के पर्दाफाश होने की कहानी है।

सचिन पर मोहित भारीः 5 रन, 7 गेंद और 8 मिनट 

धोनी के चहेते तेज गेंदबाज मोहित शर्मा ने सचिन तेंदुलकर का विकेट उखाड़कर जोर का झटका दिया है। हालांकि पहली पारी में महज पांच रन बनाने वाले सचिन तेंदुलकर के पास इस मैच में बड़ी पारी खेलने का एक और मौका है। सचिन अगले महीने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने जा रहे हैं और इस सिलसिले में वह अपनी तैयारियों में जुटे हैं। अपने अंतिम टेस्ट सीरीज में बड़ी पारी खेलने के इरादे से वह संभवतः आखिरी बार रणजी ट्रॉफी में मुंबई की ओर से रोहतक में मैच खेलने उतरे हैं। लेकिन रविवार को हरियाणा के खिलाफ वह खास नहीं कर सके। वह पांच रन, सात गेंद और आठ मिनट तक क्रीज पर रहने के बाद अपना विकेट गंवा बैठे। उम्मीदें बढ़ीं, दबाव बढ़ा और इसी के साथ ही उनके बल्ले से निकलने वाले शतक का इंतजार भी बढ़ गया। अपने आखिरी रणजी मैच की पहली पारी में सचिन के रनों का कारवां पांच रनों पर आकर ठिठक गया। मोहित ‌ने किया निराश हरियाणा को 134 रनों पर समेटने के बाद जब मुंबई मुंबई के दो विकेट गिरे तो बल्लेबाजी के शहंशाह ने मैदान पर कदम रखा। अपने ट्रेडमार्क स्ट्रेट ड्राइव से प्रशंसकों की उम्मीदों को पंख भी लगाए, लेकिन तभी मोहित शर्मा की वो गेंद आई, जिसने खचाखच भरे स्टेडियम को खामोश कर दिया। मो‌हित शर्मा टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के चहेते गेंदबाज हैं और उन्होंने कई मौके पर बेहतरीन गेंदबाजी कर सुर्खियां बटोरी है। सचिन तेंदुलकर बोल्ड हो गए। बेशक गेंद में अतिरिक्त उछाल था, लेकिन मास्टर ब्लास्टर 24 साल से ऐसी गेंदों से पार पाते रहे हैं। हालांकि अभी भी सचिन के पास एक पारी बाकी है, जिसमें यादगार प्रदर्शन कर वे अपने घरेलू क्रिकेट करियर का ऐतिहासिक समापन कर सकते हैं। मुंबई को दो रन की बढ़त हरियाणा को पहली पारी में 134 रनों पर समेटने के बाद मुंबई ने पहली पारी में 136 रन बनाए। मुंबई टीम महज दो रनों की बढ़त हासिल कर सकी। हरियाणा की ओर से जोगिंदर शर्मा ने 16 रन देकर पांच विकेट झटके। मुंबई की ओर से अंजिक्य रहाणे ने सर्वाधिक 51 रनों का स्कोर किया। तेंदुलकर को गार्ड ऑफ ऑनर इस मैच के बाद सचिन को वेस्टइंडीज के खिलाफ छह नवंबर से शुरू हो रहे पहले टेस्ट में हिस्सा लेना है। इससे पहले मैदान पर उतरते वक्त हरियाणा और मुंबई की टीमों ने सचिन तेंदुलकर को गार्ड ऑफ ऑनर दिया। पहले दिन के खेल के दौरान सचिन उतने ही फिट नजर आ रहे थे, जितने कि अपने करियर में हमेशा दिखाई देते रहे हैं। यानी कि मास्टर शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार हैं अपनी विदाई सीरीज में ब्लास्ट करने के लिए।

मोदी की रैली: संतों के वेश में आ सकते हैं आतंकी

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेंद्र मोदी की बहराइच में प्रस्तावित रैली में आतंकी या अराजक तत्व संतों के वेश का सहारा ले सकते हैं। यह मानना है जिले व सीमा पर सक्रिय खुफिया एजेंसियों का। खुफिया एजेंसियों की इस रिपोर्ट के बाद पुलिस महकमे ने इंडो-नेपाल सीमा पर भी सतर्कता बढ़ा दी है। आने-जाने वालों की सघन निगरानी के निर्देश दिए गए हैं। अगर यह कहा जाए कि नरेंद्र मोदी की रैली अराजक तत्वों या दहशतगर्दों के निशाने पर है, तो गलत नहीं होगा। क्योंकि नेपाल सीमा से सटे बहराइच में सुरक्षा का जिम्मा संभाले खुफिया एजेंसियों ने पटना में हुए विस्फोट के पहले ही इस बाबत अपनी रिपोर्ट मुख्यालय को भेज दी थी। रिपोर्ट में यह संकेत दिया गया था कि बहराइच में भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की प्रस्तावित रैली में अराजक तत्व विस्फोट का सहारा ले सकते हैं लेकिन पटना में हुए विस्फोट के बाद खुफिया एजेंसियों ने बहराइच को अति संवेदनशील बताया है। खुफिया सूत्रों की मानें तो नरेंद्र मोदी की बहराइच में प्रस्तावित रैली में दहशत गर्द संतों के वेश का सहारा ले सकते हैं। ग्रामीण अंचलों के कार्यकर्ता बनकर भी वह रैली स्थल पर पहुंच सकते हैं। इसके चलते सीमा पर सतर्कता बढ़ा दी गई है। रुपईडीहा, मोतीपुर, सुजौली और मुर्तिहा थानों को भी अलर्ट किया गया है। पुलिस अधीक्षक मोहित गुप्ता का कहना है कि सभी थानाध्यक्षों को सजग करते हुए सीमा पार से आने व जाने वालों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

63 साल महिला के साथ सोया युवक, गुस्साए पति ने चलाई गोली

एक शादीशुदा महिला के साथ हमबिस्तर हुए एक 22 साल के लड़के की किस्मत ने उसका साथ दिया कि वह आज जिंदा है। ऐरीजाना के 22 वर्षीय स्टीफन ट्रेरवर चैपमैन पर एक 68 साल के बूढ़े ने शनिवार सुबह गोली चला दी। बूढ़े ने जब उस लड़के को अपनी 63 साल की पत्नी के साथ सोते हुए देखा तो उसने गोली चला दी। हालांकि उसकी किस्मत अच्छी थी कि उसे वह गोली नहीं लगी। शनिवार देर रात 1 बजे बूढ़े के गेस्ट हाउस में वह लड़का उसकी पत्नी के साथ हमबिस्तर था। पहले उसने लड़के को बेंत से उठाने की कोशिश की लेकिन उसके नहीं उठने के बाद उसने उस लड़के पर गोली चला दी। गोली पास की दीवार में लगी, हालांकि लड़के को थोड़ी चोट आई है। चैपमेन को बाद में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

चीन से क्यों पिछड़ रहा है भारत? 

भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अभी रूस और फिर चीन में थे। अगर आप इस यात्रा के आर्थिक एजेंडे को देखें तो इसके केंद्र में ऊर्जा है। आज अगर भारत को नौ या दस प्रतिशत की दर से विकास करना है तो उसके लिए उसे ऊर्जा चाहिए। रूस के अंदर तेल और गैस के सबसे अधिक भंडार हैं। दूसरी ओर चीन भी अपनी ऊर्जा जरूरतों के लिए काफ़ी हद तक आयात पर निर्भर है। ऐसे में इस तरह की योजना बनाई जा रही है कि रूस के गैस और तेल को पाइप लाइन के जरिए भारत लाया जा सके। इस बारे में बीते दिनों चर्चा भी हुई है। भारतीय कंपनियों और खासतौर से ओएनजीसी विदेश ने रूस में जाकर काफ़ी निवेश किया है। लेकिन अब इस बात का प्रयास किया जा रहा है कि एक पाइपलाइन नेटवर्क बनाया जाए। इसे एनर्जी एक्सप्रेसवे कहा जा रहा है। ये एनर्जी एक्सप्रेसवे रूस से शुरू होगा और उसके बाद तिब्बत और लद्दाख होते हुए दिल्ली पहुंचेगा। रूस के साथ गठजोड़ के फायदे इससे दो तरह के फ़ायदे होंगे। एक तो हमारी ऊर्जा की ज़रूरत पूरी हो पाएगी। यह पाइप लाइन तिब्बत यानी चीन से होकर आ रही है यानी चीन की तेल और गैस संबंधी ज़रूरतों को भी पूरा किया जा सकेगा। इससे एक तरफ तो रूस से हमारे संबंध और मधुर होंगे, दूसरी तरफ इतिहास में पहली बार चीन ऊर्जा के क्षेत्र में भारत के लिए एक कड़ी बनेगा। ऐसे में पाइप लाइन के माध्यम से तेल और गैस पाने के लिए भारत और चीन एक दूसरे पर निर्भर होंगे। इस तरह आज की तारीख में ऊर्जा बेहद अहम भूमिका निभा रही है। आज अगर कोई चीज है जो भारत और पाकिस्तान के संबंधों को सुधार सकती है, भारत और चीन के संबंधों को सुधार सकती है तो वो आज की तारीख में तेज और गैस है। एशियन ग्रिड की तैयारी "जल्द ही बिजली का एक जाल बन जाएगा जहां सभी देश एक दूसरे पर निर्भर होंगे। इस कवायद से किसी को बिजली मिलेगी तो किसी को पैसा मिलेगा।" इसके साथ ही बिजली का महत्व भी काफ़ी अधिक है। भारत ने अपनी पहल पर अफ़ग़ानिस्तान और मध्य एशिया को एक ग्रिड से जोड़ दिया है। अब इस बात का प्रयास हो रहा है कि भारत को उसी ग्रिड के ज़रिए अफ़ग़ानिस्तान से जोड़ा जा सके और कलकत्ता को बांग्लादेश और म्यांमार से जोड़ा जा सके। इस तरह एक एशियन ग्रिड बन जाएगी। यानी बिजली का एक जाल बन जाएगा जहां सभी देश एक दूसरे पर निर्भर होंगे। इस कवायद से किसी को बिजली मिलेगी तो किसी को पैसा मिलेगा। इस तरह के प्रयासों से एक नए एशिया का निर्माण हो रहा है और इसके केन्द्र में ऊर्जा है। आप आने वाले समय में देखेंगे कि दक्षिण एशियाई देशों के साथ संबंधों में जो परिवर्तन आने वाला है उसकी प्रमुख वजह आर्थिक और उनका केन्द्र बिंदु ऊर्जा होगी। ऊर्जा कूटनीति के लिहाज से चीन काफ़ी कामयाब है, लेकिन हमारे प्रयास भी जारी हैं। हमारे प्रयास कभी सफल भी हो रहे हैं और कभी-कभी हमको चुनौतियों का सामना भी करना पड़ रहा है। भारत की ऊर्जा कूटनीति अमेरिका के दबाव में भारत गैस के लिए ईरान और पाकिस्तान के साथ सहयोग को आगे नहीं बढ़ा पा रहा है। भूटान के साथ हमारे प्रयास सफल हैं। दूसरी ओर पाकिस्तान के साथ संघर्ष चल रहा है। अफ़ग़ानिस्तान में भी चुनौती है। तुर्कमेनिस्तान के साथ हमारा समझौता तो हुआ है, लेकिन चुनौतियाँ खत्म नहीं हुईं हैं। ईरान के साथ भारत सहयोग चाहता है। ईरान और पाकिस्तान भी सहयोग के लिए तैयार हैं, लेकिन अमेरिका का दबाव है। अब हमें ये भी देखना है कि अमेरिका भी हमारे लिए ज़रूरी है। म्यांमार में भारत ने निवेश तो किया, लेकिन जो गैस निकल रही है वो चीन जा रही है। हम चाहते थे कि वो गैस हमारे पास आ सके। कुल मिलाकर भारत की ऊर्जा कूटनीति की सफलता मिली-जुली है। अभी हमको बहुत प्रयास करने की ज़रूरत है। हमको जी-जान लगाकर प्रयास करने की ज़रूरत है। इसके लिए इन सभी देशों के साथ और अधिक घने संबंध बनाने होंगे। निजी क्षेत्र की भागीदारी इसके साथ ही भारतीय कंपनियों को और अधिक आज़ादी देनी होगी और भारत के निजी क्षेत्र को इसमें शामिल करना होगा। कुल मिलाकर हमें एक अलग नज़रिए के साथ इस दिशा में आगे बढ़ना होगा। इसके लिए हमें जो तैयारी करनी है, उस तैयारी की दिशा में हमें थोड़ी तेज़ी दिखानी होगी क्योंकि आज की तारीख में हमारी जो तैयारी होनी चाहिए उसकी 30 प्रतिशत तैयारी भी नहीं है। हमें चीन और मलेशिया से सीखना होगा, ताकि हम इस दिशा में आगे बढ़ सकें।

किले में आठवें दिन की खुदाई में क्या-क्या मिला? 

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में डौंडिया खेड़ा के राव राम बक्स सिंह के किले में आठवें दिन शनिवार को सिर्फ 12 सेंटीमीटर खुदाई हुई। इस दौरान मिट्टी का घड़ा, मिट्टी के खिलौने मिले। बृहस्पतिवार को मिले चूल्हे को एएसआई की टीम ने बाहर निकाल लिया है। शुक्रवार को दिखी दीवार की सफाई की जा रही है। अब तक 2.54 मीटर खुदाई हो चुकी है। एसडीएम विजय शंकर दुबे ने बताया कि शनिवार को किले की खुदाई 12 सेंटीमीटर हुई। शनिवार को मिट्टी का घड़ा और मिट्टी के खिलौने मिले हैं। इन सामानों को सुरक्षित कर दिया गया है। शनिवार को बौद्ध धर्म के अनुयायी और खुद को राव राम बक्स सिंह का वंशज बताने वाले कुछ लोग डौंडिया खेड़ा पहुंचे। बौद्ध धर्म के अनुयायियों ने पूरे इलाके को बौद्ध सभ्यता का बताया और पूरे इलाके की खुदाई की मांग की है। उन्होंने डीएम को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को दिया। किला परिसर के बाहर पीने के पानी की दिक्कत को देखते हुए स्वामी ओम जी ने हैंडपंप लगवाना शुरू कर दिया है। शरद यादव के खिलाफ परिवाद दर्ज जदयू अध्यक्ष और सांसद शरद यादव के खिलाफ धर्म के अपमान का परिवाद दर्ज कराया गया है। इस मामले की सुनवाई 29 अक्तूबर को होगी। उस दिन परिवादी के बयान दर्ज कराए जाएंगे। ओ ब्लाक किदवई नगर निवासी अधिवक्ता आशुतोष शुक्ल ने सीएमएम प्रफुल्ल कमल की कोर्ट में शरद यादव के खिलाफ परिवाद दर्ज कराने की अर्जी दी। इसमें कहा गया कि डौंडिया खेड़ा में हो रही खुदाई को लेकर शरद यादव ने शोभन सरकार की बात को अंधविश्वास को बढ़ावा देने वाली बताया था। इससे उसकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं।

शाहरुख और अक्षय ने तोड़ा असिन का दिल

पहली बार असिन अपना जन्मदिन बड़े स्तर पर मनाने जा रही थीं। उन्होंने बॉलीवुड के तमाम स्टार्स को आमंत्रित किया था। खास तौर पर वे अपनी अब तक की फिल्मों के हीरोज को इस पार्टी में देखना चाह रही थीं। असिन ने अपना अट्ठाइसवां जन्मदिन तो धूमधाम से मनाया, लेकिन उनकी आस अधूरी रही। न तो सलमान खान उनकी पार्टी में आ सके और न ही अक्षय कुमार उन्हें हैप्पी बर्थडे कह पाए। इन दोनों अभिनेताओं के न आने से असिन को काफी निराशा हुई। हालांकि सलमान ने उन्हें फोन पर जन्मदिन की बधाई दी और मजबूरी बताई कि वे अपनी फिल्म जय हो की शूटिंग के कारण बहुत ज्यादा व्यस्त हैं। ऐसा ही कुछ अक्षय कुमार के साथ हुआ। वे दिल्ली में शूटिंग कर रहे थे, इसलिए पार्टी में नहीं आ पाए। हां, गजनी जैसी फिल्म में साथ काम कर चुके आमिर ने जरूर अपनी उपस्थिति दर्ज की, लेकिन वे जल्द ही शुभकामनाएं देकर पार्टी से निकल गए थे। सलमान के साथ असिन ने लंदन ड्रीम्स और रेडी जैसी फिल्मों में काम किया है, तो वे अक्षय कुमार की फिल्म खिलाड़ी 786 में हीरोइन रह चुकी हैं।

स्‍कोडा ऑक्टाविया को टक्कर देने आई शेवरले की ये कार

हाल ही में स्‍कोडा ऑक्टाविया और हुंडई इ‌लेंट्रा को डी सेगमेंट में पेश किया चुका है। जनरल मोटस इंडिया लिमिटेड ने इन कारों को टक्कर देने के लिए अपनी मिड रेंज सेडान कार "शेवरले क्रूज" का नए अवतार लॉन्च किया है। शेवरले क्रूज जीएम इंडिया की ऐसी मिड रेंज कार है जो केवल डीजल इंजन के साथ उपलब्ध कराई गई है। कंपनी ने इसके नए अवतार को 6 स्पीड मेन्युअल और ऑटोमेटिक गियर बॉक्स विकल्प के साथ उतारा है। ये है दुनिया की सबसे महंगी कार, कीमत हैरान करने वाली नई शेवरले क्रूज को नए डुअल पोर्ट फ्रंट ग्रिल, नए डिजाइन किए हुए फ्रंट और बैक बंपर, न्यू डु‌अल बेजल डिजाइन हेडलेम्प, नए अलॉय व्हील, क्रोम सहित नए फॉग लेम्प वगैराह फीचर्स के साथ पेश किया गया है। ये सारे फीचर्स कार को काफी आकर्षक बनाते हैं। हालांकि कंपनी इसके इंजन कोई बदलाव नहीं किया है। यह अपने ‌पीछे मॉडल की तरह 2.0 वीसीडीआई डीजल इंजन के साथ आ रही है जो 199 पीएस का पावर और 380 एनएम का टॉर्क देता है। इसके अलावा कंपनी ने इसमें सिक्स वे पावर एडजस्टेबल ड्राईवर सीट, डेड पेडल, प्रीमियम स्पीकर्स, एक्सट्रा पास अप के साथ पावर विंडोज, ब्लूटूथ म्यूजिक स्ट्रिमिंग और पिंच गार्ड प्रोटेक्शन फीचर्स दिए हैं।

धूम में दौड़ी ये बाइक अब आई नए अवतार में

बॉलीवुड फिल्म धूम में तेज रफ्तार से दौड़ी बाइक तो आपको याद होगी। इस बाइक का नाम हायबुसा था जिस पर आपने जॉन अब्राहम को तेज रफ्तार में बाइक चलाते देखा था। सुजुकी मोटर साइकिल यूएसए में अपने 50 वर्ष पूरे कर चुकी है। कंपनी ने इस मौके को काफी धूम-धाम से माना। इस मौके पर कंपनी ने अमेरीका इंटरनेशनल एक्सपो में अपनी सबसे पापुलर सुपर स्पोर्ट बाइक हायबुसा स्पेशल एडिशन पेश किया है। फुल स्पीड फेस्टिवलः देखें सुपरबाइक के सुपर नजारे कंपनी पहले भी हायबुसा को यलू एंड ब्लैक कलर में 2013 के स्पेशल एडिशन के रूप में लॉन्च कर चुकी है। इस बार कंपनी ने हायबुसा 2014 के स्पेशल एडिशन को रेड एंड ब्लैक डुअल टॉन कलर के साथ पेश किया है। इस बाइक के ऊपरी हिस्से को रेड जबकि नीचे के हिस्से को ब्लैक रंग दिया गया है। कंपनी ने इसके बाकी फीचर्स में कोई बदलाव नहीं किया है। हायबुसा का नया 2014 एडिशन 1340सीसी के इंजन पर काम करेगा। इसके आगे भूल जाएंगे टोयोटा फॉरच्युनर को इसके अलावा 4 स्टोक, 4 सिलेंडर, डीओएचसी इंजन का इस्तेमाल किया गया है, जो 2013 के एडिशन में भी इस्तेमाल‌ किया जा चुका है। टॉप ‌गियर में यह बाइक 299 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है। कंपनी, सुजुकी हायबुसा में के अगले पहिए में दो डिस्क और पिछले पहिए में एक डिस्क ब्रेक का इस्तेमाल करती है। इस बाइक की कीमत के बारे में कंपनी की ओर से अभी को जानकारी नहीं दी गई हैं। कंपनी जल्द ही इसकी कीमत की घोषाण कर सकती है।

शराब से क्यों तेज रहता है दिमाग, जानना चाहेंगे आप?

याददाश्त तेज करने और एल्जाइमर जैसे मानसिक रोगों से दूर रहने में रेड वाइन का सेवन कितना फायदेमंद है, इसे लेकर हमेशा से मतभेद रहे हैं लेकिन हाल में एक भारतीय वैज्ञानिक ने रेड वाइन में ऐसे तत्वों का पता लगाया है जिनका संबंध एल्जाइमर की रोकथाम से हो सकता है। कभी-कभी बीयर पीते हों तो होंगे ये पांच फायदे हाल में हु एक शोध में यह माना गया है कि रेड वाइन में मौजूद एंटीएज‌िंग प्रोटीन रिजर्वेराट्रॉल एपोई4 और स‌रटी1 नामक तत्वों से संबंध है जिससे एल्जाइमर या याददाश्त से संबंधित समस्याओं से निपटने में दिमाग को आसानी होती है। व्हिस्की का इस्तेमाल देगा मुंहासों से छुटकारा शोध में लगे भारतीय वैज्ञान‌िक राममोहन राव का मानना है कि एपोई4 नामक प्रोटीन की अधिकता वाले लोगों में एल्जाईमर का रिस्क अधिक होता है और रेड वाइन में मौजूद प्रोटीन रिजर्वेराट्रॉल इसे रोकने में मदद करता है। शोधकर्ताओं का मानना है कि इस शोध से आगे चलकर याददाश्त संबंधी रोगों, खासतौर से एल्जाइमर का प्रभावी इलाज करने में आसानी हो सकती है लेकिन इसके लिए अभी अध्ययन की आवश्यकता है।

Oct 27, 2013

इस बार कुछ अलग होगा ढाई किलो का हाथ 

सनी देओल की नई फिल्म साहब सिंह ग्रेट में इस बार सनी का अंदाज बदला हुआ होगा। इस बार एक्‍शन भी कुछ अलग होगा। ढाई किलो का हाथ जब किसी पर पड़ता है तो क्या होता है सब जानते हैं... लेकिन सनी देओल का अंदाज इस बार कुछ अलग है। अगले महीने रिलीज हो रही उनकी फिल्म ‘सिंह साहब द ग्रेट’ में सनी के तेवर तो पुराने हैं लेकिन नारा जरा नया है। सनी इस बार किसी से बदले के नहीं बदलाव के मिशन पर हैं। इसी कारण फिल्म में उनका नारा ‘बदला नहीं बदलाव’ है। निर्माता-निर्देशक अनिल शर्मा की इस फिल्म में सनी देओल देश के भ्रष्ट सिस्टम के खिलाफ लड़ाई लड़ते नजर आएंगे और इस लिहाज से यह इस जोड़ी की अब तक की सबसे अलग फिल्म है। अपनी पिछली फिल्मों में पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देने वाली निर्देशक-ऐक्टर की यह कामयाब जोड़ी देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ दिखने वाली नई चेतना के साथ खड़ी नजर आती है। ऐसे में सिंह साब उर्फ सनी देओल देश को अपने भ्रष्ट आचरण से खोखला करने वालों को मजा चखाते दिखेंगे। फिल्म नवंबर में रिलीज होनी है, जबकि इसका संगीत सोमवार 28 अक्तूबर को मुंबई में रिलीज किया जा रहा है।

पटना में मोदी की रैली से पहले, दो घंटे में छह धमाके

नरेंद्र मोदी की रैली से पहले दो घंटे के अंदर छह धमाके हुए हैं। इन धमाकों में एक शख्स की मौत हो गई है। गृहमंत्रालय ने 6 धमाकों की पुष्ट‌ि की है। खबरों के मुताब‌िक धमाके देसी बम से हुए हैं। धमाके कम तीव्रता के थे। गांधी मैदान पर ही कई धमाकों की खबर है। इन धमाकों में कई लोगों के घायल होने की खबर है। पहला धमाका पटना रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 10 के शौचालय में हुआ। धमाके में टाइमर का इस्तेमाल भी हुआ है। पहले धमाके में घायल शख्स की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई है। रेलवे स्टेशन पर दूसरा धमाका बरामद बम ड‌िफ्यूज करते हुए हुआ। पुल‌िस ने धमाके के स्थान पर से बैट्री और तार बरामद क‌िए हैं। इन धमाकों पर गृहमंत्रालय ने ब‌िहार सरकार से जानकारी मांगी है। धमाके की जांच के ल‌िए मौके पर एनआईए की टीम भी पहुंची है। नरेंद्र मोदी की पटना के गांधी मैदान में होने वाली रैली को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। रैली में शामिल होने बड़ी संख्या में लोग ट्रेन से पटना पहुंच रहे हैं। पु‌ल‌िस के मुताब‌िक धमाका देसी बम से हुआ था। पु‌ल‌िस ने इलाके को घेर ल‌िया है और बम न‌िरोधक दस्ता रेलवे स्टेशन पर पहुंच गया है। अभी कोई जानकारी नहीं इस धमाके पर भाजपा के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा क‌ि मामले की पूरी जानकारी नहीं है। उन्हें जानकारी व‌िदेश से आई कॉल के जर‌िए म‌िले। सुशील मोदी ने कहा अभी इसके बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी। प्रशासन इस मामले पर नजर बनाए हुए है। सुशील मोदी ने बताया क‌ि उन्होंने डीएम को जानकारी देकर इस घटना के बारे में बताया। डीएम के संज्ञान में इस तरह की कोई घटना नहीं थी।

पाकिस्तान के 90 फीसदी परमाणु हथियार अलर्ट 

पाकिस्तानी सीनेट की रक्षा समिति के सेमिनार में बात सामने आई है क‌ि 90 फीसदी परमाणु हथ‌ियार अलर्ट हैं। भारत के ल‌िए ये बात च‌िंताजनक साब‌ित हो सकती है। बीते हफ्ते भारत और पाकिस्तान के उर्दू अख़बारों में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ़ के बयानों और उनके अमरीकी दौरे की खासी चर्चा रही। कई भारतीय अख़बारों ने जहां कश्मीर के मुद्दे पर अमरीकी मध्यस्थता वाले नवाज शरीफ के बयान की चर्चा की तो पाकिस्तानी अख़बारों में ड्रोन हमलों को बंद करने की उनकी मांग पर ख़ास तौर से लिखा गया। लेकिन दिल्ली से छपने वाले 'हमारा समाज' ने अमरीका पर अपने मित्र देशों की जासूसी के आरोपों पर संपादकीय लिखा- क्या अमरीका पतन की तरफ बढ़ चला है। ब्रितानी अख़बार 'गार्डियन' की रिपोर्ट का हवाला देते हुए अख़बार कहता है कि दुनिया के कम से कम 35 नेताओं की अमरीका ने जासूसी की। अख़बार लिखता है कि ये पहला मौक़ा है जब अमरीका के मित्र देशों में उसका इतना विरोध हो रहा है और आने वाले दिनों मे ये सिलसिला तेज़ हो सकता है। अख़बार ने कुछ जानकारों के हवाले से कहा है गया है कि जासूसी के इन आरोपों से अमरीका और उसके मित्र देशों में आई दरार आने वाले वर्षों उनके गठबंधन के लिए ख़तरनाक साबित हो सकती है। बचकाना बयान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हालिया बयान पर अख़बार-ए-मशरिक़ लिखता है कि पहली बार किसी राजनेता के मुंह से ये बात निकली है कि पाकिस्तानी ख़ुफिया एजेंसी आईएसआई मुज़फ़्फरनगर दंगों के कुछ पीड़ितों को चरमपंथी बनने के लिए उकसा रही है। उनके इस बयान पर उठे सियासी तूफान का जिक्र करते हुए अख़बार ने लिखा है कि राहुल गांधी समझते हैं कि उन्होंने अपनी तरंग में ये सनसनीखेज बयान देकर दूर की कौड़ी खेली है, लेकिन उनका ये बयान न सिर्फ़ बचकाना है बल्कि बहुत ही ग़ैर ज़िम्मेदाराना है। 'हिंदोस्तान एक्सप्रेस' ने कश्मीर पर अमरीकी मध्यस्थता को लेकर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के हालिया पर बयान लिखा है- 'मियां साहब घर की खबर लें'। अख़बार लिखता है कि अब शरीफ से कौन पूछे कि दोतरफ़ा मसले के हल के लिए उन्हें मध्यस्थ की ज़रूरत क्यों महसूस हुई, और मध्यस्थ भी अमरीका जिसके बार में माना जाता है कि वो समस्या को जन्म तो दे सकता है लेकिन उसे हल नहीं। इराक़ की तबाही और अफगानिस्तान की बर्बादी को देखते हुए तो नवाज शरीफ की मांग को खाम ख़्याली न करार देने की कोई वजह नहीं दिखती है। 'शांतिपूर्ण विरोध' उधर पाकिस्तानी उर्दू अख़बारों में प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की अमरीकी यात्रा हफ़्ते भर छाई रही। ख़ासकर ड्रोन हमलों को लेकर दैनिक 'ख़बरें' लिखता है कि ड्रोन बंद हमले हो, ये पाकिस्तानी जनता के दिल की आवाज है, इसीलिए प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने अमरीकी दौरे में इसे ज़ोर शोर से उठाया। लेकिन अख़बार का कहना है कि ये पहला मौक़ा नहीं है जब ड्रोन हमलों का विरोध किया गया लेकिन मदमस्त हाथी ने पाकिस्तान तो क्या इस बारे में संयुक्त राष्ट्र तक की नहीं सुनी और गैरकानूनी तरी से ड्रोन हमले जारी हैं। इसी विषय पर दैनिक औसाफ़ ने दिलचस्प कार्टून बनाया है जिसमें एक बैनर के छोर शाहीन मिसाइल और गौरी मिसाइल से बंधे और उस लिखा है शांतिपूर्वक विरोध। ड्रोन हमले बंद करो प्लीज। इसी विषय पर जंग ने इस ख़बर को हेडलाइन दी, ड्रोन की नीति में कोई बदलाव नहीं होगा -अमरीका। दैनिक 'आजकल' ने अपने कार्टून में ओबामा को नवाज शरीफ के कंधे पर बैठकर अफ़ग़ानिस्तान के भंवर से निकलते हुए दिखाया है। कार्टून में ओबामा जहां अफ़ग़ानिस्तान से निकलने पर ख़ुश हैं, वहीं नवाज शरीफ उनके हाथ में लहरा रहे डॉलर देख कर फूले नहीं समा रहे हैं। दैनिक 'पाकिस्तान' ने अपने पहले पन्ने पर ख़बर लगाई है-पाकिस्तान के पास 110 और भारत के पास 100 परमाणु बम। अख़बार के मुताबिक ये बात पाकिस्तानी सीनेट की रक्षा समिति के सेमिनार में सामने आई। इनमें से 90 फीसदी वॉरहेड्स अपनी पोज़िशन पर अलर्ट हैं। बात अगर पूरी दुनिया में मौजूद परमाणु बमों की करें तो अख़बार ने एक ऑस्ट्रेलियाई रिपोर्ट के हवाले से इसकी तादाद 17 हजार 876 बताई है। अख़बार कहता है कि सेमिनार सवाल उठाया गया कि पाकिस्तान के परमाणु हथियारों के बारे में ऊट पटांग दुष्प्रचार करने वाले इसराइल और भारत के परमाणु कार्यक्रम को क्यों भूल जाते हैं।

यूपी: राहुल गांधी के खिलाफ दो केस दर्ज 

कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ सीएमएम प्रफुल्ल कमल की कोर्ट में परिवाद दर्ज कराया गया है। इसमें अल्पसंख्यकों की भावनाओं को भड़काने और राष्ट्रीय एकता के प्रतिकूल भाषण देने का आरोप लगाया गया है। अब इस मामले पर 30 अक्तूबर को सुनवाई होगी। उस दिन परिवादियों के बयान दर्ज होंगे। वहीं, सीसामऊ विधानसभा क्षेत्र प्रभारी चमनगंज निवासी फरहान लारी ने भी सीएमएम कोर्ट में राहुल के खिलाफ मानहानि का परिवाद दर्ज कराया है। परिवाद में कहा गया है कि राहुल ने भारतीय मुसलमानों को आईएसआई से जोड़कर उनका अपमान किया है। इसकी सुनवाई 12 नवंबर को होगी। वाई ब्लॉक किदवई नगर निवासी ज्ञानेश मिश्र और मीरपुर कैंपस कैंट निवासी मो. इस्लामुद्दीन ने राहुल गांधी के खिलाफ परिवाद दर्ज कराने को अर्जी दी। इसमें कहा गया है कि राहुल गांधी ने इंदौर में 24 अक्तूबर को जनसभा को संबोधित करते हुए मुजफ्फरनगर में हुए दंगों में प्रभावित अल्पसंख्यकों की भावनाओं को भड़काने और आहत करने वाला भाषण दिया था। इसलिए उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 153 ए और 153 बी का अपराध बनता है। उनका बयान गैर जिम्मेदाराना, राष्ट्र विरोधी और भारतीय खुफिया एजेंसी की कार्यशैली पर प्रश्न चिह्न लगाने वाला है क्योंकि भारतीय खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट केवल गृह मंत्रालय द्वारा ही सार्वजनिक की जा सकती है। अधिवक्ता चंद्रकांत शर्मा ने बताया कि कोर्ट ने परिवाद दर्ज कर लिया है।

आसाराम की फांसी के लिए सत्याग्रह पर बैठा बाबा

यौन शोषण मामले में फंसे आसाराम के खिलाफ वृंदावन के मोहना नंद उर्फ लाल बाबा ने अपनी पत्नी को गायब करने का आरोप लगाते हुए सत्याग्रह शुरू किया है। शनिवार को लाल बाबा ने गोरखपुर कलेक्ट्रेट में सत्याग्रह किया। इसके पहले वह कई अन्य स्थानों पर भी सत्याग्रह कर चुके हैं। लाल बाबा का कहना है कि तीर्थाटन के दौरान नौ फरवरी वर्ष 2009 को पत्नी रामदासी के इलाज के लिए वह आसाराम के अहमदाबाद आश्रम में गए थे, जहां से उनकी पत्नी गायब हो गईं। लाल बाबा ने आरोप लगाया है कि पत्नी रामदासी को उन्होंने महिला आश्रम में भेजा। कुछ देर बाद जब वह उन्हें ढूंढते पहुंचे तो अंदर नहीं जाने दिया गया। आश्रम के संचालक योगेश ने भी उन्हें टाल दिया। काफी कोशिशों के बाद चांदखेड़ा पुलिस चौकी में उनकी तहरीर ली गई और आश्रम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया, लेकिन उनकी पत्नी नहीं मिली। लाल बाबा गृह राज्य मंत्री, महिला और मानवाधिकार आयोग तथा राज्यपाल से भी फरियाद कर चुके हैं। उनका आरोप है कि 17 अक्तूबर को वृंदावन में एक सुबह उन पर जानलेवा हमला भी हुआ, जिसके बाद वह आसाराम की फांसी और उनके खिलाफ लोगों को जागरूक करने सत्याग्रह पर चल दिए हैं। उन्होंने बताया कि अगले दिन उनका सत्याग्रह बिहार में होगा

'मोदी और राहुल उड़ा रहे देश का मजाक' 

भाकपा माले के प्रांतीय सचिव राजेंद्र प्रथोली ने कहा कि केंद्र में सत्तारूढ़ कांग्रेस और मुख्य विपक्षी दल भाजपा को देश की समस्याओं से कुछ लेना-देना नहीं है। कांग्रेस राहुल गांधी को और भाजपा नरेंद्र मोदी को देश की समस्याओं के समाधान के तौर पर पेश कर रही है। भाजपा और कांग्रेस दोनों दल इस मानसिकता से देशवासियों का मजाक उड़ा रहे है। पढें, गजब! IMA में फर्जीवाड़े का खुलासा पीछे, भर्ती पहले मोदी के विकास का मॉडल कारपोरेट फासीवाद का मॉडल उन्होंने कहा मोदी के विकास का मॉडल कारपोरेट फासीवाद का मॉडल है। प्रथोली ने यह बात पार्टी के राज्य स्तरीय दो दिवसीय पार्टी स्कूल शिविर के उद्घाटन करते हुए अल्मोड़ा में कही। उन्होंने कहा कि स्वयं को गरीबों का मसीहा की तरह पेश करने वाले राहुल गांधी की सरकार द्वारा लागू नवउदारवादी नीतियों के चलते ही वर्ग भेद और समाज में असंतोष बढ़ रहा है। पढें, उत्तराखंड का शिक्षा मंत्री भगोड़ा घोषित, कुर्की के निर्देश आपराधिक लापरवाही बरतने का आरोप उन्होंने कहा कि जोड़-तोड़ से बनने वाले किसी राजनीतिक मोर्चे के बजाए जन संघर्षों से ही देश का भला हो सकता है। केंद्रीय कमेटी के सदस्य राजा बहुगुणा ने सरकार पर आपदा से निपटने में आपराधिक लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। उन्होंने देहरादून और गैरसैंण में दो स्थानों पर राजधानी निर्माण को नौटंकी बताते हुए प्रदेश सरकार पर जनभावनाओं के साथ विश्वासघात करने का आरोप लगाया। पढें, वाह! 'भेजा' है या कम्‍प्यूटर, तोड़ डाले नेशनल रिकार्ड महिला समस्या विषय पर पेपर उन्होंने कहा कि दंगे में गिरफ्तार रुद्रपुर विधायक के समर्थन में भाजपा का जुटना पार्टी के सांप्रदायिक-फासीवादी चरित्र का प्रमाण है। सांप्रदायिकता पर कांग्रेस का रवैया भी ढुलमुल रहा है। प्रशिक्षण शिविर में इंद्रेश मैखुरी ने राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय और केके बोरा ने महिला समस्या विषय पर पेपर प्रस्तुत किया। उद्घाटन सत्र का संचालन पुरुषोत्तम शर्मा ने किया। पढें, लव एक्सप्रेसः हम दोनों दो प्रेमी शर्ते तोड़ चले इस मौके पर आनंद सिंह नेगी, श्याम बिष्ट, जगत मर्तोलिया, सुरेंद्र बृजवाल, अतुल सती, मदन मोहन चमोली, केपी चंदोला, दीपा पांडे, किशन कुंवर, हीरा मेहता, सुशील खत्री, राजेंद्र साह, ललित मटियानी सहित कुमाऊं और गढ़वाल के विभिन्न जिलों से सदस्य पहुंचे हैं। मुख्य रूप से चार विषयों पर केंद्रित रहेगा पार्टी स्कूल राज्य स्तरीय पार्टी स्कूल में पार्टी के प्रस्तावित नौवें अधिवेशन के दस्तावेजों का अध्ययन कराया जा रहा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता पुरुषोत्तम शर्मा ने बताया कि पार्टी स्कूल में मुख्य रूप से चार विषयों पर अध्ययन किया जाएगा। पार्टी स्कूल में इंद्रेश मैखुरी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय परिस्थितियां, केके बोरा महिला विषय, कैलाश पांडे भाकपा माले के बुनियादी कार्यक्रम और पुरुषोत्तम शर्मा पार्टी संगठन विषय पर अपने पेपर प्रस्तुत करेंगे।

कृष 3 के साथ-साथ धूम 3 का भी मजा फ्री में 

कुछ दिन पहले विंडोज फोन यूजर्स के लिए कृष 3 गेम को लॉन्च किया गया था। विंडोज फोन यूजर्स के लिए एक और खुशखबरी ये है कि अब आमिर खान की आने वाली फिल्म धूम 3 के गेम को विंडोज फोन के लिए लॉन्च किया गया है। अगर आपको एक्शन फिल्म थीम पर गेम खेलना पसंद है तो विंडोज फोन यूजर्स के लिए ऐप स्टोर पर दोनों एक्‍शन से भरपूर फिल्म कृष 3 और धूम 3 के ऑफिशयल गेम मौजूद हैं। क्या आपने अब तक डाउनलोड नहीं किया कृष-3 को? धूम 3 की निर्माता कंपनी यश राज फिल्म्स ने गेम डिवेलपर 99 गेम्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिलकर धूम 3 गेम को तैयार किया है। इस गेम का प्लेयर आमिर खान के तौर पर खेलता नजर आएगा। अभिषेक बच्चन और उदय चोपड़ा अपनी-अपनी बाइक्स उसका पीछा करते नजर आएंगे। गेम में शिकागो का बैकग्राउंड लिया गया है। यह 3 डी मोटो रेसिंग गेम है। इसमें कई टेम्पल रन और सबवे सर्फर जैसे पॉप्युलर गेम्स के कई फीचर हैं। धूम 3 के 26 एमबी के इस गेम को विंडोज फोन स्टोर से फ्री डाउनलोड किया जा सकता है।

चर्चा में: फ्लॉप रणबीर, मुफ्त में नाचे शाहरुख 

बॉलीवुड गलियारों में इन दिनों रणबीर कपूर की असफलता और शाहरुख के फ्री में नांचने की खबरें चर्चाओं में हैं। *बॉलीवुड अभिनेत्रियों से तो प्रियंका चोपड़ा टक्कर लेती रहती हैं। लेकिन संगीत की दुनिया में इन दिनों उनका मुकाबला अंतरराष्ट्रीय जगत में फ्रीडा पिंटो से हो रहा है। प्रियंका के गाने ‘इन माई सिटी’ की टक्कर फ्रीडा के वीडियो एलबम गीत ‘गोरिल्ला’ से है। यह गाना ब्रूनो मार्स ने गाया है, जिसमें फ्रीडा सेक्स वर्कर के रूप में पोल डांस कर रही हैं। फ्रीडा ने इसमें काफी सेक्सी अदाएं दिखाई हैं। अब प्रियंका की चिंता है कि फ्रीडा को पछाड़ने के लिए क्या करें? *आखिरकार रणबीर कपूर ने मान लिया है कि कुछ कमियों के कारण उनकी फिल्म ‘बेशरम’ फ्लॉप हो गई। उनका कहना है कि इसके लिए वे अकेले जिम्मेदार नहीं हैं। बल्कि फिल्म पिटने की वजह वह और डायरेक्टर अभिनव कश्यप दोनों हैं। वाकई, अभिनव भी कपूर की इस बात से राहत महसूस कर रहे होंगे क्योंकि बहुत सारे लोग अकेले उनके सिर पर ठीकरा फोड़ रहे थे। *शाहरुख खान यूं तो पार्टियों-शादियों में नाचने का पैसा लेते हैं, लेकिन बीते बृहस्पतिवार को वे मुफ्त में नाचे! जी हां, निर्माता-निर्देशक सुभाष घई की शादी और उनके प्रोडक्शन हाउस मुक्ता आर्ट्स की 36वीं सालगिरह का मौका था। शाहरुख खान लोगों को चौंकाते हुए न केवल पार्टी में आए, बल्कि टेबल पर चढ़ कर उन्होंने जमकर डांस किया। गाना था फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ का ‘हवन करेंगे... हवन करेंगे... हवन करेंगे...’!

कटक में मैच नहीं हुआ तो क्या, एक इतिहास तो बन गया! 

कटक में भले ही एक भी गेंद फेंके बगैर वनडे मैच रद्द हो गया हो, लेकिन इस मैदान पर एक अजीब सा इतिहास बन गया। सात मैचों की वनडे सीरीज का पांचवां मैच कटक के बाराबाती स्टेडियम में शनिवार को खेला जाना था। लेकिन पिछले कई दिनों से हो रही बारिश के कारण मैच रेफरी रोशन महानामा ने समय से पहले ही मैच को रद्द कर दिया। सात मैचों की वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया मेजबान टीम से 2-1 से आगे है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस मैदान पर ऐसा दूसरी बार हुआ है जब बारिश के कारण एक भी गेंद फेंके बगैर मैच को रद्द कर दिया गया। इससे पहले भी इन दोनों टीमों के बीच 1996-97 में त्रिकोणीय वनडे सीरीज का छठा मैच यहां खेला जाना था, लेकिन 27 अक्टूबर 1996 को भी भारी बारिश के कारण मैच से पहले ही खेल को रद्द कर दिया गया। ठीक 17 साल बाद बाराबाती स्टेडियम में एक बार फिर बारिश ने मैच को रद्द कराकर अपना इतिहास दोहरा दिया। फुटबॉल मैच भी हुए इस स्टेडियम में क्रिकेट मैच के अलावा शीर्ष स्तर के फुटबॉल मैच भी खेले गए हैं। यहां पर दो टेस्ट और दो ट्वंटी-20 मैच के अलावा 18 वनडे हुए हैं। कटक के बाराबाती स्टेडियम में अब तक 18 वनडे मुकाबले हुए हैं और दो बार एक भी गेंद फेंके बगैर मैच को समाप्त करना पड़ा और दोनों ही मैच भारत तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच होने थे। टेस्ट मैच भी बारिश की भेंट चढ़ा दो वनडे के अलावा एक टेस्ट मैच भी बारिश से प्रभावित रहा है। नवंबर, 1995 में भारत और न्यूजीलैंड के बीच पांच दिवसीय मैच में लगभग तीन दिन बारिश की भेंट चढ़ गए। मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ।

तलाकशुदा पत्नी को न मिले संपत्ति, फेंक दिए 3 करोड़! 

एक शख्स ने अपनी पत्नी को तलाक के बाद संपत्ति में हिस्सा न देने के लिए तीन करोड़ से ज्यादा कीमत के गोल्ड इन्वेस्टमेंट कागजात को कूड़े में फेंक दिया। कोलोराडो के रहने वाले 50 साल के अर्ल रे जोन्स ने जुलाई में कोर्ट को बताया था कि वह इन दस्तावेजों को कोलोराडो स्प्रिंग्स मोटल के पीछे कूड़े में फेंक आया है। जोन्स ने बताया कि वह नहीं चाहता था की तलाक के बाद उसकी 25 साल की पत्नी को संपत्ति में हिस्सा मिले। हालांकि उसके गोल्ड इन्वेस्टमेंट दस्तावेज फेंकने के कोई पक्के सबूत नहीं मिले हैं। जोन्स पूर्व डिफेंस कांट्रैक्टर के तौर पर काम करता था। वह इस समय टेलर कोर्ट जेल में है, उसे अपनी पत्नी से मारपीट और उसके सामान पर कब्जा करने के लिए नवंबर में सजा हुई थी। इसके बाद पत्नी ने अदालत में तलाक की अर्जी दी थी। इस मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद जोन्स को लगभग पांच लाख सालाना रुपए की नौकरी भी छोड़नी पड़ी थी। कूड़े को निपटाने का प्रबंधन करने वाली कंपनी का कहना है कि तीस हजार टन कूड़ा हर महीने फेंका जाता है। अगर जोन्स की पत्नी के गोल्ड के शेयर इस कचरे में मिलते हैं तो वो उन्हीं के होंगे।

सचिन की विदाई को लेकर हरियाणा तैयार

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर हरियाणा के लाहली में मुंबई की रणजी टीम की ओर से रविवार को अंतिम बार उतरेंगे। इस दिग्गज बल्लेबाज को घरेलू क्रिकेट में अंतिम बार देखने के लिए पहलवानों के गांव लाहली में क्रिकेट की दीवानगी भर दी है। गत चैंपियन मुंबई का मेजबान टीम के खिलाफ मैच काफी अहम है क्योंकि यह वेस्ट इंडीज के खिलाफ अगले महीने होने वाली सीरीज से पूर्व तेंदुलकर का अंतिम मैच होगा। इस मैच में मुंबई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। वेस्ट इंडीज के खिलाफ इस सीरीज के मुंबई में होने वाले दूसरे और अंतिम टेस्ट के साथ तेंदुलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे और यह उनके 24 साल के गौरवपूर्ण अंतरराष्ट्रीय करियर का अंत होगा। तेंदुलकर ने इससे पूर्व इसी महीने घोषणा की थी कि वह वेस्ट इंडीज के खिलाफ 14 से 18 नवंबर तक अपना 200वां टेस्ट खेलने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे। गौरतलब है कि हरियाणा के खिलाफ 1991 में रणजी फाइनल के दौरान 18 वर्षीय तेंदुलकर ने धमाकेदार पारी खेलकर कपिल देव की टीम की मुट्ठी से जीत लगभग छीन ही ली थी। साल 1991 में वानखेड़े स्टेडियम में हुए फाइनल के 22 साल बाद 40 साल के तेंदुलकर उस मैच में खेलने वाले अजय जडेजा के अलावा एकमात्र क्रिकेटर हैं और आज भी प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेल रहे हैं। रोहतक से 15 किमी दूर लाहली के चौधरी बंसी लाल स्टेडियम में अब स्थानीय लोग तेंदुलकर का दीदार पाने को बेताब हैं। तेंदुलकर ने टीम के साथ वानखेड़े स्टेडियम में चार दिन तक ट्रेनिंग की है और वह काफी अच्छी लय में दिख रहे हैं। आम तौर पर शांत रहने वाले लाहली में तब से हलचल तेज हो गई है जब से पता चला है कि तेंदुलकर वेस्ट इंडीज के खिलाफ आगामी सीरीज से पूर्व यहां अपना वॉर्म अप मैच खेलेंगे। तेंदुलकर इस मैच के अपने एक पुराने साथी टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज अजय जडेजा के खिलाफ खेलेंगे। जडेजा हरियाणा की ओर से घरेलू क्रिकेट में वापसी कर रही है और उनकी अगुआई में टीम ने इस साल बुची बाबू टूर्नामेंट का खिताब भी जीता। दिसंबर 1988 में रणजी में पदार्पण के बाद तेंदुलकर ने मुंबई के लिए अब तक 37 रणजी टॉफी मैच खेले। उन्होंने अपना पिछला रणजी मैच इस साल जनवरी में सौराष्ट्र के खिलाफ वानखेड़े स्टेडियम में फाइनल के रूप में खेला था। पिछले सत्र में भी तेंदुलकर ने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज से पूर्व रणजी में मुंबई का प्रतिनिधित्व किया था। रविवार के मैच में कई स्टार खिलाड़ी मुंबई का प्रतिनिधित्व करेंगे जिसमें तेंदुलकर के अलावा जहीर खान और अजिंक्य रहाणे भी शामिल हैं। भारतीय टीम में वापसी की कवायद में जुटे जहीर ने हाल में फ्रांस और साउथ अफ्रीका में कड़ी ट्रेनिंग में हिस्सा लिया था। तेंदुलकर को करीब से देखने के लिए स्थानीय लोग बेताब हैं जिससे टिकटों की भारी मांग है।

मुंह का बैक्टीरिया बन जाएगा मोबाइल पासवर्ड! 

इसमें कोई दो राय नहीं है कि इन दिनों मोबाइल सिर्फ फोन न रहकर हमारी व्यक्तिगत जानकारी की तिजोरी बन चुका है। जाहिर है, इसी वजह से हमें मोबाइल और अपने डाटा को सुरक्षित रखने की जरूरत पड़ती है। मोबाइल स्क्रीन को लॉक और अनलॉक करने के लिए मोबाइल कंपनियां नए-नए तरीके जैसे पैटर्न लॉक, फिंगरप्रिंट लॉक, रेटिना लॉक की तकनीक यूजर्स के सामने पेश कर चुकी हैं। साथ ही नई चीजों पर भी हाथ आजमा रही हैं। गूगल के चमत्कारी चश्मे को माइक्रोसॉफ्ट देगा टक्कर लेकिन यह खबर एक कदम और आगे की है। भारतीय मूल के एक वैज्ञानिक ने बैटीरिया पर एक नई शोध की है। इस शोध के अनुसार इनसान के मुंह में जो बैक्टीरिया होते हैं, वे एक-दूसरे से मेल नहीं खाते। इनका इस्तेमाल इंसान की पहचान के रूप में भी किया जा सकता है। इस शोध ने पाया गया कि इंसान के मसूड़े में पाए जाने वाले ये बैक्टीरिया, फिंगरप्रिंट से ज्यादा प्रभावशाली होते हैं। साथ ही ये इंसान की पहचान बताने में भी सक्षम होते हैं। एंड्रॉयड, आईओएस, विंडोज को चुनौती देगा ये स्मार्टफोन वैज्ञानिकों ने 100 अलग-अलग लोगों पर शोध में इस बैक्टीरिया की 400 से अधिक अलग-अलग प्रजातियां पाई हैं। ज्यादा बैक्टीरिया अलग-अलग थे, जबकि ऐसे बैक्टीरिया काफी कम रहे, जो एकसमान थे। जो एकसमान थे, उनमें भी अलग-अलग मुल्क के हिसाब से कुछ अंतर पाया गया। अगर इस संबंध में और जानकारी इकट्ठा की गई तो निश्चित रूप में इन बैक्टीरिया का इस्तेमाल मोबाइल स्क्रीन को अनलॉक करने में शामिल किया जा सकेगा।

Oct 25, 2013

टाटा नैनो में बैठ गश्त लगाएंगे यहां के पुलिस वाले

भारत की सबसे ज्यादा किफायती कार टाटा नैनो एक नए अवतर में दिखाई दी। इसका नया अवतार‌ दिल्ली पुलिस की आपातकाल वाहन के रूप में दिखाई दिया। नई दिल्ली में चल रहे इंडिया इंटरनेशनल सिक्योरिटी एक्सपो के दौरान यूनियन होम सिक्रेटरी अनिल गोस्वामी ने पुलिस पीसीआर नैनो कार से पर्दा हटाया। नैनो पीसीआर (पुलिस कंट्रोल रूम) गा‌ड़ी को महिला पुलिस के द्वारा ड्राइव किया जाएगा। नैनो पीसीआर का खास मकसद बच्चों और महिलाओं को आपातकाल सहायता पहुंचाना होगा। सिक्योरिटी फर्म ग्रैंड के मोंटी सिंह ने कार को लॉन्च करते समय कहा, "हम बड़ी पीसीआर कार की जगह इस छोटी नैनो पीसीआर कार को पेश कर रहे हैं। हम जाना चाहेंगे कि क्‍या ये छोटी कार पुलिस और अन्य एजेंसियों के कार्य में सही ढंग से काम करती है?"

इसके आगे भूल जाएंगे टोयोटा फॉरच्युनर को 

फेस्टिव सीजन में कई कार कंपनियों ने नए मॉडल बाजार में उतारे हैं। इसके अलावा कुछ कंपनियों ने इस सीजन में अपने लोकप्रिय मॉडल के नए एडिशन भी बाजार में पेश किए हैं। टोयोटा ने अपनी लग्जरी एसयूवी कार फॉरच्युनर का टीआरडी स्पोर्टीवो के नाम लिमिटेड एडिशन लांच किया है। नया लुक और डिजाइन देने के लिए कंपनी ने इसमें ड्यूल फ्रंट और रीयर बंपर स्पोइलर, रेडियटर ग्रिल पर टीआरडी एंबलेम, बॉडी पर टीआरडी स्ट्रीप्स, बैक पैनल पर रूफ स्पॉइलर वैगराह दिया गया है। ये है दुनिया की सबसे महंगी कार, कीमत हैरान करने वाली कंपनी ने नई फॉरच्युनर को सुपर व्हाइट तथा सिल्वर माइका मेटेलिक दो रंगों में पेश किया है। कंपनी फॉरच्युनर का लिमिटेड एडिशन मॉडल की केवल 400 यूनिट्स ही बेचेगी जो इस साल दिसंबर तक उपलब्ध होगी। टोयोटा ने अपनी इस ग्लोबल एसयूवी को भारतीय बाजार में वर्ष 2009 उतारा था। इसके अलावा हाल ही में इनोवा, एटिओज सेडान तथा एटिओज लीवा हेचबैक के भी लिमिटेड एडिशन लांच कर चुक है। टोयोटा फॉरच्युनर का लिमिटेड एडिशन नई दिल्ली एक्स-शोरूम पर पर इसकी कीमत 24.26 लाख रुपए रखी गई है।

अरे वाह! गाय की डकार से दौड़ेगी आपकी कार

देश-दुनिया में सस्ती कार भले आ गई हों, लेकिन इन कारों को चलाने वाला ईंधन कहीं सस्ता नहीं दिखता। इसलिए अकसर कार को घर से बाहर निकालने से पहले कई बार सोचना पड़ता है। लेकिन अब शायद चिंता दूर हो जाए। वैज्ञानिकों ने इसका भी उपाय खोज निकाला है। अर्जेंटीना के वैज्ञानिकों ने गाय के पाचन तंत्र से फ्यूल बनाने का फार्मूला ढूंढा है। ये है दुनिया की सबसे महंगी कार, कीमत हैरान करने वाली वैज्ञानिकों का ये आविष्कार ग्रीन हाउस गैस के प्रभाव को भी कम करने का काम करेगा, साथ ही इस फ्यूल का इस्तेमाल कार व बड़ी-बड़ी मशीनों को चलाने में भी होगा। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर, अर्जेंटीना ने गाय के पाचन तंत्र से फ्यूल बनाने के लिए खास वॉल्व और पंप तैयार किए हैं। इस वॉल्व और पंप के जरिए से गाय के पाचन तंत्र से फ्यूल को एक टैंक में इकट्ठा कर लिया जाएगा। कैसे दौड़गी कार गाय के पाचन तंत्र से निकालने वाली गैसे को वॉल्व और पंप के जरिए से गाय के पाचन तंत्र से फ्यूल को एक टैंक में इकट्ठा कर लिया जाएगा। इस बाद इस गैसे से मिथेन गैसे अलग कर लिया जाएगा। फुल स्पीड फेस्टिवलः देखें सुपरबाइक के सुपर नजारे मिथेन नेचुरल गैस का सबसे खास हिस्सा होती है। कंप्रेस्ड नेचुरल का इस्तेमाल कार और कारखाने की मशीनों को चालाने के लिए किया जाता है। सीबीसी के रिपोर्ट के अनुसार एक गाय से प्रतिदिन 250-300 लीटर मिथेन गैस निकाली जा सकती है।

नीतीश ने मोदी को बुलेटप्रूफ SUV देने से किया इनकार

बिहार सरकार के पास भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के लिए बुलेटप्रूफ एसयूवी नहीं है। गुजरात सरकार की एसयूवी गाड़ी की मांग को बिहार ने मानने से इनकार कर दिया है। गुजरात सरकार ने बिहार से अनुरोध किया था कि मोदी को पटना में 'हुंकार रैली' के दौरान बुलेटप्रूफ एसयूवी उपलब्ध कराई जाए। नरेंद्र मोदी 27 अक्तूबर को पटना में एक रैली को संबोधित करने वाले हैं। इस दौरान मोदी यहां तीन घंटे रुकेंगे। उनकी सुरक्षा के लिए मद्देनजर एसयूवी की मांग की गई। गुजरात सरकार की मांग पर बिहार ने एसयूवी देने में असमर्थतता जताते हुए बुलेट प्रूफ एम्बेसडर कार उपलब्ध कराने की पेशकश की है। लेकिन गुजरात के पुलिस अधिकारियों ने एसयूवी को ही प्राथमिकता दी। असल में सुरक्षा के मामले में एसयूवी को एम्बेसडर से बेहतर माना जाता है। बिहार के इनकार के पीछे कारण यह बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 28 और 29 अक्तूबर को जदयू के 'चिंतन शिविर' के लिए राजगीर के दो दिवसीय दौरे पर हैं। बिहार सरकार के पास केवल दो बुलेटप्रूफ एसयूवी हैं जो इस दौरे के काफिले में इस्तेमाल हो रही हैं। इस सप्ताह दोनों राज्यों के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच फोन पर हुई बातचीत के दौरान गुजरात ने एसयूवी के लिए मौखिक अनुरोध किया था। बिहार सरकार के इस रवैये को देखते हुए गुजरात ने रिमोट कंट्रोल विस्फोटक और बुलेटप्रूफ मंच को लेकर भी पूछताछ की थी। हालांकि बिहार ने इनकी उपलब्धता का संकेत दिया है। रैली पर आयकर विभाग की नजर भारतीय जनता पार्टी की बिहार रैली पर आयकर विभाग की भी नजर है। विभाग ने भाजपा को रैली पर होने वाले खर्चे के संबंध में नोटिस भेजा है। इसमें रैली के खर्चे और कॉन्ट्रैक्टर्स को होने वाले भुगतान की विस्तृत जानकारी मांगी गई है। 'हुंकार रैली' काफी बड़े स्तर पर आयोजित की जा रही है। इसे देखते हुए विभाग के एक अधिकारी के अनुसार रैली में लगने वाली लाइट, ट्रेन, बसें व अन्य वाहनों और प्रचार आदि के खर्चे की भी जानकारी मांगी है

आसाराम के सत्संग से 3 साल से गायब है नाबालिग 

बलात्कार के मामले में जोधपुर जेल में न्यायिक हिरासत काट रहे आसाराम पर एक नया आरोप लगा है। मामला छत्तीसगढ़ के रायपुर शहर का है। यहां तीन साल पहले आसाराम के सत्संग से एक नाबालिग लड़की गायब हुई थी जिसका आज तक कोई सुराग नहीं है। लड़की के परिजन पिछले तीन सालों से पुलिस के पास दर-दर भटक रहे हैं। दोबारा फाइल खोलने के निर्देश अब आसाराम यौन शोषण के आरोपी हैं, तो रायपुर की पुलिस भी सक्रिय हो उठी है। और डीजीपी ने एसपी को गुमशुदगी मामले की इस फाइल को दोबारा खोलने के निर्देश दिए हैं। मामला तीन साल पुराना है, नाबालिग अपने भाई के साथ साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित समारोह में दीक्षा लेने पहुंची थी। इस दौरान वह अचानक गायब हो गई। परिजनों ने उसके अपहरण या हत्या की आशंका जताई है। नहीं मिला सुराग नाबालिग की गुमशुदगी का मामला दर्ज करने के बाद दस्तावेजी खानापूर्ति करने के बाद जांच हुई, लेकिन घटना के तीन साल बीतने के बाद भी आज तक कोई सुराग नहीं मिल सका है। अब इस मामले की दोबारा जांच शुरू की जा रही है।

कुत्ता खा गया भांग तो गर्लफ्रेंड ने ब्वॉयफ्रेंड को मार दिया चाकू

शायद इसे ही कहते हैं करे कोई और भरे कोई। जैसे इस कुत्ते के किए की सजा बेचारे ब्वॉयफ्रेंड को भुगतनी पड़ी। ऑनलाइन नाइजीरिया की खबर के अनुसार, दक्षिण फ्लोरिडा की एक मॉडल को अपने ब्वॉयफ्रेंड पर चाकू से हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। दरअसल हुआ कुछ यूं कि उसके ब्वॉयफ्रेंड के कुत्ते ने उसकी छिपा हुई भांग चट कर दी थी। 26 वर्षीय शैडी स्टॉक ने जज को बताया कि वो एक मॉडल है। सुनवाई के दौरान जहां शैडी ने इस मामले को दुर्घटना बताया वहीं उसके ब्‍वॅरूफ्रेंड केविन ‌विगिंस का कहना है कि ये सबकुछ सोच-समझकर किया गया है। प्रेग्नेंसी की 9 ऐसी तस्वीरें, जो आपने आज तक नहीं देखी होंगी विगिंस ने बताया कि दोनों एक ही अपार्टमेंट में थे। तभी विगिंस के कुत्ते ने शैडी की रखी हुई भांग खा ली। इसी बात को लेकर दोनों के ‌बीच विवाद शुरू हो गया और बात चाकू मारने तक आ पहुंची। विगिंस के चेहरे पर चाकू के दो वार के ‌निशान हैं, जिसके आधार पर शैडी को गिरफ्तार कर लिया है।

शमी पर लट्टू हुए धोनी, बैली बोले सावधान रहें बल्‍लेबाज

सीरीज के अपने पहले ही वनडे मैच में तहलका मचाने वाले मोहम्मद शमी की दोनों कप्‍तानों ने तारीफ की है। सात मैचों की सीरीज के पहले तीन मैचों में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज खासकर इशांत शर्मा बुरी तरह से फ्लॉप रहे जिस कारण रांची में हुए चौथे वनडे में इशांत की जगह तेज गेंदबाज शमी को मौका दिया गया। पिछले साल की शुरुआत में पाकिस्‍तान के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज करने वाले मोहम्मद शमी ने ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत बेहद खराब कर दी और उसके तीन धाकड़ बल्‍लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाकर संकट में डाल दिया। शमी ने इस मैच में 42 रन पर तीन विकेट झटके थे। शमी ने अपनी स्विंग गेंदबाजी से कंगारू बल्‍लेबाजों को खूब परेशान ‌भी किया। उनकी गेंदबाजी क्षमता पर दोनों टीमों के कप्तानों की तारीफ की है। भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बेहतरीन प्रदर्शन की सराहना की है। वहीं विपक्षी कप्तानी जॉर्ज बैली ने अपने बल्‍लेबाजों को इस गेंदबाज से सजग रहने की सलाह दी है। 'बेहद समझदार गेंदबाज हैं' टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने रांची में बारिश के कारण रद्द हुए मैच के बाद कहा, ''शमी गेंद के साथ बहुत ही समझदारी के साथ खेल रहे थे। वह आपकी सोच से भी तेजी से गेंद करते हैं, जो काफी अहम है। वह अच्छे से गेंद कर रहे थे और विकेट निकाल रहे थे।" ऑस्ट्रेलिया की पारी में भारतीय खिलाड़ियों के खराब क्षेत्ररक्षण का बचाव करते हुए धोनी ने कहा, "कभी-कभी ऐसा होता है। हमने छह बार कैच छोड़े। लेकिन कुछ स्टेडियम ऐसे होते हैं, जहां पर क्षेत्ररक्षण करना कुछ मुश्किल होता है। हमें यकीन है कि अगले मैच में हम क्षेत्ररक्षण में सुधार कर लेंगे।" 'शमी से सजग रहना होगा' कप्तान जॉर्ज बैली ने रांची में शमी की कहर बरपाती गेंदबाजी के बाद अपने बल्‍लेबाजों को इस गेंदबाज से सावधान रहने को कहा है। उन्होंने कहा, "निश्चित तौर पर शमी ने बेहतरीन गेंदबाजी की। उन्होंने वह किया जो इस सीरीज में अब तक देखने को नहीं मिली थी। हमारी उम्मीद से वह कहीं ज्यादा तेज निकले। उन्हें गति के साथ स्विंग भी मिल रही थी।"

कृष 3' की रिलीज से पहले कमाई तो जानिए 

'कृष 3' का बेसब्री से इंतजार हो रहा है और निगाहे जमी हैं इसके प्रदर्शन और कमाई पर। इसकी असली कमाई तो रिलीज के बाद ही पता चलेगी लेकिन हम रिलीज से पहले ही इसकी कमाई का लेखा-जोखा आपको दे रहे हैं। जी हां 'कृष3' की एडवांस बुकिंग पर नजर डालें तो फिल्म ने शुक्रवार तक करीब 11 करोड़ की कमाई कर ली है। जानकारों के अनुसार फिल्म की एडवांस बुकिंग धड़ल्ले से हो रही है जो फिल्म को काफी मुनाफा दे रही है। इसके दम तक अभी तक 11 करोड़ के टिकट बिक चुके हैं। बुकिंग में और भी तेजी आ रही है। सोशल मीडिया पर भी फिल्म का जबर्दस्त क्रेज देखा जा रहा है। ऐसे में 'चेन्नई एक्सप्रेस' के रिकार्ड को तोड़ने की आस भी फिल्म से लगाई जा रही है।

सलमान ने गिफ्ट किया डेढ़ करोड़ का कंगन 

सलमान खान ने दरियादिली दिखाते हुए अपने किसी खास को काफी महंगा उपहार दिया है। उपहार पाकर वो लड़की भी काफी खुश है। वैसे ये लड़की उनकी प्यारी बहन अर्पिता है जिसे ईदी के तोहफे के तौर पर सल्लू भाई ने बेशकीमती डायमंड ब्रासलेट गिफ्ट किया है। इस ब्रासलेट की कीमत 1.5 करोड़ बताई जा रही है। वैसे सब जानते हैं कि सलमान अपने परिवार से बेहद प्यार करते हैं। फिर अर्पिता तो उनकी बहुत ही प्यारी बहन हैं। जो उनके दिल के काफी करीब हैं। सलमान से गिफ्ट पाकर अर्पिता भी बहुत खुश हैं।

सबसे आकर्षक व्यक्ति की दौड़ में भी शाहरुख ने सलमान को पीछे छोड़ दिया

सलमान और शाहरुख की कोल्डवार तो जाने कब से जारी है। इस बीच इन दोनों के बीच वर्चस्वता की लडाई भी चल रही है। जिसमें बाजी शाहरुख के हाथ लगी है। शाहरुख की 'चेन्नई एक्सप्रेस' तो सलमान की 'एक था टाइगर' की कमाई का रिकार्ड तोड़ ही चुकी है। अब सबसे आकर्षक व्यक्ति की दौड़ में भी शाहरुख ने सलमान को पीछे छोड़ दिया है। ट्रस्ट रिसर्च एडवाइजरी (टीआरए) के सर्वे में शाहरुख खान भारत की सबसे आकर्षक शख्सियत बन गए हैं। शाहरुख के बाद अमिताभ बच्चन और क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी का नाम है। आमिर खान 'चौथे नंबर पर हैं इसके बाद मिथुन चक्रवर्ती, कटरीना कैफ, सलमान खान, सचिन तेंडुलकर और अन्य हैं।

Profile, biography and biodata of Contestants of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika

There are 30 contestants of different age group and from different profession, from different part of World in The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika and among those Mallika Sherawat will choose her life partner. The show is based on American show The Bachelorette which has been successful for 19 seasons. Here you can see the brief profile and biodata of all the contestants. Bachelorette, india, mallika sahrawat, karan sagoo, vinay jhamb, life ok, wiki, bio, uk, reema lamba, rohtak, hot, mallika, nude, sexy, scripted, reality show, big boss, kbc, mere khyalo ki mallika

Mallika Sherawat when decided to find her life partner on TV through a reality show, Life OK TV channel came forward to host it. Many bachelors from all over the World came and finally 30 bachelors were selected who will be trying their best to get the attention of Mallika Sherawat. Age of Mallika Sherawat is 36 years and contestants are of different ages ie 25 to 60 years.

Profile and Biography of The Bachelorette India participants
Bivas Biswas contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
Age of Bivas Biswas is 37 years and is single. He is a by profession a software consultant and work for US Governemt in certain projects. Address of Bivas Biswas is Los Angeles, USA. He is also a music composer and a film maker. He is jungbaz no 3.
According to Bivas Biswas there is a huge competition for Mallika Shearawat.

DJ Akhil Talreja contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
Age of DJ Akhil Talreja is 28 years and he is in the show only for Mallika and nothing else. Profession is clear by his name as he is a DJ and a popular DJ. He is willing to take risks in life and always ready to try everything once in life. He belongs to Mumbai and he is jungbaz no 4

Professor Sudarshan Batra contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
Age of Sudarshan Batra is 60 years and he is professor of Management in Aruna PG college Ramanthapur, Hyderabad. According to him age doesnt matter and when Mallika Sherawat can figure 63 years old Narendra Modi as most elegible bachelor then why cant he. His address is Hyderabad, Andhra Pradesh, India. He is jungbaz no 28

Ranjan Sehgal contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
He is 28 years old and is smart and handsome. He is soft spoken and want to become a good friend of Mallika first. He is single and jungbaz no 5. Bachelorette, india, mallika sahrawat, karan sagoo, vinay jhamb, life ok, wiki, bio, uk, reema lamba, rohtak, hot, mallika, nude, sexy, scripted, reality show, big boss, kbc, mere khyalo ki mallika

Saurabh Sidheswari Sharma contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
He is a musician and a social worker. He is a very good singer and got a mesmerizing voice. Age of Saurabh Sidheswari Sharma is only 25 years and is single, still he has adopted 2 girl child and meet their financial needs.
He is jungbaz no 6 and according to him innocence and childish nature still prevails in Mallika.

Jagjit Singh Atwal contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
Blessed with great body he is popular as a gentle gaint, Age of Jagjit Singh is 29 years and he lives in Vancouver, Canada. His profession is of a fitness model and fitness trainer.
He is jungbaz no 7 and according to him Mallika's eyes speaks a lot.

Krishna Chadhha contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
He is a businessman and hails from Udaipur where the entire set is located. So he can be considered as a host contestant. Age of Krishna Chaddha is 28 years and he is a businessman by profession. He is serious in his job and participated here just with an aim to marry Mallika Sherawat.

Vikram jit Singh Kohli contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
Obsession is a form of expression of love but is it acceptable to all. Bikramjit Singh Kohli witted the name of Mallika Sherawat on his wrist and presented this as a gift for her. His age is just 23 years and can be considered as an immature step to whoo her. He is a stuntman and biker and the youngest contesttant of the lot.

Karan Sagoo contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
He is an NRI and lives in London. He is with an aim to marry Mallika Sherawat as he find her perfect bride for himself. Will Mallika Sherawat marry an NRI or will go for pure Indian. Well age of Karan Sagoo is 30 years and makes a perfect match.
Bachelorette, india, mallika sahrawat, karan sagoo, vinay jhamb, life ok, wiki, bio, uk, reema lamba, rohtak, hot, mallika, nude, sexy, scripted, reality show, big boss, kbc, mere khyalo ki mallika
Jashan Singh Kohli contestant of The Bachelorette India Mere Khayalon Ki Mallika : Profile, wiki, biodata
Age of Jashan Singh Kohli is 25 years and he is from CHandigarh. He had recently passed law and practice as an advocate. Can he convince Mallika to tie knot with him or he will lose his case of life from other 29 contestants. Wait and watch.

Manu Punjabi contestant of The Bachelorette India with Mallika Sherawat : Profile wiki and biodata
Well the most entertaining of the lot and can entertain with his presence of mind. His age is 32 years and is from Jaipur. He is a businessman in real estate. In the premeiere episode only he gifted a goat to Mallika and named Manu ki Moni.

Amrit Pal Singh Bhullar contestant of The Bachelorette India : Profile wiki and biodata
Even a traditional and conservativy guy want to be in the race for Mallika. Yes Amrit Pal is 24 years old and a traditional and conservative boy from Chandigarh. Will he sustain? Let us see.

Sanjay Harry Kapoor contestant Bachelorette India : Profile, wiki, biography
He is of 40 years of age and is PR. He is based in Delhi. In reality show PR can be effective. Will his PR quality be positive in whooing Malika or it will be limited to shows and programs only.
Bachelorette, india, mallika sahrawat, karan sagoo, vinay jhamb, life ok, wiki, bio, uk, reema lamba, rohtak, hot, mallika, nude, sexy, scripted, reality show, big boss, kbc, mere khyalo ki mallika
Vijay Singh Model contestant Bachelorette India : Profile and biodata
A fitness freak Vijay Singh is a model and is of 24 years of age. He originally belongs to hills that is Himachal Pradesh but resides in Mumbai to pursue his modelling career. He may or may not be able to marry Mallika but his career with certainly take a new turn by participating in this show.

Konstantyn Kosta contestant Bachelorette India : Profile and biodata
Well a foriegn origin in the show clearly indicates popularity of Mallika Sherawat worldwide. Konstantyn Kosta is from Country Ukraine but resides in Mumbai. He is 30 years old and may be here to gain some popularity.

Sanjay Mirani contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is 38 years old guy from Mumbai and is a restauranter. He is well known to all kinds of wine and dine. He is also fond of travelling. Is he serious about Mallika or trying to get a break in TV show. Well he will be a winner in either case.

Abhisek Sethi contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is a biker and fond of bikes and a member of many bike clubs. Abhisek Sethi is from Noida and his age is 35 years. He is good in chatting and talking and can go long even for a romantic date with Mallika in the show.

Kabir Chauhan contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is 24 years old bachelor and an upcoming model. He may or may not get thr groom but will certainly gain some popularity which can help him in his career.

Arun Kumar Upadhyaya contestant Bachelorette India : Profile and biodata
Another model/actor who is based in Mumbai to pursue his career in TV or film industry. Intention is clear the show is nothing but an opportunity to get an exposure. Mallika or exposure both can be sweet isnt it?
Bachelorette, india, mallika sahrawat, karan sagoo, vinay jhamb, life ok, wiki, bio, uk, reema lamba, rohtak, hot, mallika, nude, sexy, scripted, reality show, big boss, kbc, mere khyalo ki mallika
Udit Ohri contestant Bachelorette India : Profile and biodata
Another aspiring model and actor from Delhi. He is 25 years of age much younger than Mallika, so may be his intention too is to get some exposure to get opportunity in the industry. At present he is working as financial analyst.

Ashim Vaid contestant Bachelorette India : Profile and biodata
31 years old Ashim is an extrovert person and this quality can be his power. Further postive point is that he is good looking from Jammu. He is from Pharma sector and his main aim is to marry Mallika Sherawat without any other focus.

Prashant Bhutoria contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is from Kolkata and is 28 years old. He is good friend of Ranjan Sehgal, another contestant and will be interesting to see when both friend will compete with each other for Mallika Sherawat. He is confident for his chances.

Harman Singh Makin contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is 29 years old from Chandigarh. He is soft spoken and can attract anyone during conversation. Mallika Sherawat might have left Haryana but she is more in demand in her own state and neighbouring state.

Vinay Jhambh contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is also from Punjab, a small place Fazillka and is middle class guy working as a supervisor in a private Company. Well money may not matter for Mallika but will this middle class person survive in the show. May be to some extent.

Arjun Mutneja contestant Bachelorette India : Profile and biodata
He is a struggling actor and had smaller roles in some Tv shows. Though not very popular face but here is the chance to get the due popularity. Well Mallika Sherawat can give something to all if not her heart.

Parmeet Singh Wahi contestant Bachelorette India : Profile and biodata
Another fitness freak, amodel by profession. Parmeet is 25 years old and is from Delhi. Well this Delhi guy will certainly get some positive turn in his career and may be in his life. In both ways he will be in seventh heaven.

RJ Rohit Sachdeva contestant Bachelorette India : Profile and biodata
As the name suggest he is RJ and belongs to same state Haryana from where Mallika belongs. RJ means he can speak well and can spread magic from his words. Will this magic work. Let us see, though he is younger than Mallika and is 25 years old from Panchkula but living in Delhi

Ather Siddiqui contestant Bachelorette India : Profile and biodata
Another model and actor from Mumbai. Ather Siddiqui is 25 years old and had participated in the show with multiple intentions. Let us see how many wishes for him comes true.

Oct 23, 2013

सेना नहीं देगी ऑनलाइन आरटीआई का जवाब

सेना ने सुरक्षा मुद्दों का हवाला देते हुए ऑनलाइन आरटीआई आवेदनों पर सूचनाएं देने से इनकार कर दिया है। सरकार ने हाल ही में ऑनलाइन आरटीआई आवेदन देने के लिए एक खास वेबसाइट शुरू की थी। सेना के केंद्रीय जनसंपर्क अधिकारी कर्नल प्रशांत सक्सेना ने कहा है कि सेना सिर्फ उन्हीं आरटीआई आवेदनों पर सूचनाएं देगी, जिन पर दस्तखत होगा। सेना ने यह मामला कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के सामने उठाया है। सक्सेना हाल ही में सामने आए विवादास्पद टेक्निकल सर्विसेज डिवीजन के बारे में पर आरटीआई के तहत जानकारी मांगे जाने से जुड़े सवालों का जवाब दे रहे थे। सूचना मुहैया कराना मुश्किल सूचना मांगने वाले ने रक्षा मंत्रालय को आरटीआई आवेदन भेजा था, जिसे सेना को भेज दिया गया था। लेकिन सक्सेना ने ऑनलाइन आवेदन पर जवाब देने से इनकार करते हुए कहा कि जब तक आवेदक का दस्तखत वाला आवेदन और उसका आईडी नंबर नहीं मिल जाता तब तक इस पर सूचना मुहैया कराना मुश्किल है। उनका कहना है आरटीआई के तहत ऑनलाइन सूचना मुहैया कराने की व्यवस्था सुरक्षित नहीं है। पर्सनल आईडी कार्ड सेना के सूचनाओं के संदर्भ में देखें तो कोई भी एक ई-मेल आईडी बना कर अहम सूचनाएं ले सकता है। लिहाजा उसे आवेदक की ओर से एक पर्सनल आईडी कार्ड और दस्तखत किया हुआ आवेदन चाहिए। हालांकि जब उनसे कहा गया कि कोई भी पोस्टल ऑर्डर भेज कर सूचनाएं ले सकता है। आखिर सेना इसकी पहचान कैसे करेगी। इस पर सक्सेना ने कोई जवाब नहीं दिया। सिक्योर्ड अकाउंट सरकार ने हाल में ऑनलाइन आरटीआई आवेदन के लिए जो वेबसाइट शुरू की है वह आरटीआई आवेदकों से पासवर्ड सिक्योर्ड अकाउंट की मांग करती। इस अकाउंट पर वह अपनी मांगी गई सूचनाएं देख सकते हैं और अपने ई-मेल अकाउंट पर भी इसे ट्रांसफर कर सकते हैं। ऐसी व्यवस्था इसलिए की गई है ताकि कोई तीसरा व्यक्ति इस सूचना तक न पहुंच सके।

चीनी मीडिया में छाए मनमोहन सिंह 

चीन और भारत के बीच जब भी कूटनीतिक संबंधों की बात होती है तो उसमें संशय और संदेह बना होता है लेकिन पहली बार नई बयार देखने को मिल रही है। भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के विदेश दौरे की चीनी मीडिया ने प्रमुखता दी है। इसे देखते हुए लग रहा है कि आपसी मतभेदों के बावजूद दोनों देश आगे बढ़ने को तैयार हैं, भले गति धीमी हो और इस दिशा में अभी काफी कुछ किया जाना बाक़ी हो। वैसे भारत-चीन के आपसी रिश्तों से ज़्यादा चर्चा मनमोहन सिंह की हो रही है। ज़्यादातर चीनी अख़बार मनमोहन सिंह को ऐसे नेता के तौर पर देख रहे हैं जिन्होंने पिछले कुछ सालों में भारत-चीन के आपसी रिश्तों को बदलकर रख दिया है। 'आर्थिक सुधारों के जनक' चीन के सरकारी टेलीविजन चैनल सीसीटीवी ने मनमोहन सिंह को प्राथमिकता देते हुए उन्हें भारत में आर्थिक सुधारों का जनक कहा है। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने भारत-चीन के आपसी रिश्तों को बेहतर बनाने का श्रेय मनमोहन सिंह को दिया है। कुछ विशेषज्ञों ने द चाइना डेली से कहा है कि उन्हें मनमोहन सिंह की यात्रा के दौरान कई क्षेत्रों में प्रगति होने की उम्मीद है। इसमें सीमा रक्षा समझौता, चीन, बांग्लादेश और बर्मा (म्यांमार) के बीच आर्थिक कॉरीडोर के निर्माण के अलावा भारत में चीनी निवेश वाले आर्थिक ज़ोन जैसे मसले शामिल हैं। शंघाई के फ्यूडन यूनिवर्सिटी के दक्षिण एशियाई अध्ययन केंद्र के निदेशक डू यूकांग ने कहा है कि चीन और भारत के बीच सीमा पर क्लिक करें सेना की भूमिका तय होने से विवाद को कम करने में मदद मिलेगी। रूस की यात्रा के बाद मनमोहन सिंह चीन की यात्रा पर पहुंचे हैं। अप्रैल और मई में भारतीय सेना ने चीनी सैनिकों पर हिमालय के देपसांग घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा के उल्लंघन करने का आरोप लगाया था। हालांकि चीनी सरकार ने इसे ख़ारिज करते हुए कहा था कि उनके सैनिक वास्तविक नियंत्रण रेखा में बिलकुल सही दिशा में थे। बेहतर संबंध बनाने की कोशिश चीनी फॉरेन अफेयर्स यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर सू हआयो ने चीनी न्यूज़ सर्विस से कहा है कि मनमोहन सिंह की यात्रा चीनी नेता ली केचियांग की यात्रा के बदले हो रही है और यह दर्शाता है कि दोनों देश के नेता आपसी संबंधों को महत्व दे रहे हैं। हआयो ने कहा कि भारत और चीन आपसी रिश्तों की नई शुरुआत करना चाहते हैं और दोनों पक्ष सकारात्मक रुख दिखा रहे हैं। रेनमिन यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ इंटरनेशनल स्टडीज़ के डिप्टी डीन प्रोफेसर जिन केनराँग ने कहा, "हाल के सालों में चीन की ताकत काफी बढ़ी है और भारत चीन विरोधी मानसिकता से गुजरता रहा है लेकिन अब आपसी हितों को देखते हुए दोनों देश आपसी संबंधों को मज़बूत करने में जुटे हैं।"

करार रद्द करने के लिए अगस्ता वेस्टलैंड को नोटिस

रक्षा मंत्रालय ने 3600 करोड़ रुपये के वीवीआईपी हेलीकॉप्टर खरीद करार को रद्द करने के लिए एंग्लो-इतालवी कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड को अंतिम कारण बताओ नोटिस जारी किया है। अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी को 12 वीवीआईपी हेलीकॉप्टर भारतीय वायुसेना को देने थे लेकिन करार में दलाली के आरोपों के चलते विवाद खड़ा हो गया। रक्षा मंत्रालय ने इस संबंध में 21 अक्तूबर को नोटिस जारी किया था। इसमें मंत्रालय ने एंग्लो-इतालवी कंपनी से पूछा था कि क्यों न करार की पूर्व शर्तों के उल्लंघन के आरोप में कांट्रेक्ट को रद्द कर दिया जाए। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि कंपनी को अपना जवाब दाखिल करने के लिए 21 दिन की मोहलत दी गई थी। हालांकि अगस्ता वेस्टलैंड आरोपों का खंडन करती रही है। एंग्लो इतालवी कंपनी द्वारा मध्यस्थता की प्रक्रिया का इस्तेमाल किए जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ये कार्यवाही रक्षा मंत्रालय के पूर्व अनुबंध इंटेगरिटी समझौते का उल्लंघन करने पर लागू नहीं होती है। सरकार पहले ही 12 एडब्ल्यू-101 वीवीआईपी हेलीकॉप्टरों की आपूर्ति संबंधी समझौते को रोक चुका है। 3600 करोड़ रुपये के समझौते में 360 करोड़ की घूसखोरी के आरोप लगे हैं। आरोपियों में पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी का भी नाम है। वायुसेना को 3 हेलीकॉप्टर मिल चुके हैं और अन्य की आपूर्ति को रोक दिया गया है।

रामदेव के भाई के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

युवक को बंधक बनाकर रखने के मामले में आरोपी योगगुरु बाबा रामदेव के भाई रामभरत के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हो गया है। हरिद्वार के पतंजलि योगपीठ फेज-दो से हाल ही में बंधक युवक को छुड़वाने के बाद से ही पुलिस रामभरत की तलाश कर रही है। मामले में पुलिस ने रामभरत की तलाश में कई जगह छापे भी मारे लेकिन वह पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा। पढें, भक्तों को खींच लाई बदरी-केदार की ताकत काफी खोजबीन के बाद भी जब रामभरत पुलिस के हत्‍थे नहीं चढ़ा तो हरिद्वार पुलिस ने एसीजीएम कोर्ट से रामभरत के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करवा लिया है। युवक को बंधक बनाने का मामला रामभरत पर पतंजलि योगपीठ फेज-दो में युवक को बंधक बनाने का आरोप है। इस मामले में पुलिस योगगुरु रामदेव के भाई रामभरत की तलाश में छापे मारे लेकिन वह पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा। पढें, 'गंगा को रास नहीं आए संतो के ठाठ छोड़े घाट' पुलिस ने कैमरों की रिकार्डिंग की फुटेज भी मामले में तलाश की, लेकिन इसमें भी पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। पूरे मामले में पतंजलि से कंप्यूटर की हार्ड डिस्क और उपस्थिति रजिस्टर को कब्जे में लेकर एक सुरक्षाकर्मी को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। पढें, कांग्रेस ड्रग और सैक्स रैकेट में फंसाना चाहतीः रामदेव रामदेव ने कहा कांग्रेस की साजिश पूरे मामले में योगगुरु बाबा रामदेव का कहना है कि उनके खिलाफ कांग्रेस साजिश रच रही है, जिसमें बेवजह उनके परिजन भी परेशान हो रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इसके बावजूद वह कांग्रेस की सत्ता को उखाड़ने के लिए संघर्ष करते रहेंगे।

अखिलेश को आया पत्र, रोकें खजाने की खोज

उन्नाव के डौंडिया खेड़ा में खजाने की खोज के साथ ही चोरों की नजर अब आसापास के अन्य ऐतिसाहिक स्थलों पर भी पड़ गई है। खजाना मिलने की उम्मीद में डौंडिया खेड़ा के आसपास के इलाकों में मौजूद ऐतिसाहिक और धार्मिक स्थलों में भी अवैध तरीके से खुदाई होने लगी है। एचटी के मुताबिक भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने इस अवैध खुदाई से होने वाले नुकसान से ऐतिसाहिक और धार्मिक स्थलों को बचाने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पत्र भी लिखा है। साधु शोभन सरकार के सपने के बाद डौंडिया खेड़ा में 18 अक्तूबर से राजा राम बक्स किले में सोना गड़ा होने की संभावना में खुदाई की जा रही है। तब से आसपास की ऐतिसाहिक और धार्मिक इमारतों में खुदाई की कई घटनाएं सामने आई हैं। कहां-कहां हुई खुदाई हाल ही में बहराइच में छारदा किले के आंगन में अनजान लोगों ने सोने की खोज में खुदाई की थी। भीतरगांव तहसील के उदयपुर गांव में स्थित छठी शताब्दी के एक मंदिर में भी तोड़फोड़ की गई है। इसके अलावा फतेहपुर जिले आदमपुर गांव में पुलिस की तैनाती के बावजूद एक हफ्ते तक खुदाई की गई। यहां शिव मंदिर और चबूतरे को खोदा गया। यहीं पर ही कुछ लोगों ने गरिमा गांव में ऐतिसाहिक महत्व के एक कुंए की दिवार के आसपास भी खुदाई कर दी। महोबा जिले में तो स्थानीय लोगों ने चरखारी किले के पास खुदाई करने वाले लोगों को पीछा भी किया था। घटनाएं बढ़ सकती हैं ऐसे में इन इमरातों का रखरखाव करने वाली एएसआई ने ऐतिसाहिक स्थलों को नुकसान पहुंचने की चिंता जताई है। एएसआई के अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री को इन इमारतों को सुरक्षा देने के लिए पत्र लिखा गया है। कानपुर क्राइस्ट चर्च कॉलेज के इतिहास विभाग के प्रमुख का कहना है कि इस तरह की घटनाएं और बढ़ सकती है। चिंताग्रस्त स्थिति इसलिए भी है क्योंकि ग्रामीण इलाकों में लोग तांत्रिकों और बाबाओं पर बहुत भरोसा करते हैं। लोग अपना घर तक गिरा देते हैं।

यूपी: ट्रेन छोड़कर चालक फरार, मचा हंगामा 

लखनऊ से फैजाबाद के लिए चली डाउन 54232 पैसेंजर ट्रेन का चालक एसके मिश्रा सुबह 8:30 बजे अचानक गाड़ी सलारपुर रेलवे स्टेशन पर छोड़ लापता हो गया। इसे लेकर रेल यात्रियों ने हंगामा शुरू किया, तो रेल प्रशासन में खलबली मच गई। खोजबीन के साथ फैजाबाद से दूसरे चालक की व्यवस्था की गई, इस बीच करीब डेढ़ घंटे बाद चालक लौट आया। नाराज कई यात्रियों ने उसे पीट दिया। मामले को लेकर रेल प्रशासन ने गंभीर रुख अख्तियार किया है। लखनऊ से आ रही पैसेंजर ट्रेन फैजाबाद से ठीक पहले के स्टेशन सलारपुर में सुबह पहुंची, चालक एसके मिश्रा सुबह 8:30 बजे अचानक गाड़ी छोड़ लापता हो गया। पहले तो स्टेशन कर्मी और यात्री उसे शौच जाना मान चुप रहे लेकिन आधे घंटे बाद भी नहीं लौटा तो खोजबीन के साथ हंगामा शुरू हो गया। स्टेशन मास्टर दिवाकर उपाध्याय ने चालक के सीयूजी पर कई बार फोन किया। अटेंड न किए जाने पर उन्होंने पूरे मामले की सूचना कंट्रोल के साथ ही फैजाबाद को दी। फैजाबाद के उप स्टेशन अधीक्षक जमालुद्दीन अपने साथ दूसरे चालक निहाल अहमद को लेकर सलारपुर पहुंचे, तब तक ट्रेन वहां से फैजाबाद रवाना हो चुकी थी। सुबह 10:10 बजे ट्रेन फैजाबाद पहुंची। यहां भी यात्रियों ने एसएस अतुल श्रीवास्तव और जमालुद्दीन के सामने हंगामा किया। सलारपुर स्टेशन मास्टर दिवाकर उपाध्याय ने बताया कि सुबह 8:30 पर पहुंची पैसेंजर को 9:59 पर सलारपुर से रवाना किया गया। काफी प्रयास के बाद चालक का पता नहीं चला तो कंट्रोल और फैजाबाद के अलावा दूसरे अधिकारियों को सूचित किया था। डेढ़ घंटे बाद चालक लौटा तो कुछ यात्रियों ने पीटा भी। उन्हें बताया गया कि पेट खराब होने के कारण उसे पेचिश पड़ रही थी।

रिहाना को मस्जिद से बाहर निकाला 

अबू धाबी के अधिकारियों ने पॉप स्टार रिहाना को अबू धाबी की एक प्रसिद्ध मस्जिद के बाहर अनुमति लिए बगैर आपत्तिजनक तस्वीरें खिंचवाने पर मस्जिद से निकल जाने का आदेश दिया गया। गौरतलब है कि गायिका रिहाना ने अपने ट्वीट में फोटो शेयरिंग साइट इंस्टाग्राम पर अपनी तस्वीर साझा की है। इन तस्वीरों में रिहाना ने काला जंप सूट और हिजाब पहन रखा था। रिहाना ने शनिवार को संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में एक संगीत कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। अबू धाबी की शेख ज़ायद जामा मस्जिद की ओर से जारी किए गए एक बयान में कहा गया है गायिका रिहाना को 'अनुचित तस्वीरें खिंचवाने' के कारण मस्जिद से निकल जाने के लिए कहा गया । इस बयान के अनुसार यह तस्वीरें "मस्जिद का दौरा करने के लिए निर्धारित नियम एवं शर्तों के अनुकूल नहीं" थीं। बयान में कहा गया है कि फ़ोटो शूट से पहले 25 वर्षीय गायिका रिहाना उस दरवाजे से भीतर आईं, जिससे आगंतुकों को प्रवेश की इजाज़त नहीं है। गलत प्रवेशद्वार "मस्जिद के अधिकारियों ने उनके ग़लत दरवाजे से प्रवेश करने पर आपत्ति जताते हुए उन्हें सही प्रवेश द्वार दिखाया ताकि वो सामान्य तरीके से मस्जिद के अंदर आ सकें।" जब गायिका मस्जिद के भीतर तस्वीरें खिंचवाने के लिए पोज़ देने लगीं तो उन्हें मस्जिद से चले जाने के लिए कहा गया। बयान में यह दावा भी किया गया है कि रिहाना ने मस्जिद आने से पहले मस्जिद प्रशासन के साथ किसी प्रकार का "समन्वय स्थापित नहीं किया" था। यह मस्जिद पर्यटकों में काफी लोकप्रिय है। इसमें गैर-मुसलमानों को भी जाने की अनुमति है । पिछले साल इस मस्जिद को देखने के लिए तीस लाख से अधिक पर्यटक आए थे ।

दौड़ते-दौड़ते बुन डाला स्कार्फ, बन गया वर्ल्ड रिकॉर्ड

घरों में स्वेटर बुनते, स्कार्फ बुनते आपने कई महिलाओं को देखा होगा। लेकिन इन्होंने तो बुनाई करने का रिकॉर्ड ही बना डाला और वो भी दौड़ते-दौड़ते। इंफॉर्मेशन नाइजीरिया की खबर के अनुसार, सेंट्रल मिसौरी की एक यूनिवर्सिटी के ग्राफिक डिजाइन प्रोफेसर ने कानसास सिटी मैराथन दौड़ते-दौड़ते स्कार्फ बुन डाला। स्कार्फ भी कोई छोटा नहीं बल्कि 12 फुट लंबा। 11 ऐसी तस्वीरे जो आपने आज तक नहीं देखी होंगी कानसास सिटी स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक, डेविड बेबकॉक ने 5 घंटे 48 मिनट और 27 सेकंड में मैराथन खत्म की। बुनाई करने में महारथी, बेबकॉक ने इस पूरे मैराथन के दौरान 12 फीट से भी लंबा स्कार्फ बुन डाला। इसी के साथ उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है। इससे पहले ये ‌रिकॉर्ड सुशी हेवर के नाम था। उन्होंने 6फुट 9 इंच लंबा स्कार्फ बुना था।

देर आए दुरुस्त आए, नोकिया का पहला फैबलेट और टैबलेट 

नोकिया ने अपना पहला फ़ैबलेट यानी बड़े स्क्रीन वाला फ़ोन और पहला टैबलेट कंप्यूटर लॉन्च कर दिया है। नोकिया का नया टैबलेट विंडोज़ आरटी कहलाएगा जिसमें चार जीबी का डाटा चिप होगा। माइक्रोसॉफ्ट के हालिया लॉन्च हुए सरफ़ेस 2 में यह सुविधा नहीं थी। नोकिया के हार्डवेयर यूनिट के बिकने से पहले अबू धाबी में नोकिया का यह आखिरी बड़ा इवेंट होगा। सरफेस2 और प्रो2 के बूते क्या एप्पल से जीतेगी माइक्रोसॉफ्ट? माइक्रोसॉफ्ट ने कुछ ही समय पहले नोकिया के व्यवसाय को 5.4 अरब यूरो में खरीदने की घोषणा की है और जानकारों के अनुसार बिक्री की पूरी प्रक्रिया 2014 की शुरुआत तक पूरी हो जाएगी। एक विशेषज्ञ के अनुसार इस खरीद से अमरीकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट को मार्केट लीडर एंड्रॉयड और आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम को चुनौती देने में मदद मिल सकती है। कंसल्टेंसी फर्म सीसीएस इनसाइट के मार्टिन गार्नर कहते हैं, "पिछले दो सालों में माइक्रोसॉफ्ट और नोकिया के मार्केटिंग कैंपेन कई बार एक दूसरे का विरोध करते हुए दिखे हैं। दो छोटे कैंपेन की जगह एक बड़ा कैंपेन कहीं बेहतर साबित होगा।’’ मोबाइल हैंडसेट और टैबलेट के बाज़ार में माइक्रोसॉफ्ट बढ़ रहा है लेकिन ये प्रगति धीमी है। नोकिया का नया टैबलेट बाज़ार में अन्य टैबलेट्स को कड़ी प्रतिस्पर्धा दे सकता है। अप्रैल से जून महीने में स्मार्टफोन बाज़ार में विंडोज़ फोन्स का हिस्सा केवल 3.3 प्रतिशत था जबकि नोकिया सबसे लोकप्रिय ब्रांड था। नए और बड़े फोन नोकिया ने अबू धाबी में अपने दो फैबलेट्स भी दिखाए। लूमिया 1520 और लूमिया 1320 जिनका डिस्प्ले छह इंच का है। इससे कई ऐप्स स्क्रीन पर ही देखे जा सकेंगे। फर्म का कहना है कि छह इंच स्पेस के कारण टचस्क्रीन का इस्तेमाल करने में सुविधा होगी। नोकिया का कहना है कि लूमिया 1520 में चार माइक्रोफोन भी हैं जिससे साउंड क्वालिटी बढ़ जाएगी। नोकिया के दो नए फैबलेट्स लूमिया सीरिज़ में ही हैं। इसके अलावा इन फैबलेट्स में बीमर और रीफोकस नाम के दो नए ऐप भी लगाए गए हैं। बीमर के ज़रिए स्क्रीन पर देखने जाने वाली सामग्री वेब ब्राउजर पर जा सकेगी दूसरे डिस्प्ले के ज़रिए। रीफोकस ऐप के ज़रिए ये तय किया जा सकेगा कि फोटो में किस विषय पर फोकस किया जाए। इसकी मदद से कोई भी फोटो अलग-अलग फोकस लेंथ से ली जाएगी। पहला टैबलेट लूमिया 2520 एकमात्र विडोंज़ आरटी टेबलेट होगा जिसका निर्माण माइक्रोसॉफ्ट ने नहीं किया है। डेल, आसुस, लेनोवो, एसर और सैमसंग ने पहले इस प्लेटफॉर्म का समर्थन किया था लेकिन बाद में वो इससे पीछे हट गए। यह ऑपरेटिंग सिस्टम एआरएम आधारित चिप पर काम करेगा जिसकी बैटरी लाइफ बहुत अच्छी होगी। इस टैबलेट पर विंडोज़ 8 सिस्टम रन किया जा सकेगा। माइक्रोसॉफ्ट के वर्जन से नोकिया का टैबले थोड़ा सा अधिक काम्पैक्ट है और साथ ही इसमें 4जीबी का डाटा चिप भी है। आशा फोन के और मॉडल नोकिया का आशा मॉडल भारत में काफी लोकप्रिय हो रहा है और कंपनी ने इसमें तीन और नए मॉडल भी लांच किए हैं। नोकिया आशा के तीन नए फोन, वाट्स ऐप भी करेगा काम इनमें सबसे मंहगा डिवाइस आशा 530 है जो थ्रीजी डाटा सपोर्ट करता है और इंटरनेट एक्सेस तेज़ी से करता है। डेविस मर्फी ग्रुप कंसलटेंसी के क्रिस ग्रीन के अनुसार विकासशील देशों के बाज़ारों में अभी भी आशा फोन्स की मांग बहुत अधिक है इसलिए इसके नए मॉडल आना कोई आश्चर्य की बात नहीं है।