" " Live Hindi News from Haryana, Property Investment is Better: breaking news
Showing posts with label breaking news. Show all posts
Showing posts with label breaking news. Show all posts

Oct 5, 2013

मोदी टैटू, मोदी कुर्ता...नवरात्रि में नमो-नमो की धूम

नरेंद्र मोदी ब्रांडिंग की दुनिया में किस कदर छाए हैं, यह जाहिर है। लेकिन अब ब्रांड मोदी सारे दायरे तोड़कर नवरात्रि के त्योहार तक पहुंच गया है।

मोदी के टैटू, मोदी का कुर्ता और मोदी के सूट, साड़ी और फैब्रिक। बाजार इन तमाम उत्पादों से अटा पड़ा है।

 की खबर के मुताबिक नवरात्रि की रौनक बढ़ने के साथ-साथ गुजरात में हर तरफ ब्रांड मोदी का जलवा दिख रहा है।Rphtak news live blogspot,   Www.rohtaknews.co.in

गुजरात में शुरुआत में मोदी का मुखौटा चलेगा और अब टैटू की धूम है। अहमदाबाद में महिलाएं और पुरुष, दोनों को ये बेहद पसंद आ रहा है।

पुरुष अपनी बांह पर मोदी का अस्‍थायी टैटू बनवा रहे हैं, जबकि महिलाओं ने इसके लिए बैकलेस चोली के बीच की जगह चुनी है।

शहर के एक टैटू कलाकार ने ऐसे 30 हजार स्टिकर टैटू तैयार किए हैं, ‌जो अलग-अलग गरबा वेन्यू पर बांटा जाएगा, ताकि मोदी के प्रति समर्थन दिखाया जा सके।

चरमपंथियों-पुलिस के बीच मुठभेड़, इंस्पेक्टर की मौत 

आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के पास चरमपंथियों के हमले में शनिवार को एक इंस्पेक्टर की जान चली गई है।

यहां पुट्टुर में एक घर में चरमपंथी संगठन एएमएफ और पुलिस के बीच मुठभेड़ जारी है।

फायरिंग के दौरान एक इंस्पेक्टर की मौत हो गई है। उनका नाम रमेश बताया जा रहा है। इसी संगठन के लोगों ने मदूरै में आडवाणी की रैली में बम रखा था।

पुलिस ने बम रखने वाले मुख्य आरोपी फकरुद्दीन को शुक्रवार को गिरफ्तार किया था। उसे तमिलनाडु के स्पेशल इनवेस्टीगेशन डिविजन ने पकड़ा था।

आरोपी पर पिछले साल अप्रैल में बैंगेलोर में भाजपा के ऑफिस में हुए बम विस्फोट में भी हाथ होने का आरोप है। उसके साथ तीन अन्य लोग भी इन मामलों में आरोपी हैं।

इस दौरान आंध्र के पुथुर में एक घर में कुछ चरपंथियों ने हमला कर दिया। अन्य आरोपियों के इस हमले में शामिल होने की आशंका है।

इन पर भाजपा के पदाधिकारी लेखापरिक्षक रमेश और हिंदू मुनानी नेता वेलियाप्पन को मारने का भी आरोप है। एसआईडी ने इन्हें पकड़ने के पांच लाख का ईनाम भी रखा है। तीन अन्य आरोपी बिलाल मलिक, पन्ना इसमाइल और अबु बेकर सिद्दकी हैं।

पोर्न फिल्म देखकर पोता बिगड़ा, दादी से रेप 

पोर्न फि‍ल्‍में देखकर अपराध करने वालों की संख्‍या में तेजी से इजाफा हुआ है। इसी तरह का एक नया मामला सामने आया है जि‍समें एक शख्‍स ने पोर्न फि‍ल्‍म देखने के बाद अपनी दादी का खून कर दि‍या।

डेली मेल की खबर के अनुसार, जैक हक्‍सले ने उस रात काफी अधि‍क मात्रा में ड्रग्‍स और वाइन पी रखी थी। देर रात तक वो एक अधेड़ उम्र की महि‍ला और एक युवा की पोर्न फि‍ल्‍म देखता रहा।

उसके बाद वो उठकर अपनी सौतेली दादी के कमरे में गया और दर्दनाक तरीके से उन्‍हें मौत के घाट उतार दि‍या। साथ्‍ा ही उससे बलात्‍कार किया।

20 साल के जैक ने 62 साल की अपनी दादी जेनीस डुंडास का गला काट दि‍या और उन पर 30 बार चाकू से वार कि‍या। हालांकि अभी तक ये स्‍पष्ट नहीं हो सका है कि उसने अपनी दादी के साथ बलात्‍कार हत्‍या के पहले कि‍या या फि‍र बाद में।

Sep 29, 2013

जेल से मिली महिला को धमकी 

रोहतक। जिला कारागार से महिला को फोन पर जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। इससे एक बार फिर जेल की व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं। हत्या के मामले में बंद एक विचाराधीन कैदी ने गांव इस्माइला की एक महिला को जान से मारने की धमकी दी है। पुलिस ने इस मामले में जेल में बंद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस अब आरोपी को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ करेगी। इससे पहले कई बार जेलों में मोबाइल मिलने की खबर आ चुकी हैं।
पुलिस के अनुसार गांव इस्माइला निवासी अनीता ने सिविल लाइन थाने में शिकायत दर्ज कराई कि जेल में बंद इस्माइला-11बी निवासी संतकुमार उसे फोन पर जान से मारने की धमकी दे रहा है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर कार्यवाही करते हुए आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने इस बारे में जेल अधिकारियों को सूचना दे दी है। मामले की जंाच सहायक उपनिरीक्षक रामफल को सौंपी गई है। जांच अधिकारी का कहना है कि आरोपी को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

Sep 27, 2013

'मोदी के कारण बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले' 

दिल्ली में डेंगू के लगातार बढ़ रहे मामलों पर अब सियासत शुरू हो गई है। कांग्रेस ने डेंगू के बढ़ते कहर के लिए भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्री मोदी को दोषी ठहराया है।

कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि मोदी की रैली के लिए भागदौड़ में लगे दिल्ली के निगम पार्षद डेंगू की रोकथाम के लिए काम नहीं कर रहे हैं। उन्होंने डेंगू बढ़ने के लिए मोदी की रैली को जिम्मेदार बताया है।

दिल्ली के रोहिणी इलाके में 29 सितंबर को नरेंद्र मोदी की रैली होनी है। इसके लिए जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं। पार्षद दिनभर कैंपेनिंग में लगे हुए हैं।

इस पर उत्तरी नगर निगम में कांग्रेस नेता मुकेश गोयल का कहना है कि मोदी की रैली के लिए महापौर, स्थाई समिति अध्यक्ष से लेकर नेता सदन भी लगे हुए हैं। वोट के लिए रैली कर रहे हैं लेकिन कोई जिंदा ही नहीं बचेगा तो वोट किससे मांगोगे।

दिल्ली में डेंगू के चलते मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है। यहां का दिल्ली नगर निगम का रोहिणी जोन इससे ज्यादा प्रभावित है। यहां अभी तक डेंगू के 99 मामले सामने आए हैं और यहां के शाहबाद दौलतपुर में 11 लोगों की मौत की सूचना है।

इस कारण कांग्रेस नेताओं ने भाजपा पर हमला बोल दिया है और डेंगू को लेकर लापरवाही बरतने का अरोप लगाया है। हालांकि भाजपा ने इन आरोपों से इनकार किया है।

वहीं, दिल्ली में डेंगू का खतरा बढ़ रहा है। उत्तर नगर निगम कमिश्नर ने बुधवार को डेंगू पर आपात बैठक बुलाई थी।

Sep 26, 2013

रोहतक विवाहिता को धमकी देकर दुराचार 

रोहतक। शहर थाना के अंतर्गत डेयरी मोहल्ला में एक विवाहिता के साथ दुराचार करने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़िता का कहना है कि आरोपी पिछले काफी दिनों से दुराचार कर रहा था। विरोध करने पर उसके साथ मारपीट करते हुए पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने पीड़िता के बयान पर आरोपी घरौठी निवासी सोमवीर के खिलाफ दुराचार व एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। मामला दर्ज होने के बाद से ही आरोपी फरार है। एक विवाहिता ने शहर थाने में शिकायत दर्ज कराई कि गांव घरौठी निवासी सोमवीर उसे जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ पिछले काफी दिनों से दुराचार कर रहा है।

सिर्फ 999 रुपए में नमो स्मार्टफोन आपके हाथ 

राजनीति से लेकर तकनीक तक, इन दिनों हर जगह नरेंद्र मोदी की चर्चा हो रही है। सत्ता पाने के लिए नरेंद्र मोदी को चुनाव और इसके परिणाम का इंतजार करना होगा, लेकिन स्मार्टफोन की दुनिया में "स्मार्टनमो" आ चुका है।

नरेंद्र मोदी से प्रेरित होकर बनाए गए स्मार्टफोन्स 'स्मार्टनमो' की प्री-बुकिंग शुरू हो गई है। 

अगर आप स्मार्टनमो सैफरन वन और स्मार्टनमो सैफरन टू खरीदना चाहते हैं, तो इसके लिए स्नैपडील पर प्री-बुकिंग शुरू हो चुकी है।
जानिए कैसा है 6.5 इंच का स्मार्ट नमो?स्मार्टनमो सैफरन टू की कीमत 24,000 रुपए है और सैफरन वन की कीमत 23,000 रुपए है। दोनों की प्री-बुकिंग के लिए 999 रुपए खर्च करने होंगे। बाकी की रकम डिलिवर के समय दे सकते हैं।

क्या आपने ‘मोदी’ को लाल किला पर उड़ते देखा है?
दोनों ‌ही स्मार्टफोन अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में लॉन्च होंगे। इन सभी फोन में नरेंद्र मोदी के वॉलपेपर, वीडियो और ऐप्स प्री-लोडेड होंगे।

24,000 रुपए की कीमत के स्मार्टनमो फोन को क्या आप खरीदना पसंद करेंगे? अपनी प्रतिक्रिया दें।

Sep 16, 2013

जान‌िए इंटरनेट से आप कितना पैसा कमा सकते हैं? 

क्राउडवर्किंग यानी दुनिया में अलग-अलग हिस्सों में फैले लोगों से काम कराना तेजी से बढ़ता जा रहा है। कंपनियां दुनिया भर में घर पर बैठे लोगों से इंटरनेट पर बड़े-बड़े काम करा सकती हैं।

सवाल ये है कि आप अपने कम्प्यूटर से कितने पैसे कमा सकते हैं?

मैंने कुछ वेबसाइट पर साइन अप कर इंटरनेट पर छोटे-मोटे काम आज़माने का फैसला किया।

मैंने दो नियम तय किए। जो भी रकम मिलेगी वो परोपकार में जाएगी और मैं ऐसा कोई काम नहीं करूंगी जो मैं दिन में टेलीविज़न पर करते हुए खुश नहीं होती।

बीबीसी की प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते हुए मैंने अपने सोशल मीडिया नेटवर्क को चेतावनी दी कि मैं एक प्रयोग कर रही हूं और उन्हें कुछ अजीब स्टेटस अपडेट के लिए तैयार रहना चाहिए।

पहली थी इनबॉक्स पाउंड्स, एक ऐसी वेबसाइट जो अचानक क्लिक करने वालों को कुछ सर्वे और छोटे-मोटे काम करने को कहती है।

मुझे साइन अप करने के लिए एक पाउंड (करीब 105 रुपए) का बोनस मिला।
एक विज्ञापन के बारे में 15 मिनट के एक सर्वे का जवाब देने पर मुझे 25 पेंस (25 रुपए) मिले।

मैंने एक पेंस में एक वीडियो देखा और एक ख़ास ब्रांड के मोबाइल फ़ोन को फ़ेसबुक पर एक पेंस में 'लाइक' किया।
बिल्कुल सही पढ़ा आपने, मुझे 'लाइक' करने के लिए रकम मिली।

बड़ा लुभावना लग रहा है लेकिन तब तक पैसे हाथ में नहीं आएंगे जब तक 20 पाउंड (2000 रुपए) नहीं कमा लेती।

कुल कमाई - तीन दशमलव शून्य छह पाउंड (करीब 320 रुपए)

स्वागबक्स नाम की वेबसाइट छोटे-मोटे काम करने के बदले पॉइंट देती है, ये पॉइंट आखिर में रकम में बदल जाएंगे और इन्हें पेपल या वाउचर के ज़रिए दिया जाएगा।

मैंने कुछ वीडियो देखे, गेम खेले और कुछ रकम कमाई - हालांकि ये बहुत कम थी।

एक दिन गेम खेलने और वीडियो देखने से मुझे 102 स्वागबक्स मिले - जो करीब 50 पेंस (50 रुपए) बैठते थे।
बड़ा भुगतान तब मिलेगा जब पांच पाउंड कमा लूं।

कुल कमाई - आधा पाउंड

अगली वेबसाइट थी कास्टिंगवर्ड्स

मैं उन लोगों के साथ जुड़ गई जो ऑडियो सुनते हैं और उन शब्दों को टाइप करते हैं।

तेजी से टाइप करने वालों को आसान लग सकता है इसलिए मैंने ग़लत फ़ैसला लिया और ट्रांसक्रिप्शन यानी सुनकर टाइप करने की चुनौती को लपक लिया।

ये आसान नहीं था - एक काम निपटाने में मुझे एक घंटा लग गया और मुझे जितना मिलना था उसमें से भी काफ़ी रकम उनके मानकों पर खरी न उतरने की वजह से काट ली गई।

मुझसे ये काम छीन लिया गया और अब मैं सिर्फ़ दूसरे लोगों के काम की समीक्षा कर सकती थी जब तक कि मेरा स्कोर सुधर नहीं जाता।

बड़ा भुगतान तब होता जब मैं एक डॉलर कमा लूं।

कुल कमाई - 37 पेंस (करीब 37 रुपए)

अमेज़न की मेकैनिकल तुर्क जैसी माइक्रोवर्किंग साइट मानवीय समझ के कामों (हिट्स) के लिए भुगतान करती हैं।

ये काम रचनात्मक लेखन, कोडिंग या और कुछ हो सकता है।

दुख की बात थी कि मेरा रजिस्ट्रेशन पूरा नहीं हुआ।

अमेज़न ने कहा: "मेकैनिकल तुर्क सिर्फ़ आमंत्रण पर रजिस्ट्रेशन के आधार पर काम करती है। काम करने वालों को रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने के लिए कहा जाता है और ईमेल से मिलने वाले आमंत्रण के आधार पर रजिस्ट्रेशन पूरा होता है।"

मैंने एक वेबसाइट क्लिकवर्कर पर साइन अप कर लिया।

पहले मैंने एक इंग्लिश टेस्ट पास किया और फिर रचनात्मक लेखन का एक टेस्ट।

100 फीसदी स्कोर करने की वजह से मुझे मोटा काम मिला।

जर्मन भाषा से अनूदित सामग्री के आधार पर मुझे टेनिस के लिए पहने जाने वाले कपड़ों की मेल ऑर्डर कैटेलॉग एंट्री तैयार करनी थी।

ये तुलनात्मक रूप से लुभावना काम था। मुझे 100 से कुछ ज़्यादा शब्द के लिए एक दशमलव शून्य पांच पाउंड मिलते, हालांकि आप उस व्यक्ति की दया पर हैं जिसने आपको ये काम दिया।

अगर वो ख़ुश नहीं हुए तो आप को कुछ नहीं मिलेगा।

मेरे साथ ऐसा तीन बार हुआ।

भुगतान हर हफ़्ते होना था।

कुल कमाई - चार दशमलव नौ पांच पाउंड (करीब 500 रुपए)

आखिर मैंने फीवर वेबसाइट पर काम शुरू किया, इस वेबसाइट पर लोग "गिग्स" यानी कला के सीधे प्रदर्शन के तौर पर सेवाओं का विज्ञापन देते हैं।

कुछ सेवाएं वाकई रहस्यमय हैं, उदाहरण के लिए एक तरबूज में कुछ ढूंढने या एक चिकन की तस्वीर बनाने के लिए पांच डॉलर।

इससे उत्साहित हो कर मैंने अपनी संगीत और लेखन की क्षमता का इस्तेमाल किया। मेरे एक फेसबुक दोस्त ने एक असंभव चीज़ के लिए मुझसे माइल्स-डेविल्स की तरह की पियानो थीम के लिए कहा।

हालांकि इन कामों में थोड़ा ज़्यादा वक्त लगा लेकिन ये मज़ेदार थे। काम तो निपट गए लेकिन फीवर वेबसाइट 20 फीसदी रकम काट लेती है। मुझे सिर्फ़ दो दशमलव पांच सात पाउंड यानी करीब 270 रुपये ही मिले।

कुल कमाई - 10।28 पाउंड (करीब 1040 रुपए)

कुल कमाई - 19।16 पाउंड (करीब 1950 रुपए)

कुल 37 घंटे काम किया।

साफ़ है उतने पैसे नहीं जितने पैसों की मुझे उम्मीद थी।

ज़्यादातर समय इस बात का पता लगाने में बीत गया कि कौन सी वेबसाइट कितनी रकम देती है। टच टाइपिंग, तेज़ी से रचनात्मक लेखन या कुछ अनूठा करने पर कम समय में ज़्यादा पैसे कमाने का मौका मिला।

हां, इस तरह से काम करने में पैसे तो हैं लेकिन मुझे लगता है कि जो काम अभी मैं कर रही हूं वो कुछ ज़्यादा समय तक करूंगी। इस तरह जो पैसे मिले वो बीबीसी के चिल्ड्रन इन नीड अपील को जाएंगे।

Aug 28, 2013

यूपी में कुएं से निकले दो अजगर, क्या हुआ उसके बाद?

उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ के सादाबाद में गांव सोरई (पट्टी शक्ति) स्थित एक बोरिंग के कुएं से सोमवार की दोपहर दो अजगर निकल आए। यह कुआं करबन नदी के पास ही है।

कुंए में अजगर होने की सूचना वन विभाग को मिली तो उसने इसकी जानकारी आगरा की कीठम झील स्थित वाइल्ड लाइफ टीम को दी।
braking news rohtak, property investment, car insurance, travel insurance india, breaking news, latest hindi news, सूचना पर मंगलवार को वाइल्ड लाइफ टीम के कर्मवीर और राजकुमार राय वन विभाग के कर्मचारियों के साथ मौके पर पहुंचे और कड़ी मशक्कत के बाद कुएं से दोनों अजगर को बाहर निकाला।
braking news rohtak, property investment, car insurance, travel insurance india, breaking news, latest hindi news, braking news rohtak, property investment, car insurance, travel insurance india, breaking news, latest hindi news, इसमें एक अजगर सांप 8 फीट लंबा और 10 किलोग्राम वजन का था, जबकि दूसरा अजगर 5 फीट लंबा और 6 किलोग्राम का था।
braking news rohtak, property investment, car insurance, travel insurance india, breaking news, latest hindi news,
इससे पहले भी इसी बोरिंग के कुएं से पिछले दो वर्षों में 3 अजगर दो बार में पकडे़ जा चुके हैं।
braking news rohtak, property investment, car insurance, travel insurance india, breaking news, latest hindi news,
braking news rohtak, property investment, car insurance, travel insurance india, breaking news, latest hindi news,

Aug 10, 2013

नाबालिग से मनाई 'सुहागरात', पहुंचा हवालात Click for more

 bad credit loans, 0 interest credit cards, payday loans, bad credit loan, bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
शादी कराने की नीयत से नाबालिग को लेकर गांव से भागा नाबालिग भले ही उम्र कम होने के कारण उससे शादी नहीं कर पाया, लेकिन आज जब जोड़े को पकड़ा गया तो लड़की से दुष्कर्म की पुष्टि हो गई।मामला हरियाणा के रतिया कस्बे के गांव गंदा का है। यहां से भागे युवक व नाबालिगा को पुलिस ने चंडीगढ़ से काबू कर लिया। पुलिस ने नाबालिग का रतिया के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में मेडिकल करवाया जिसमें चिकित्सकों ने उससे दुष्कर्म की पुष्टि की। पुलिस ने आरोपी को रतिया अदालत में पेश किया जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हिसार जेल भेज दिया।मालूम हो कि गांव गंदा निवासी एक व्यक्ति ने 1 अगस्त को पुलिस को शिकायत देकर बताया था कि सिरसा के गांव पनिहारी निवासी सुरजीत सिंह जोकि अपने नाना के पास गांव गंदा में ही रहता है। उसकी 13 साल की पुत्री पर बुरी नियत रखता है। शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया था कि सुरजीत सिंह उसकी पुत्री को शादी का झांसा देकर घर से भगाकर उसे अपने साथ ले गया। इस पर पुलिस ने आरोपी पर मामला दर्ज किया था। पुलिस ने बुधवार को चंडीगढ़ के सैक्टर 3 में छापा मारकर सुरजीत सिंह को काबू कर लिया और उसकी निशानदेही पर उसके कब्जे से नाबालिगा को बरामद कर लिया। पुलिस दोनों को रतिया ले आई।

वीरवार को पुलिस ने नाबालिगा को रतिया के अस्पताल में मेडिकल करवाया जिसमें चिकित्सकों ने उससे दुष्कर्म की पुष्टि की। पुलिस ने युवक पर लड़की भगाने के साथ-साथ दुष्कर्म करने का मामला भी जोड़ दिया।

पुलिस ने आरोपी युवक को अदालत में पेश किया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में हिसार जेल भेज दिया।

bad credit loans, 0 interest credit cards, payday loans, bad credit loan, bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
 नाबालिग शादी करने पहुंच गये हाईकोर्ट
पुलिस अधीक्षक एससी अत्री ने बताया कि गांव गंदा से भागे प्रेमी जोड़ा दोनों ही नाबालिग थे। लड़की की उम्र 13 साल थी जबकि लड़के की उम्र 17 साल थी।

दोनों चंडीगढ़ में पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय में शादी के लिए पहुंच गये लेकिन अदालत ने उनकी उम्र संबंधी कागजात देखने के बाद उन्हें सैक्टर 3 में स्थित पुलिस थाने में भेज दिया। चंडीगढ़ की पुलिस ने जांच के बाद रतिया पुलिस को सूचित किया। रतिया पुलिस वीरवार को दोनों को यहां ले आई।

bad credit loans, 0 interest credit cards, payday loans, bad credit loan, bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

61 साल की दुल्हन संग शादीशुदा जिंदगी का आनंद ले रहा 8 साल का दूल्हा Click for more

 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
तकरीबन 61 साल की अधेड़ महिला डायनिंग टेबल पर आठ साल के बच्चे के साथ नाश्ता कर रही हैं। पहली बार में देखने पर आपको लगेगा कि यह दादी और पोते हैं। लेकिन यह पति-पत्नी हैं।
दक्षिण अफ्रीका में आठ साल सानेले मैसिलेला एक स्कूली छात्र है और उसकी बीवी 61 की महिला हेलेन शाबंगू पांच बच्चों की मां है। खुद सानेले की मां अपनी 61 साल की बहू से 15 साल छोटी है। इस अनोखी जोड़ी ने बीते दस तारीख को शादी रचाई थी, जिसकी अंतरराष्ट्रीय मीडिया में काफी चर्चा हुई थी।
शादी करने का कारण सिर्फ इतना था कि लड़के के दादा मरने से पहले पोते की शादी और उसकी दुल्हन देखना चाहते थे। डेली मेल में शादी की नई तस्वीरें जारी की हैं, जिसमें दोनों पति-पत्नी अपने नए जीवन में काफी खुश दिखाई दे रहे हैं।
सालेने ने ही पारिवारिक मित्र और पांच बच्चों की मां का दुल्हन के रूप में चुनाव किया था। दहेज के रूप में लड़के के परिवारवालों ने दुल्हन को पांच सौ डॉलर की रकम दी थी। सानेले का कहना है कि शादी के बाद उसे शादीशुदा मर्द जैसा अहसास हो रहा है। उनकी शादी में एक हजार डॉलर खर्च किए गए थे।
हालांकि इस शादी के बाद दूल्हे या दुल्हन ने मैरिज सर्टिफिकेट नहीं लिया था। छोटे दूल्हे के परिजनों का कहना है कि यह शादी केवल परंपरा के तौर पर की गई थी और इसका कोई कानूनी आधार नहीं है।
मैसिलेला बड़ा होने पर वह एक बार और अपनी ही उम्र की किसी लड़की के साथ शादी करेगा।
शादी के दौरान रीतिरिवाज निभाते पति-पत्नी. रिसाइक्लिंग सेंटर में काम करने वाली हेलेन का कहना है कि उनके 65 वर्षीय पति और बच्चों को भी इस शादी से कोई आपत्ति नहीं है।
bad credit loans, 0 interest credit cards, payday loans, bad credit loan, bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan 

Aug 9, 2013

नौकरी दिलाने के नाम पर चलाता था किडनी निकालने का रैकेट

 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
एक ऐसा इंसान जो कहता तो था इलाज करने की बात, लेकिन बदले में ले लिया करता था एक खास अंग। जी नहीं ये किसी फिल्म की कहानी नहीं है। यह है उस मास्टरमाइंड का सच जिसका नाम है गुड़गांव की एक बहुत बड़ी घटना से, या यूं कहें एक रैकेट से जुड़ा है।
गुड़गांव के पालम विहार में अवैध कारोबार करने वाले इस शख्स को सात साल सजा और 60 लाख रुपए का जुर्माना लगाया था।
अब ये खबर सुनने में आ रही है कि ऑस्ट्रेलिया में इनकी 4.5 करोड़ की संपत्ति को जब्त कर लिया गया है। अभी तक के समय में यह पहली बार है कि किसी भारतीय की संपत्ति ऑस्ट्रेलिया में जब्त की गई है।
अमित कुमार एक ऐसा इसांन था जिसमें इंसानियत नाम की कोई चीज नहीं है। वो दावा तो करता था मदद की लेकिन बदले में करता था ऐसी घिनौनी हरकत कि इंसानियत भी हो जाए शर्मसार।
 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

पीजीआई में नवजात बदलने को लेकर दिनभर असमंजस


रोहतक. पीजीआई में नवजात को बदलने को लेकर गुरुवार को दिनभर असमंजस रहा। बच्चा बदलने की सूचना ने अधिकारियों को छकाया। महिला की फाइल पर कटिंग ने संशय को और गहरा दिया। शाम को वीसी से मिलने के बाद सभी कागजात फिर से चेक किए गए व डाक्टरों से बात की गई। देर शाम परिजन इस बात पर संतुष्ट हुए कि लड़की ही पैदा हुई है।

वीसी को दी शिकायत में गांव लाहली निवासी शिवकुमार ने बताया कि उसकी पत्नी रीना को बुधवार सुबह बच्चा पैदा हुआ। स्टाफ ने उन्हें बताया कि लड़की हुई है, लेकिन गुरुवार को जब वह उन्होंने घर जाने के लिए रीना की फाइल मांगी तो फाइल पर कटिंग मिली। फाइल पर पहले लड़का लिखा गया व बाद में काटकर लड़की लिखी गई।
इस पर शिवकुमार ने गांव से काफी संख्या में ग्रामीणों को बुला लिया और पं बीडी शर्मा हेल्थ विवि के वीसी डा. एसएस सांगवान से मिले। वीसी के जांच के आदेश के बाद फिर से जांच की गई। शाम को परिजनों को इस बात की संतुष्टि कराई गई कि रीना ने लड़की को ही जन्म दिया है। लेबर रूम में एक डाक्टर ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए बताया कि जल्दबाजी में लड़की की जगह लड़का लिख दिया गया था।

सांस फूलने, ब्लड प्रेशर कम होने के बाद अजय चौटाला एम्स में भर्ती


 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
रोहतक. शिक्षक भर्ती घोटाले में १क् साल की सजा काट रहे इनेलो के प्रधान महासचिव अजय चौटाला को गुरुवार को तबीयत बिगड़ने के कारण एम्स में भर्ती कराया गया। दिल्ली के पंडित दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती अजय को सांस फूलने और ब्लड प्रेशर कम होने की शिकायत के बाद एम्स में शिफ्ट किया गया।
अजय को सांस लेने में दिक्कत होने की शिकायत के बाद तिहाड़ जेल से पंडित दीनदयाल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गौरतलब है कि बीते सोमवार को ही अजय की याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने तिहाड़ जेल के अधीक्षक को आदेश दिया था कि वह अपनी निगरानी में अजय चौटाला की गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में स्वास्थ्य जांच करवाएं।
 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला से भटके पांच बच्चे

 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
बृहस्पतिवार को कस्बे में एक बार तो जबरदस्त हड़कंप मच गया था। सूचना थी कि राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला से पांच बच्चे गायब हो गए है, सूचना सच्ची भी थी। आखिर दोपहर बाद लगभग डेढ़ बजे दर्शना एएनएम इन बच्चों को लेकर स्कूल आई। तब कहीं जाकर पुलिस व बच्चों के परिजनों ले राहत की सांस ली।
जानकारी के मुताबिक पांचों बच्चें करीब 11 बजे अपनी कक्षा से पानी पीने के लिए निकले। इन बच्चों के नाम है नर्सरी की पन्नू पुत्री त्रिलोक, प्रथम कक्षा की अंशिका पुत्री रामअवतार, सुनैना पुत्री संजय, निशा पुत्री धर्मबीर व प्रीति पुत्री धर्मबीर। बच्चों को पानी पीने के लिए राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल के गेट की ओर जाना पड़ता है। यहा से बच्चे बाहर आ गए और रास्ता भूल गए। फरमाणा चुंगी की ओर होते हुए पांचों बच्चे भैणी चंद्रपाल की ओर निकल गए। लगभग तीन किलोमीटर दूर गांव के बस स्टॉप पर महम आने के इंतजार में एएनएम दर्शना खड़ी थी। दर्शना को बच्चों पर शक हुआ। उसने बच्चों से पूछताछ की तो उन्होने बताया कि वे राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला महम से है, वे रास्ता भटक गए। दर्शना बच्चों को लेकर स्कूल आई। इस बीच लगभग 12 बजे स्कूल की छुट्टी हो गई थी। कक्षा में जब बच्चों के केवल बैग दिखाई दिए तो अध्यापिका सुरेश ने बच्चों के परिजनों से संपर्क किया। परिजनों ने बताया कि बच्चे घर नहीं पहुंचे हैं, तो भगदड़ मच गई। तुरत पुलिस को सूचित किया गया। पुलिस स्कूल पहुच गई। इसी बीच दर्शना बच्चों को लेकर स्कूल आ गई। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई के बाद बच्चों को उनके परिजनों को सौंप दिया। प्राचार्या पुष्पलता ने बताया कि प्राथमिक पाठशाला के हैड टीचर को बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के सख्त आदेश दे दिए गए है। हैड टीचर को कहा गया है कि आगे से ऐसी घटना ना हो। इसके लिए हरसंभव कदम उठाए जाएं।
परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप
बच्चों के परिजनों ने आरोप लगाया है कि प्राथमिक पाठशाला में घोर लापरवाही है। अध्यापक बच्चों के प्रति जिम्मेदारी ही नहीं समझते। कक्षा से पानी पीने के लिए निकले बच्चों के बारे में कोई ध्यान नहीं रखा गया कि वे आए है या नहीं आए। अध्यापक-अध्यापिकाओं को इस ओर ध्यान देना चाहिए।
पीने के पानी की व्यवस्था नहीं
राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला की इमारत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल परिसर में ही है। प्राथमिक स्कूल में बच्चों के लिए पानी की व्यवस्था नहीं है। यही कारण है कि छोटे बच्चों को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल के गेट की ओर पानी पीने जाना पड़ता है। यहा पर वाटर कूलर लगा है। यहीं से बच्चे रास्ते भटक गए। 
 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

अगवा कर चचेरी बहन से किया दुष्कर्म

भैंसरू खुर्द गांव से एक युवक द्वारा अपनी चचेरी बहन को अगवा कर दुष्कर्म किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपी युवक और उसके साथी के खिलाफ आइपीसी की धारा 376, 366 और 506 के तहत केस दर्ज कर लिया है।
मूल रूप से खरकड़ा निवासी एक युवती की शादी गांव भैंसरू खुर्द में एक वर्ष पहले हुई थी। युवती काफी समय से परिवार सहित दिल्ली के रोहिणी क्षेत्र में रह रही थी। युवती ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि विगत 12 अप्रैल को जब वह भैंसरू में आई हुई थी, तभी उसके चचेरे भाई खरकड़ा निवासी सुनील का उसके पास फोन आया। सुनील ने उसके पिता के बीमार होने की बात कहकर उसे गांव के बस स्टैंड पर बुला लिया। जब वह बस स्टैंड पर पहुंची तो सुनील अपने साथी विकास के साथ जीप लेकर वहां पर खड़ा था। तीनों जीप में बैठकर सांपला पहुंचे जहां विकास जीप से उतर गया। इसके बाद सुनील उसे जबरदस्ती अंबाला, हरिद्वार व अन्य स्थानों पर घुमाता रहा और उससे दुष्कर्म किया। इसके बाद अंबाला से 21 अप्रैल को वे ट्रेन से दिल्ली पहुंचे। वहां पहुंचने पर सुनील को गच्चा देकर युवती ने अपने पिता को फोन करके आपबीती बताई। इस पर परिजन तुरंत वहां पहुंचे और उसे लेकर सांपला थाने आए और शिकायत दी। पुलिस ने आरोपी सुनील और विकास के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज करते हुए उनकी धरपकड़ के प्रयास तेज कर दिए हैं। 
buy mobile, mobile recharge, online recharge, recharge online, free mobile recharge, car insurance calculator, online car insurance, paid search marketing, billing software, 

Aug 8, 2013

तांगा चालाने वाले की बेटी की दास्तां आपको कर देगी सैल्यूट करने को मजबूर! click to read more

 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
यूं तो हॉकी भारत का राष्ट्रीय खेल है लेकिन फिर भी दुनिया में इसे कुछ खास लोकप्रियता नहीं मिल पाई है। इसके बावजूद हॉकी खेलने वालों के उत्साह में कभी कोई कमी नहीं आई। इसका सीधा उदाहरण है रानी। रानी सिर्फ नाम की ही नहीं, हॉकी की दुनिया की भी रानी बन गई है।
हाल ही में रानी रामपाल ने जर्मनी में हुए अंडर 21 बर्ल्ड कप टूर्नामेंट में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट की ट्रॉफी जीती है। भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम की इस खिलाड़ी की कहानी भी उतनी ही दिलचस्प है जितना कि इनका खेल। तो आइए जानते हैं भारत के राष्ट्रीय खेल से दुनिया में अपना लोहा मनवाने वाली इस महिला की बेहद दिलचस्प कहानी-
कोच ने दी थी हॉकी-
रानी का जन्म 1994 में कुरुक्षेत्र में हुआ था। रानी बेहद गरीब परिवार से हैं। रानी के पिता तांगा चलाते हैं। लेकिन रानी को एक नई जिंदगी तब मिली जब उन्होंने 2003 में शाहबाद हॉकी एकेडमी में कोच बल्देव सिंह से खेलने की ट्रेनिंग शुरू की।
गरीब होने की वजह से रानी को अपने सपनों को पूरा करने में बहुत ही परेशानियों का सामना करना पड़ा। एक वक्त ऐसा आया जब घरवालों ने हार मान ली लेकिन रानी ने हार नहीं मानी।
गरीब होने की वजह से रानी को अपने सपनों को पूरा करने में बहुत ही परेशानियों का सामना करना पड़ा। एक वक्त ऐसा आया जब घरवालों ने हार मान ली लेकिन रानी ने हार नहीं मानी।
रानी को ट्रेनिंग करने के लिए घर से दो किलोमीटर दूर जाना पड़ता था। रानी हर रोज यह सफर पैदल ही तय करती थी क्योंकि साइकिल खरीदने के पैसे नहीं थे। कुछ समय बाद पैसों का इंतजाम कर के साइकिल ली। 
रानी का खेल का ये जज्बा देखकर गो स्पोर्ट्स ने रानी की सहायता करने की सोची। रानी को उन्होंने आर्थिक सहायता सहित हर तरह की सहायता दी। 15 साल की छोटी सी उम्र में ही 2010 में रानी वर्ल्ड कप के लिए नेशनल टीम की सबसे छोटी सदस्य बनीं।
रानी फॉर्वर्ड पोजिशन पर खेलने वाली खिलाड़ी हैं। इन्होंने 2009 में रूस में चैंपियंस चैलेंज टूर्नामेंट में 4 गोल कर के भारत को जिताया। वहां पर भी उन्होंने टॉप गोल स्कोरर और यंग प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब हासिल किया।
नवंबर 2009 में हुए एशिया कप में भी भारत की रानी ने अपने जलवे बिखेरे और एक रजत पदक का सम्मान दिलवाया।
कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स में भाग लेने से भी रानी पीछे नहीं रहीं। 2010 में अर्जेंटीनाके वुमेन हॉकी वर्ल्ड कप में सात गोल किए।
 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

बिहार मंत्री का शर्मनाक बयान,'मरने के लिए ही जाते हैं सेना-पुलिस में लोग'

बिहार के ग्रामीण विकास मंत्री भीम सिंह ने गुरुवार को बेहद शर्मनाक बयान बयान देते हुए कहा, 'सेना और पुलिस में लोग मरने के लिए ही जाते हैं.'
जम्मू के पुंछ में शहीद हुए भारतीय सैनिकों के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचने पर भीम सिंह से जब पूछा गया कि राज्य सरकार की तरफ से कोई मंत्री या अधिकारी सैनिकों के अंतिम संस्कार में शामिल क्यों नहीं हुआ तो उन्होंने कहा कि सेना और पुलिस में लोग मरने के लिए ही जाते हैं.
मंत्री ने उल्टे पत्रकार से सवाल पूछा कि क्या आपके पिताजी वहां गए थे. वे भी तो भारत के नागरिक हैं. वे क्यों नहीं गए.
सरकार का कोई प्रतिनिधि नहीं पहुंचा
पाकिस्तानी सेना के हमले में मारे गए पांच भारतीय जवानों में से चार बिहार राज्य से थे. गुरुवार को इन सैनिकों के शव उनके पैतृक गांव पहुंचा था.लेकिन शहीदों के शव जब एयरपोर्ट पर पहुंचे तो उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए राज्य सरकार की ओर से कोई भी नेता, मंत्री या अधिकारी नहीं पहुंचा.
राज्य सरकार की उदासीनता पर तब ज्यादा हंगामा हो गया जब शहीदों के अंतिम संस्कार में भी सरकार का कोई प्रतिनिधि नहीं पहुंचा.

इसके बाद पत्रकारों ने ग्रामीण विकास मंत्री भीम सिंह से राज्य सरकार की उदासीनता को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि सेना और पुलिस में लोग शहादत के लिए ही जाते हैं.

इससे पूर्व पाक सैनिकों के हमले में शहीद हुए भारतीय सैनिकों का उनके पैतृक गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया.

इस बीच आज सुबह पाक हमले में अपनी जान गंवाने वाले बिहार के चार सपूतों और मराठा रेजीमेंट एक जवान का अंतिम सरकार कर दिया गया. लेकिन अंतिम सरकार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के उपस्थित न होने के कारण उन्हें निंदा का शिकार होना पड रहा है.
बिहार के पूर्व मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा कि जिस तरह का व्यवहार सरकार शहीदों के साथ कर रही है, उसका बदला जनता उनसे लेगी. वहीं राजद नेता रामकृपाल यादव ने कहा कि इस तरह का बयान कोई पागल नेता ही दे सकता है.
हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश इस समय दिल्ली में हैं और उन्होंने फोन पर मंत्री भीम सिंह को फटकार लगाई. इलके बाद मंत्री ने अपने दिये बयान पर माफी मांग ली है.

रैगिंग से परेशान छात्रा ने की आत्महत्या, चार छात्राओं पर मामला दर्ज

 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
मध्य प्रदेश के भोपाल के आरकेडीएफ महाविद्यालय में बी फार्मा की द्वितीय वर्ष की एक छात्रा ने रैगिंग से परेशान होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.
पुलिस सूत्रों के अनुसार पीएंडटी चौराहे के समीप जीवन विहार सोसायटी में रहने वाली छात्रा अनीता शर्मा ने अपने घर के कमरे में बुधवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वह आरकेडीएफ महाविद्यालय में बी फार्मा के सेकेंड ईयर की छात्रा थी.
सूत्रों के अनुसार अनीता ने अपने पीछे छोड़े सुसाइड नोट में कॉलेज की चार छात्राओं पर लगातार एक साल से ली जा रही रैगिंग को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इन लड़कियों द्वारा उनकी बात नहीं मानने पर चेहरे पर तेजाब फेंकने और दुष्कर्म करवाने की धमकी दी जा रही थी.
दूसरी तरफ महाविद्यालय प्रबंधन का कहना है कि अनीता ने कभी भी प्रबंधन के सामने रैगिंग की शिकयत नहीं की. यदि उसने शिकायत की होती तो उसकी परेशानी दूर हो जाती.
पुलिस ने चार छात्राओं दीप्ति, निधि, दिव्यांशी, कीर्ति और एक टीचर मनीष के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने इसके खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज किया है.
गुरुवार सुबह प्रदेश के गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता अनीता शर्मा के घर पहुंचे और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया.
मृतक छात्रा के परिजनों ने चेतावनी दी है कि अगर दोषियों को बख्शा गया तो सामूहिक आत्महत्या कर लेंगे.
उधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस मामले में कड़ा रुख अख्तियार किया है और कहा है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.
सूत्रों के अनुसार अनीता ने अपने सुसाइड नोट में कॉलेज की कुछ लड़कियों पर वहीं के छात्रों से गलत संबंध बनाने का दबाव डालने का आरोप लगाया था.
पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस ने कहा कि अगर जांच में कोई दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.
 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

कन्नौज जेल पर कैदियों का कब्जा Click Here To Read bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan

 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan
जेल मंत्री राजेन्द्र चौधरी के कन्नौज जेल में अनियमितता की जांच का आश्वासन देने के बाद से वहां के हालात और खराब हो गए हैं। कल एक बंदी ने जेल प्रशासन की पिटाई से क्षुब्ध होकर बैरक के बाहर बने शौचालय में फांसी लगा ली। उसे जिला अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद जेल में गुस्साए कैदियों ने बंदी रक्षकों पर पथराव किया। देर रात तक कैदी जेल की छत पर चढ़कर जेल प्रशासन के खिलाफ नारे लगाते रहे। स्थिति काबू करने के लिए कई जिलों से अतिरिक्त पुलिस फोर्स बुलानी पड़ी।
कन्नौज के जलालाबाद क्षेत्र के अनौगी में स्थित जिला जेल में बैरक नंबर तीन में कन्नौज के तेहरी पुरवा, चंदौली थाना ठठिया का कमलेश (48) गैरइरादतन हत्या के आरोप में बंद था। कल सिपाहियों ने किसी बात पर उसकी पिटाई कर दी थी। इससे क्षुब्ध होकर कमलेश रात में फांसी पर झूल गया। कैदियों की जब नजर पड़ी तो हो हल्ला हुआ। कैदियों और बंदी रक्षकों ने उसे फांसी से नीचे उतारा। जेल में तैनात चिकित्सक ने उसकी हालत गंभीर देख जिला अस्पताल भेजा। जब तक उसे जिला अस्पताल लाया जाता, तब उसने दम तोड़ दिया। जिला अस्पताल में तैनात डॉक्टर पीएम यादव ने उसे मृत घोषित कर दिया।
घटना के विरोध में कैदियों ने जेल प्रशासन पर पथराव कर दिया। इसमे कई बंदी रक्षक घायल हो गए। देर रात तक जेल में उपद्रव होता रहा। उपद्रव की जानकारी होने जिलाधिकारी रूपेश कुमार, पुलिस अधीक्षक हरिनारायण सिंह समेत आला अधिकारी पहुंचे। जेल में हालत नियंत्रण से बाहर होने पर पुलिस फोर्स और पीएसी बुलानी पड़ी। बंदियों ने जेल की छतों पर चढ़कर जेल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
 bad credit payday loans, long term loans, debt consolidation, debt consolidation loans, debt consolidation loan