" " Live Hindi News from Haryana, Property Investment is Better: delhi
Showing posts with label delhi. Show all posts
Showing posts with label delhi. Show all posts

Sep 12, 2013

दिल्ली गैंगरेपः 'मैं बेहोश हो जाती, वे मुझे और मारते'

बिटिया ने जो झेला वह भयावह था, इतना कि सुनकर ही रूह कांप उठे। चलती बस में दरिंदे एक घंटे तक वहशीपन की तमाम हदें पार करते रहे, लेकिन उसकी चीखें बस के काले शीशों के बाहर नहीं जा सकीं।

घटना के बाद दिए बयान में उसने दिल को चीर डालने वाली आपबीती इस तरह बयां की।

मैं साकेत के सेलेक्ट सिटी मॉल से ‘लाइफ ऑफ पाई’ फिल्म देखकर लौट रही थी। हमने वहां से एक ऑटो लिया और मुनिरका पहुंच गए। यहां हमने एक सफेद बस देखी।

बस का कंडक्टर आवाज लगा रहा था कि बस पालम और द्वारका जा रही है। मुझे भी उसी तरफ जाना था। मैं और मेरा मित्र बस में बैठ गए। हमने 20 रुपये में टिकट लिया।

मैंने देखा कि बस में छह-सात लोग बैठे हैं। मुझे लगा कि सभी यात्री हैं। बस में पीले पर्दे और लाल रंग की सीटें थीं। बस की खिड़कियां बंद थीं और उन पर काले शीशे थे। 

हम बाहर तो देख सकते थे, लेकिन बाहर से अंदर कुछ नहीं दिख सकता था। मैंने बस में बैठे दूसरे लोगों की ओर देखा तो मुझे कुछ शक हुआ, लेकिन तब तक हम टिकट ले चुके थे और बस चल चुकी थी। 

पांच मिनट बाद ही कंडक्टर ने बस का गेट बंद कर दिया और लाइट बंद कर दी। उनमें से तीन-चार ने मेरे मित्र को पकड़ लिया, बाकी मुझे खींचकर पीछे की सीट पर ले गए।

उन्होंने मेरे कपड़े फाड़ डाले और दुष्कर्म किया। इस दौरान उन्होंने लोहे की रॉड से मुझे खूब पीटा और कई जगह काटा भी। छह दरिंदों ने एक-एक कर दुष्कर्म किया और उनमें से एक ने लोहे की रॉड मेरे अंदर डाल दी।

फिर एक ने मेरे शरीर में हाथ डालकर मेरे अंग बाहर निकाल दिए। वह चलती बस में मुझे एक घंटे तक यातनाएं देते रहे। मैं बार-बार बेहोश हो जाती, वे मुझे होश में लाने के लिए और मारते।

मेरे मित्र को भी रॉड से पीटा गया। बाद में उन्होंने हमारे कपड़े उतारकर हमें मरा समझकर सड़क पर फेंक दिया। उन्हें फांसी की सजा मिलनी चाहिए, ताकि फिर किसी लड़की के साथ ऐसा नहीं हो। उन्हें 

Aug 7, 2013

पत्नी के साथ पिता कर रहा था सेक्स, देखकर उसके सिर सवार हुआ खून

बेटे के हमले से गंभीर रूप से घायल पिता अस्पताल में भर्ती था, लेकिन उसकी हत्या करने के लिए बेटा बंदूक लिए हुए नंगे पैरों यहां भी आ पहुंचा। वह हर हालत में अपने बाप को जाने से मारना चाहता था। उसका कहना था कि उसकी पूरी दुनिया उजड़ गई है। उसका इस दुनिया में एक ही काम बचा है, वह है कुकर्मी बाप को जान से मारना।
पुलिस ने इस व्यक्ति को अस्पताल से पिता के साथ मारपीट करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार टिमोथी जॉन ब्रेवर कोई साधारण आदमी नहीं, बल्कि अमेरिका के उटाह के शेरिफ का डिप्टी है। अस्पताल में घायल पिता फायर विभाग में एक बड़ा अधिकारी है।
अपने पिता को घायल करने के बाद उसकी हत्या करने पर आमदा बेटे टिमोथी का कहना है कि पिता कुकर्मी है और मैं उसे जान से मारना चाहता हूं। वह मेरी पत्नी से साथ सेक्स कर रहा था। और मैंने उसे रंगेहाथ पकड़ा है।
अमेरिकी समाज में हाईप्रोफाइल परिवारों में गिरते पारिवारिक मूल्यों की यह की कड़वी सच्चाई है।
शेरिफ के डिप्टी टिमोथी जॉन ब्रेवर  को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उस पर आरोप है कि जब टिमोथी जॉन ब्रेवर ने पिता को अपनी पत्नी के साथ सेक्स करते देखा तो बाप की जमकर धुनाई की। उसने फायर चीफ वेसले कोर्की ब्रेवर पर पत्थरों से भी वार किए हैं। घायल पिता को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया है। इसके बाद टिमोथी अपने पिता को जान से मारने के लिए गन लेकर अस्पताल भी पहुंचा, जहां पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।
live news, hdfc, finance, auto loan, credit card, debit card, ebay, jabong, free, shopping, bike, car, earn, comedy, news

Aug 1, 2013

फरीदाबाद में झूठी शान के लिये एक की हत्या rohtak News live

दिल्ली से सटे फरीदाबाद में झूठी शान के लिये एक लड़के को दबंगों ने पीट पीटकर मार डाला और फिर उसके शव को थाने के सामने फेंक कर फरार हो गये.
पुलिस ने लड़के के परिजनों की शिकायत पर लड़की के घरवालों और गांव के सरपंच समेत 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लड़की के पिता और सरपंच को गिरफ्तार कर लिया है.
पुलिस प्रवक्ता के अनुसार खेड़ीकलां निवासी पवन ने पुलिस में शिकायत दी कि वह शादियों में घोडी बग्गी चलाने का काम करता है. उसका छोटा भाई 16 वर्षीय राहुल आठवीं कक्षा में गांव के ही सरकारी स्कूल मे पढ़ता है. राहुल का गांव के ही रहने वाले लीले की पुत्री से प्रेम हो गया था .
पवन ने बताया कि बाद में राहुल अपनी कथित प्रेमिका के साथ भाग कर अपनी बहन के घर पहुंच गया . इसकी जानकारी जब लडकी के परिजनों को लगी तो वे इस लड़की को वहां से ले आये लेकिन राहुल दिल्ली चला गया . जब राहुल को वापस फरीदाबाद लाया जा रहा था तो लड़की पक्ष के लोग उसे पूछताछ के बहाने अपने साथ ले गए जहां उसकी हत्या कर दी गई और उसके शव को थाने के सामने फेंक दिया.
झूठी शान के लिये इस हत्या पर पुलिस ने मृतक के परिजनों की शिकायत पर लीले, कमल, अशोक, सतपाल, बादल, महेश, साहब सिह, मनोज, महीपाल, श्याम तथा गांव के सरपंच समेत 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लड़की के पिता और सरपंच को गिरफ्तार कर लिया है.

करनाल और हिसार में बनेंगे दो नए हवाई अड्डे

Rohtak News
हरियाणा को जल्द ही दो नए हवाई अड्डे मिलने वाले हैं. केंद्र सरकार ने करनाल और हिसार में ऐसे दो हवाई अड्डों की स्थापना के प्रस्ताव को सैद्धांतिक रूप से मंजूरी प्रदान कर दी है.
मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने इन हवाई अड्डों के लिए सैद्धांतिक रूप से मंजूरी प्रदान कर दी है जिसके लिए सहमति पत्र पर जल्द ही हस्ताक्षर किए जाएंगे.’’
हरियाणा के मुख्य सचिव पीके चौधरी द्वारा बुधवार को नागर विमानन मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात के बाद यह मंजूरी मिली है.
हरियाणा ने हिसार, भिवानी, नारनौल, करनाल और पिंजौर में पांच हवाई अड्डों की स्थापना के लिए आवेदन किया था, जिनमें से हिसार और करनाल के लिए मंजूरी मिली.

Jul 31, 2013

टीवी सीरियल 'जोधा अकबर' के खिलाफ प्रदर्शन





Rohtak News Live

हरियाणा के अंबाला में राजपूत बिरादरी के लोगों ने टीवी सीरियल जोधा अकबर के खिलाफ प्रदर्शन किया.
मुगल शासक अकबर पर आने वाले टेलीविजन सीरियल में ‘तथ्यों को तोड़ मरोड़कर’ पेश करने के खिलाफ राजपूत बिरादरी के लोगों ने सोमवार को अंबाला हिसार राष्ट्रीय राजमार्ग बंद कर दिया जिससे यात्रियों को भारी परेशानी हुई.
राजपूत सभा और राजपूत यूथ ब्रिगेड के कार्यकर्ताओं ने टेलीविजन सीरियल ‘जोधा अकबर’ में यह दिखाने पर कि मुगल शासक की शादी राजपूत राजकुमारी जोधा से हुई, के खिलाफ प्रदर्शन किया.
राजपूत सभा के अध्यक्ष रामबीर चौहान और यूथ ब्रिगेड के नेता जतिंदर राणा ने कहा, ‘‘किसी भी पुस्तक या ऐतिहासिक दस्तावेज में यह स्थापित नहीं हुआ है कि अकबर की जोधा से शादी हुई थी.’’

विक्षिप्त नाबालिग से दो शिक्षकों ने बार-बार किया बलात्कार

Rohtak News Live
हरियाणा के भिवानी जिले में 15 वर्षीय विक्षिप्त लड़की से उसके स्कूल के दो शिक्षकों ने कई महीने तक बलात्कार किया.
मामला प्रकाश में आने के बाद सरकारी स्कूल के बाहर क्षुब्ध ग्रामीणों ने प्रदर्शन किए.
पुलिस सूत्रों ने कहा कि लड़की से पिछले कई महीने से दो शिक्षकों ने कई बार बलात्कार किए और दो नर्स की सहायता से आरोपियों ने उसका गर्भपात भी कराया.
उन्होंने कहा कि गर्भपात के बाद पीड़िता को समस्या आने के बाद मामला प्रकाश में आया.
लड़की के परिजनों ने दुधवा गांव के निवासियों के साथ बुधवार को स्कूल के बाहर प्रदर्शन किए और मुख्य दरवाजे को बंद कर दिया.
पीड़िता के परिजनों और ग्रामीणों को शांत कराने में पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी जो आरोपियों के खिलाफ कड़े दंड की मांग कर रहे थे.
भिवानी के पुलिस अधीक्षक मिथिलेश जैन ने बताया, ‘‘आरोपियों के खिलाफ हमने मामला दर्ज कर लिया है और जांच जारी है. उन्हें अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है और उनको पकड़ने के लिए हमारा प्रयास जारी है.’’
दोनों आरोपी शिक्षकों में से एक पीटीआई है.

पलवल में मिड डे मील में मिले कीड़े, छात्रों ने किया हंगामा



Rohtak News Live
पलवल में शुक्रवार सवेरे रेलवे कालोनी के स्कूल में मिड डे मील में कीड़े-मकोड़े और मक्खी-मच्छरों की खीर देख बच्चों ने हंगामा मचाया.
पलवल में मिड-डे मील में मिली छिपकली के बाद भी लगता है कि इस्कान फूड रिलीफ फाउंडेशन की कार्य प्रणाली में कोई सुधार नहीं आया है. शुक्रवार सवेरे रेलवे कालोनी के स्कूल में कीड़े-मकोड़े और मक्खी-मच्छरों की खीर देख बच्चों ने हंगामा मचाया. स्कूल के हेडमास्टर किशन सिंह ने मामले से खंड शिक्षा अधिकारी रमेशचन्द शर्मा को अवगत करवाया.
स्कूली बच्चे खीर देख खुश हो गए. लेकिन उनकी खुशी चन्द मिनटों में ही आक्रोश में बदल गई. छात्रों ने देखा की खीर में मक्खी, मच्छर, कीड़े और मकोड़े पड़े हुए हैं. सड़ी हुई खीर देख बच्चों ने खाने से मना कर दिया. स्कूल के मास्टर ने सभी बच्चों से खीर वापस लेकर टब में डाल दी. खंड शिक्षा अधिकारी ने खीर भरे टब को कार्यालय लाने के लिए कहा.
इससे पहले कि कीड़े -मकोड़े वाली खीर को शिक्षा विभाग के कार्यालय ले जाकर अस्पताल में सैम्पलिंग कराई जाती उससे पहले इस्कान की गाड़ी खीर को वापस ले गई. घटना की जानकारी मिलने पर स्कूल में पहुंचे पत्रकारों को हेडमास्टर ने बताया कि खीर किसी भी बच्चे को खाने नहीं दी गई. पूरा खाना वापस कर दिया गया.
मामले से शिक्षा विभाग के अधिकारियों को अवगत करवा दिया है. जिन्दे और मरे हुए कीड़े-मकोड़ों से खीर में बदबू बनी हुई थी. सड़ी हुई खीर की जानकारी मिलने पर स्कूल पहुंचे गांव वालों ने भी रोष जताया. छात्रों के अविभावकों ने बताया कि लगता है कि प्रशासन और इस्कान मिड डे मील में मिली छिपकली के बाद भी नहीं जागा है.
कीड़े-मकोड़े, मक्खी-मच्छर को लेकर इस्कान से भी ज्यादा प्रशासन लापरवाह बना हुआ है. छात्रों के अविभावकों का कहना है कि उन्होंने पलवल एसडीएम के फोन पर जानकारी देने के लिए कई बार फोन किया लेकिन वे फोन उठाती ही नहीं. एडीसी इन्द्रपाल बिश्नोई का इससे भी बुरा हाल है.
लगता है कि एसडीएम और एडीसी को न तो छात्रों की चिन्ता है और न अविभावकों की. अविभावकों का कहना है कि यदि अधिकारियों का यही हाल रहा तो मजबूरन उन्हें सख्त कदम उठाने होंगे.

Rohtak News नाबालि‍ग लड़कि‍यां बार में पी रही थीं शराब, साथ में थे 6 लड़के...










गुडग़ांव में जिला प्रशासन की विशेष टीम ने रविवार शाम विपुल अगोरा मॉल स्थित क्लब-18 बार में 9 नाबालिगों को शराब पीते पकड़ा। इनमें 6 लड़के व 3 लड़कियां हैं। बार का चालान कर दिया गया है। छापे के दौरान कुल 25 लोग बार में मौजूद थे। बार का कोई कर्मचारी मौके पर मौजूद नहीं होने के कारण स्टॉक रजिस्टर चेक नहीं किया जा सका। टीम ने साउथ प्वाइंट मॉल स्थित राइनो क्लब, सेवन्थ डिग्री माइक्रो ब्रेवरीज, बज्ज इन व मीडिया कैफे का भी निरीक्षण किया। 
 
14 जुलाई को एमजी रोड स्थित बज्ज इन बार में 100 बच्चों को शराब परोसने का मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने विशेष टीम बनाई है। इस मामले में एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट ने केस बनाकर चंडीगढ़ स्थित विभाग के कलेक्टर को भेज दिया है।

पाकिस्तानियों ने सचिन-गांगुली संग की थी बेहूदगी,क्या जानते हैं आप?

Rohtak News..  भारत और पाकिस्तान के मुकाबले हमेशा रोमांचक होते हैं। इस जंग में कोई भी टीम हारना नहीं चाहती। जितना उत्साह खिलाड़ियों में होता है उससे कई गुना ज्यादा एक्साइटमेंट दर्शकों के अंदर होता है। लेकिन कभी-कभी यही जोश खेल भावना को तार-तार भी कर जाता है।
क्रिकेट वर्ल्ड में पाकिस्तानी मैदानों को खेलने के लिहाज से सबसे खतरनाक माना जाता है। 2009 में श्रीलंकाई टीम पर आतंकी हमले से पहले भी कई बार पाकिस्तान में मेहमान खिलाड़ियों को बदसलूकी झेलनी पड़ी है।
सितंबर 1997 में टीम इंडिया को भी पाकिस्तानियों की बदतमीजी का शिकार होना पड़ा था। लेकिन तब हमारे शेर पीठ दिखाकर भागे नहीं थे, पाकिस्तानियों को सबक सिखाकर ही घर लौटे थे।
30 सितंबर 1997। कराची के नेशनल स्टेडियम में भारत और पाकिस्तान के बीच सीरीज का दूसरा वनडे मुकाबला हो रहा था। मेजबान कप्तान सईद अनवर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। 
ओपनर शाहिद आफरीदी ने कप्तान के साथ मिलकर टीम को अच्छी शुरुआत दी। अनवर के 18 रन बनाकर आउट होने के बाद आफरीदी ने एजाज अहमद के साथ टीम का स्कोर आगे बढ़ाया।
आफरीदी हमेशा की तरह आक्रामक अंदाज में खेल रहे थे। महज 56 गेंदों में 9 चौके व 1 छक्का लगाते हुए उन्होंने 72 रन बना लिए थे। धवल कुलकर्णी ने जब उन्हे आउट किया तो कराची स्टेडियम में बैठे दर्शक उत्तेजित हो उठे।
मैदान पर पाकिस्तानी खिलाड़ी खेल रहे थे तो बाउंड्री पार बैठे दर्शक एक अलग ही तरह के खेल में लगे हुए थे। दर्शकों ने भारतीय फील्डरों पर फब्तियां कसना शुरू कर दीं। गंदी-गंदी गालियां जब भारतीय खिलाड़ियों के कानों में पड़ीं तो उन्होंने इसकी शिकायत फील्ड अंपायरों से की।
अंपायर मियान मोहम्मद असलम और सलीम बदर ने मेहमान टीम के कप्तान सचिन तेंडुलकर की बात मानते हुए मैच रैफरी रंजन मदुगले को दर्शकों के व्यवहार से अवगत करवाया।
चेतावनी मिलने के बाद दर्शक कुछ देर तक तो शांत बैठे, लेकिन इंजमाम उल हक की बल्लेबाजी ने उनके जोश को फिर से दोगुना कर दिया। इंजमाम मोइन खान के साथ मिलकर टीम का स्कोर 300 पार पहुंचाने की तैयारी कर रहे थे।

48वें ओवर में दर्शकों ने अपनी सीमाएं लांघते हुए सौरव गांगुली पर पत्थर फेंका। सौरव चुप रहने वालों में से नहीं थे। उन्होंने तुरंत इसकी शिकायत अंपायरों से की।
 वें ओवर तक पाकिस्तान 4 विकेट पर 265 रन बना चुका था। तभी कप्तान सचिन तेंडुलकर ने वॉकआउट करने का फैसला सुना दिया। अपने खिलाड़ियों के साथ हो रही उस बदसलूकी से सचिन बहुत नाराज थे। 
मैच रैफरी मदुगले ने उनसे पूछा कि क्या वे मैच आगे खेलना चाहते हैं? सचिन ने मैदान छोड़ने की जगह पत्थर का जवाब बल्ले से देने की ठानी। उन्होंने कहा कि उनकी टीम बल्लेबाजी करेगी।

कप्तान सचिन सौरव गांगुली के साथ ओपनिंग के लिए उतरे। दोनों बल्लेबाजों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए पहले विकेट के लिए 71 रन जोड़ लिए।
अजहर महमूद ने सचिन को तो 21 रन के स्कोर पर आउट करने में सफलता हासिल कर ली, लेकिन गांगुली डटे रहे।
गांगुली ने विनोद कांबली के साथ मिलकर मैच विनिंग साझेदारी निभाई। दोनों बल्लेबाजों ने दूसरे विकेट के लिए 98 रन जोड़े।गांगुली ने 11 चौके लगाते हुए 96 गेंदों में 89 रन बनाए। कांबली ने भी अपना कमाल दिखाते हुए 7 चौकों से सजी 53 रन की पारी खेली।
इन दोनों धुरंधरों के आउट होने के बाद रॉबिन सिंह ने सबा करीम के साथ मिलकर टीम को जीत दिलाई। पाकिस्तान द्वारा दिए 266 रन के टार्गेट को भारतीय टीम ने 3 गेंदें शेष रहते ही हासिल कर लिया। 
उस 4 विकेट की जीत ने यह दिखा दिया कि टीम इंडिया किसी भी परिस्थिति में खेल सकती है। भारतीय टीम के अलावा यदि किसी और टीम पर पत्थरबाजी हुई होती तो शायद वे मैच आगे खेलने से ही इंकार कर दिए। लेकिन सचिन और गांगुली ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने वॉकआउट भी किया और मैच जीतकर पाकिस्तान को करारा जवाब भी दे दिया।
सौरव गांगुली को किफायती गेंदबाजी और 89 रन की मैच विनिंग पारी के लिए मैन ऑफ द मैच दिया गया।

Jul 26, 2013

December 16 gang-rape case: Verdict on juvenile accused deferred till August 5

NEW DELHI: The verdict in theDecember 16 gang rape case involving a minor was on Thursday deferred to August 5 by the juvenile justice board (JJB).The JJB presided over by principal magistrate Geetanjali Goel postponed the verdict for August 5 considering the fact that the Supreme Court is seized of a petition concerning the interpretation of the term "juvenile", counsel for the accused Rajesh Tiwari said.He also said that the sentence (dispositional order) in the robbery case, in which the juvenile has already been held guilty by the JJB, has also been deferred to August 5.The JJB's order was put off in the light of the plea of Janata Party president Subramanian Swamy for a fresh interpretation of the term 'juvenile' which he raised in the wake of the December 16 incident in which a 23-year-old was brutally gangraped and assaulted in a moving bus in south Delhi. She died in a Singapore hospital on December 29.Agreeing to hear his plea, the Supreme Court had on July 23 asked Swamy to inform the JJB about his pending petition in the apex court.